Category Archives: आओ सीखें

भारतीय वायुसेना भर्ती 2018 – 182 AFCAT Indian Air Force Recruitment 2018

इंडियन एयर फ़ोर्स भर्ती 182 AFCAT Entry, NCC Special Entry & Meteorology Branch Recruitment 2018

भारतीय वायुसेना भारतीय वायुसेना 182 एएफसीएटी एंट्री, एनसीसी स्पेशल एंट्री एंड मौसम विज्ञान शाखा पदों पर भर्तियां – इंडियन एयर फ़ोर्स (Indian Air Force) ने एएफसीएटी एंट्री, एनसीसी स्पेशल एंट्री एंड मौसम विज्ञान शाखा पदों के लिए 182 पदों की भर्ती अधिसूचना जारी की है. योग्य व इच्छुक उम्मीदवार अंतिम तिथि से पहले ऑनलाइन आवेदन कर सकते है.

भारतीय वायुसेना 182 एएफसीएटी एंट्री, एनसीसी स्पेशल एंट्री एंड मौसम विज्ञान शाखा Indian Air Force Recruitment – 182 Post

रिक्त पदों का नाम (Name of Vacancies) –

  1. एएफसीएटी एंट्री
  2. मौसम विज्ञान शाखा भर्ती

रिक्त पदों की संख्या (Number of Vacancies) – 182 पद

  1. एएफसीएटी एंट्री-158
  2. मौसम विज्ञान शाखा भर्ती-24

शैक्षिक योग्यता (Educational Qualification) – उम्मीदवार को किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक, बी टेक, पॉट ग्रेजुएट पास होना अनिवार्य है.

आयु सीमा (Age Limit) –

  1. एएफसीएटी एंट्री- 20- 24 years
  2. मौसम विज्ञान शाखा – 20-26 Years

चयन प्रक्रिया (Selection Process) – उम्मीदवार का चयन लिखित परीक्षा, शारीरिक परीक्षण के आधार पर किया जायेगा.

आवेदन शुल्क (Application Fee) –

  1. एएफसीएटी एंट्री AFCAT Entry-250
  2. मौसम विज्ञान शाखा Meteorology Branch- No fees

डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग, आईएमपीएस, कैश कार्ड / मोबाइल वॉलेट के माध्यम से परीक्षा शुल्क का भुगतान करें।

आवेदन करने का तरीका (How to Apply) – इच्छुक उम्मीदवार 17 जुलाई 2018 से पहले ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

ऑनलाइन आवेदन करने के लिए निर्देश (Instructions to Apply Online) –

  1. उम्मीदवार इंडियन एयर फ़ोर्स भर्ती 182 AFCAT भर्ती (182 AFCAT Entry, NCC Special Entry & Meteorology Branch) के माध्यम से लॉग ऑन करें.
  2. उम्मीदवार वेबसाइट पर दिए गए निर्देशों को ध्यान पूर्वक पढ़ें. पूर्ण जानकारी के साथ ऑनलाइन फार्म भरें।
  3. सभी योग्यता प्रमाण पत्र डिग्री कि स्कैन होना चाहिए.
  4. आवेदन करने से पहले उम्मीदवार पासपोर्ट साइज कलर फोटो और हस्ताक्षर को स्कैन करा के रख ले.
  5. उम्मीदवार ऑनलाइन आवेदन फार्म के प्रिंट आउट की एक फोटो कॉपी अपने पास रख ले.

महत्वपूर्ण तिथियाँ –

ऑनलाइन आवेदन जमा करने की प्रथम तिथि – 16 जून 2018

ऑनलाइन आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि – 15 जुलाई 2018

नौकरी स्थान (Job Location) – ऑल इंडिया

ऑनलाइन आवेदन 

आवेदन का पूर्ण विवरण तथा जानकारी 

इस नौकरी की अधिक जानकारी आप इसकी साइट के द्वारा भी प्राप्त कर सकते है.

FAQ_

भारतीय वायुसेना भर्ती 2018 से सम्बंधित प्रश्न –

प्रश्न – भारतीय वायुसेना भर्ती एएफसीएटी एंट्री पदों के लिए कितने रिक्त पद है?

उत्तर – इंडियन एयर फ़ोर्स एएफसीएटी एंट्री पदों के लिए रिक्त पदों की संख्या 158 है.

प्रश्न- भारतीय वायुसेना भर्ती मौसम विज्ञान शाखा पदों के लिए कितने रिक्त पद है?

उत्तर – इंडियन एयर फ़ोर्स मौसम विज्ञान शाखा पदों के लिए रिक्त पदों की संख्या 24 है.

प्रश्न –  इंडियन एयर फ़ोर्स एएफसीएटी एंट्री पदों के लिए शैक्षिक योग्यता क्या होनी चाहिए?

उत्तर – इंडियन एयर फ़ोर्स एएफसीएटी एंट्री पदों के लिए उम्मीदवार का स्नातक, बी टेक, पॉट ग्रेजुएट पास होना अनिवार्य है.

प्रश्न – इंडियन एयर फ़ोर्स मौसम विज्ञान शाखा पदों के भर्ती के लिए आयु सीमा कितनी होनी चाहिए?

उत्तर –  – इंडियन एयर फ़ोर्स मौसम विज्ञान शाखा पदों की भर्ती के लिए न्यूनतम आयु 20 वर्ष तथा अधिकतम आयु 26 वर्ष होनी चाहिए.

Question – How to apply for AFCAT Entry post in Indian Air Force?

Answer – Candidates can apply online for AFCAT Entry Post in Indian Air Force.

Question – What is the selection process of AFCAT Entry Post and Meteorology Branch Exam?

Answer – The candidate will be selected on the basis of written examination, physical examination.

Question – what is the education qualification for AFCAT Entry Post in Indian Air force Exam?

Answer – The candidate must have a Graduate, B Tech, Pot Graduate from a recognized institution.

How to Choose Right Career सही करियर का चुनाव कैसे करे

Easy Tips Choosing Right Career सही करियर का चुनाव

How to Choose Right CareerHow to Choose Right Career- हर किसी के लिए उसका करियर बहुत ही महत्वपूर्ण होता है. लाइफ में सफलता प्राप्त करने के लिए सही करियर का चुनाव करना बहुत जरूरी होता है. अगर आपको करियर में सही  मार्गदर्शन (Career Guidance) मिल जाय तो आप अपना करियर सवार सकते है. वही करियर को लेकर लिया एक गलत फैसला करियर बर्बाद भी कर सकता है. इसीलिए जीवन में सही करियर का चुनाव करना बहुत जरूरी हो जाता है. अगर आपको भी करियर को लेकर किसी तरह की कोई परेशानी है या करियर का चुनाव करने में कोई समस्या आ रही है तो हम आपको बताएँगे की आप अपने लिए सही करियर का चुनाव किस तरह से कर सकते है.

अपने करियर की अच्छी तरह से प्लानिंग करे Planning For How to Choose Right Career

अगर आप अपने करियर का सही चुनाव करना चाहते है तो इसके लिए आपको जरूरत है उचित मार्गदर्शन की और अपने करियर की सही प्लानिंग की, सबसे पहले तय कर ले की आपको किस फील्ड में अपना करियर बनाना है और उस फील्ड से सम्बंधित हर तरह की जानकारी प्राप्त करे.

दूसरों की मदद लें Get Help From Others Choose Right Career

करियर का चुनाव करते समय दूसरों की सलाह लेना ना भूले. जब भी अपने लिए करियर का चुनाव करना हो तो अपने से बड़े और शिक्षित लोगो से सलाह लेनी चाहिए. अपने टीचर, परिवार के लोग और मित्रों से मदद आपके करियर के मार्गदर्शन में लाभकारी साबित हो सकती है. सही करियर का चुनाव करने में आप जितना ज्ञान दूसरों से लेंगे उतनी सफलता आपके करियर को मिलेगी.

Job after 10th pass 

इंट्रेस्ट के अनुसार करियर चुने Careers Choose According Your Interests

प्रत्येक व्यक्ति का अपना इंट्रेस्ट होता है सही करियर का चुनाव करने में व्यक्ति का इंट्रेस्ट उसकी पसंद बहुत मायने रखती है. अगर आप अपने लिए सही करियर का चुनाव करना चाहते है तो अपनी पसंद को जरूर ध्यान में रखे. पहले जान ले की आपका इंट्रस्ट किस सब्जेक्ट में है उसके बाद अपने करियर पर फोकस करे और पूरे आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़े.

जो करना चाहते है पूरे उत्साह से करे Do Whatever You Want with Confidence

आप जो भी करना चाहते है या जिस क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है उसे पूरे कॉन्फिडेंस के साथ करे अगर आपके अंदर उत्साह होगा तो आप काम को आसानी से कर पाएंगे. आप जिस क्षेत्र में करियर बनाना चाहते है उसमें पूरे आत्मविश्वास के साथ लग जाय.

How to become a nurse 

करियर के लिए रिस्क लेने से ना डरे take Risk For Choosing Career  

अपना करियर बनाएं और उसमें सफल होने के लिए किसी भी तरह के रिस्क से नहीं घबराना चाहिए. सही समय के इंतज़ार में ना बैठकर करियर को पाने में लग जाय जीवन में सफलता वही प्राप्त करता है जो हर समय सफलता प्राप्त करने के लिए दिन रात लगा रहता है.

FAQ_

प्रश्न- सही करियर का चुनाव कैसे करे?

उत्तर- सही करियर का चुनाव करते समय अपने इंट्रेस्ट के सब्जेक्ट को अवश्य ध्यान में रखना चाहिए.

प्रश्न- अपने लिए सही करियर का चुनाव करते समय किन बातों को ध्यान में रखे?

उत्तर- करियर का चुनाव करते समय दूसरों की सलाह लेना ना भूले. जब भी अपने लिए करियर का चुनाव करना हो तो अपने से बड़े और शिक्षित लोगो से सलाह लेनी चाहिए. अपने टीचर, परिवार के लोग और मित्रों से मदद आपके करियर के मार्गदर्शन में लाभकारी साबित हो सकती है.

Question- How to choose right career hindi tips?

Answer- Access yourself, plan for your career, create a list and focus on your goal.

Question- How to choose a career after high school?

Answer- If you want to make the right choice of your career so you need proper guidance for it. Plan your career Decide which field you want to make your career And get all kinds of information related to that field.

आरटीओ ऑफिसर कैसे बने How to become a RTO Officer Inspector

आरटीओ ऑफिसर बनने की पूरी जानकारी RTO Inspector  Scope and Opportunities in Hindi

आरटीओ ऑफिसर आरटीओ ऑफिसर कैसे बने- कोई भी सरकारी अधिकारी बनने के लिए आपको उसके अनुसार मेहनत भी करनी पडती है क्योंकि बिना मेहनत किये कुछ भी नही पाया जा सकता है| आज कल सभी लोगो की यही इच्छा रहती है कि वह कोई भी सरकारी नौकरी प्राप्त करे| आवेदन करने के इच्छुक उम्मीदवार इस पद के लिए (opportunities) निर्धारित शैक्षणिक योग्यता एवं अन्य अर्हताओं की पूर्ति करते हों (quality training and assessment services), वे निर्धारित समय-सीमा वाले ही अपना आवेदन  कर सकते है| यहाँ पर RTO Officer कैसे बने? इसके बारे में बताया जा रहा है| जिससे आपको इसके बारे में काफी मदद मिल सकेगी| RTO Officer की नौकरी काफ़ी अच्छी मानी जाती है और इसमें अपना खुद का नाम भी होता है, साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिलती है| योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता है|

आरटीओ ऑफिसर क्या है? What is a RTO Officer

क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय या क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण (आरटीओ / आरटीए) भारतीय सरकार का संगठन है जो ड्राइवरों के डेटाबेस को बनाए रखने और भारत के विभिन्न राज्यों के लिए वाहनों के डेटाबेस को बनाए रखते है उन्हें आरटीओ ऑफिसर कहते है| जैसे- कही भी सड़क पर देख लीजिये चारों तरफ गाड़िया ही गाड़िया नज़र आती है और इसके लिए ही पंजीकरण भारतीय सरकार के एक विभाग से होती है|

आयकर अधिकारी कैसे बने

जिसे क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (Regional Transport Office) जिसे हिंदी में आरटीओ कहा जाता है|

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for RTO Inspector

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से 10वी पास की हुई होनी चाहिए और साथ ही high post के लिए ग्रेजुएट (Graduation) पास किया हुआ होना आवश्यक हैं और आरटीओ अधिकारी के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकते है|

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए उम्र सीमा Age limit for RTO Officer Requirement

आरटीओ अधिकारी (RTO Officer) बनने के लिए उम्र सीमा लगभग 21 से 30 साल तक के बीच में होनी चाहिए और OBC उम्मीदवारों के लिए 3 साल की छुट और SC / ST उम्मीदवारों के लिए 5 साल की छुट मिलती है|

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए चयन प्रक्रिया Selection Process for RTO Officer job-

आरटीओ अधिकारी के लिए उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाता है जैसे-

  1. लिखित परीक्षा (Written Exam)
  2. फिजिकल टेस्ट (Physical test)
  3. साक्षात्कार (Interview)

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए लिखित परीक्षा RTO Officer Written Exam-

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए लिखित परीक्षा 2 घंटे की होती है और पेपर अधिकतम 200 अंक का आता है और साथ ही प्रश्न ऑब्जेक्टिव टाइप (MCQ) के पूछे जाते है| इस पाठ्यक्रम में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय वर्तमान घटनाक्रम, भारत का इतिहास, भूगोल, आर्थिक और सामाजिक विकास, पर्यावरण पारिस्थितिकी, सामान्य विज्ञान, तार्किक तर्क और अंग्रेजी भाषा से परीक्षा में प्रश्न पूछे जाते है|

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए फिजिकल टेस्ट RTO Officer Physical test-

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए फिजिकल टेस्ट होता है| जिसमे आपको फिजिकल फिट रहना अति आवश्यक है|

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए साक्षात्कार RTO Officer Interview

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए अंतिम चरण में साक्षात्कार (Interview) होता है, जिसमें उनकी बुद्धि, क्षमताओं, गुणों और मूल्यों के मामले में उम्मीदवार के व्यक्तित्व  के बारे में जाचा जाता है|

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए तैयारी करे Pattern tips for RTO Officer Exams-

(आरटीओ ऑफिसर) क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय की परीक्षा की तैयारी के लिए, उम्मीदवार को सभी करंट अफेयर्स के बारे में पता होना चाहिए| प्रतियोगी की जनरल अवेयरनेस अच्छी होनी चाहिए| समाचार पत्रों को नियमित रूप से पढ़ना चाहिए जिसे परीक्षा में मदद मिल सकेगी| उम्मीदवारों को अंग्रेजी, जी.के. और मूल गणित आदि में अच्छा ज्ञान होना चाहिए क्योंकि पूरी परीक्षा इन विषयों और इसके बाद चयन और साक्षात्कार पर आधारित होती है|

आरटीओ ऑफिसर की सैलरी RTO Officer Department Salary-

आरटीओ अधिकारी के वेतन में कई रैंक शामिल हैं, जो कि उनकी रैंकों के अनुसार अलग-अलग होते है| साथ ही आरटीओ अधिकारियों की सैलरी काफी अच्छी मानी जाती है| आरटीओ ऑफिसर  की सैलरी लगभग ₹20,000 से ₹40,000 तक के बीच में होती है|

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए आवेदन  Application form for RTO Officer-

आरटीओ अधिकारी (RTO Officer) बनने के लिए आप इसका आवेदन इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ ही आवेदन कर सकते है|

FAQ-

प्रश्न- आरटीओ अधिकारी के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- आरटीओ अधिकारी के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा लगभग 21 से 30 वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता क्या मागी जाती है?

उत्तर- आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से 10वी पास की हुई होनी चाहिए और साथ ही high post के लिए ग्रेजुएट (Graduation) पास किया हुआ होना आवश्यक हैं| आरटीओ अधिकारी के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकते है|

प्रश्न- आरटीओ ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- आरटीओ ऑफिसर के पदो पर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹20,000 से ₹40,000 तक के बीच में होती है|

Question- What is the full form of RTO?

Answer- The full form of RTO is Regional Transport Office.

Question- What is the RTO?

Answer- The (RTO) Regional Transport Office or Regional Transport Authority (RTO/RTA) is the organization of the Indian government responsible for maintaining a database of drivers and a database of vehicles for various states of India.

Question- What is the selection process of RTO Officer Exam?

Answer- Candidates in the RTO Officer Department will be selected on basis as-

  1. Written Exam
  2. Physical test
  3. Interview

Career courses commerce arts Stream after 12th कॉमर्स आर्ट्स कोर्सेस

12 वीं के बाद आर्ट्स कॉमर्स करियर कोर्स Career Course After 12th Art Stream

Career courses commerce arts Career courses commerce arts बारहवीं के बाद सही करियर कोर्स का चुनाव करना बहुत जरूरी होता है वैसे तो 12 वीं के बाद कॉमर्स और आर्ट्स के स्टूडेंट्स के लिए ऐसे कई करियर कोर्सेस हैं जिनमें एडमिशन लेकर वो बेहतरीन करियर बना सकते है और अपना भविष्य संवार सकते हैं लेकिन इस सबके लिए जरूरत है सही मार्गदर्शन की, कई बार सही मार्गदर्शन ना मिल पाने के कारण छात्रों को कन्फूशन हो जाती है.इसीलिए आज हम आपको बताने जा रहे है कि 12वीं के बाद कॉमर्स और आर्ट्स स्टूडेंट्स के लिए उनके इंटरेस्ट के अनुसार Career courses commerce arts कौन सा करियर कोर्स उनके लिए बेहतर होगा.

होटल मैनेजमेंट Hotel Management Career courses commerce arts After 12th

12 वीं करने के बाद कॉमर्स और आर्ट्स के स्टूडेंट्स के लिए होटल मैनेजमेंट करियर कि दृस्टि से एक बहुत अच्छा ऑप्शन हो सकता है ऐसे बहुत से संस्थान है जो फूड प्रोडक्शन में सर्टिफिकेट कोर्स की बेहतरीन सुविधा देते हैं. होटल मैनेजमेंट के डिप्लोमा पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने के लिए अखिल भारतीय स्तर पर आयोजित की जाती है।होटल मैनेजमेंट का कोर्स करने के बाद छात्र ना केवल शेफ बल्कि होटल उद्योग से जुडे अन्य क्षेत्रों में भी अपने करियर को एक नयी  दिशा प्रदान कर सकते है.  कैसे करे होटल मैनेजमेंट परीक्षा की तैयारी होटल मैनेजमेंट और कैटरिंग के फील्ड में रुचि रखने वाले छात्रों के लिए होटल मैनेजमेंट करियर कोर्स अच्छा चुनाव हो सकता है.

स्टॉक ब्रोकर Stock Broker Course After 12th

12 वीं के बाद स्टॉक ब्रोकर कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए बेहतर करियर ऑप्शन है. जो छात्र स्टॉक ब्रोकर बनाना चाहते है उन्हें कम से कम वाणिज्य विषय में स्नातक पास होना चाहिए. जिन स्टूडेंट्स को वित्त, व्यापार, अर्थशास्त्र, कैपिटल मार्केट और अकाउंट जैसे विषयों की अच्छी समझ है ऐसे स्टूडेंट्स के लिए स्टॉक ब्रोकर के क्षेत्र में करियर की शुरुआत अच्छा चुनाव हो सकता है.

फैशन डिजाइन या फुटवियर Fashion Designing Course After 12th

12वीं के बाद आर्ट्स और कॉमर्स के स्टूडेंट्स फुटवियर और फैशन डिजाइनिंग में अपना सुनहरा करियर बना सकते हैं. Career courses commerce arts फैशन डिजाइन और फुटवियर आज के समय में सबसे आकर्षक करियर में से एक है। फैशन उद्योग तेजी से उभरते हुए उद्योग के रूप में सामने आया है. ऐसे कई कॉलेज है जो फैशन डिजाइनिंग में कोर्स उपलब्ध कराते है जिसके बाद स्टूडेंट्स कई क्षेत्रों में अपना करियर बना सकते है.

How to become a fashion designer 

इवेंट मैनेजमेंट कोर्स Events Management Course After 12th

12 वी के बाद छात्र बेहतर करियर के लिए इवेंट मैनेजमेंट कोर्स कर सकते है Career courses commerce arts जो छात्र पार्टियों और जश्न मनाने के शौकीन है वो इस फील्ड में अपना करियर संवार सकते है. इवेंट मैनेजमेंट एक ऐसा क्षेत्र है जो ग्लोबल लेबल पर काफी तेजी बढ़ता है इस क्षेत्र में छात्रों के लिए करियर की संभावनाओं की कोई कमी नहीं है, अगर आपके पास इमेजिनेटिव स्किल्स, टाइम मैनेजमेंट, टीम स्प्रीट, तो आप 12 वीं के बाद आप इवेंट्स मैनेजमेंट के क्षेत्र में बेहतर करियर बना सकते है.

FAQ_

प्रश्न- बारहवीं कॉमर्स के बाद क्या करे?

उत्तर- 12 वीं के बाद स्टॉक ब्रोकर कॉमर्स स्टूडेंट्स के लिए बेहतर करियर ऑप्शन है. जो छात्र स्टॉक ब्रोकर बनाना चाहते है उन्हें कम से कम वाणिज्य विषय में स्नातक पास होना चाहिए.

Question- Which is the best course after 12th?

Answer- Hotel management, stock broker, management etc. is the best course after 12th.

Question- Diploma course arts after 12th?

Answer- events management Diploma course arts after 12th.

आर्किटेक्ट कैसे बने How to Become an Architect

आर्किटेक्चर कोर्स की जानकारी Full Details of Architecture course

आर्किटेक्ट कैसे बने How to Become an Architectआर्किटेक्ट कैसे बने  – छात्रों के लिए 12 वीं के बाद ऐसे कई सारे कोर्सेज है जिन्हें करके वो अपना करियर संवार सकते हैं इन्हें कोर्सेज में से एक है बेचलर ऑफ़ आर्किटेक्चर (Bachelor of Architecture) जिसे हम बी.आर्च B.arch के नाम से भी जानते है. आज हम आपको “बेचलर ऑफ़ आर्किटेक्चर (B.Arch) के बारे में बताएँगे तो चलिए जानते है  आर्किटेक्ट B.Arch क्या है, आर्किटेक्ट बनने के लिए यह कोर्स कैसे किया जा सकता है और इस कोर्स को करने के बाद जॉब की क्या सम्भावनाये है.

आर्किटेक्ट कैसे बने – आर्किटेक्चर क्या हैं What is Bachelor of Architecture B.Arch

बैचलर ऑफ़ आर्किटेक्चर 5 साल की स्नातक डिग्री (10 Semesters) होती हैं जिसमे Architecture अर्थात वास्तुकला के बारे में अध्ययन किया जाता है इसके अंतर्गत गृह निर्माण के कार्यों जैसे मकान, दुकान, शॉपिंग मॉल, सड़क निर्माण, व्यावसायिक इमारते आदि बनाना सिखाया जाता हैं .

आर्किटेक्चर शैक्षणिक योग्यता व प्रवेश प्रक्रिया Admission Process in Bachelor of Architecture

बेचलर ऑफ़ आर्किटेक्चर B.Arch में प्रवेश के लिए कुछ शर्तों को पूरा करना जरूरी है जैसे-

  • 12 वीं 50 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण होनी चाहिए.
  • 12 वीं में गणित अनिवार्य विषय के रूप में होना चाहिए |
  • या फिर 10 के बाद किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से 3 वर्षीय डिप्लोमा होना चाहिए.
  • National Aptitude Test in Architecture (NATA) प्रवेश परिक्षा के जरिये भी आप B.Arch में प्रवेश ले सकते है.

आर्किटेक्चर में प्रवेश के लिए प्रमुख परीक्षाएं Important Entrance Exam for B.Arch

  • AIEEE
  • AMU Entrance Exam
  • BEEE
  • IIT-JEE
  • KEAM
  • NATA
  • UPTU SEE Exam

आर्किटेक्चर के बाद करियर स्कोप Career Scope after B. Arch 

एक अच्छे आर्किटेक्ट के लिए करियर के कई सारे अवसर है आजकल आर्किटेक्ट की डिमांड भी काफी तेजी से बढ़ रही है कई सरकारी और प्राइवेट संगठनों में इनकी मांग की जाती है। इस कोर्स को करने के बाद आप शहरी विकास निगमों, सार्वजनिक कार्यों के विभागों, इंटीरियर डिजाइनिंग आदि क्षेत्रों में कार्य कर सकते हैं। आर्किटेक्ट फर्मों, विश्वविद्यालयों और परामर्श कंपनियों में भी इनके लिए अच्छे रोजगार के अवसर उपलब्ध होते है. बैचलर कोर्स के बाद आप उच्च शिक्षा मास्टर डिग्री या आर्किटेक्चर क्षेत्र में आगे के अध्ययन कर सकते हैं।

आर्किटेक्चर B.Arch के बाद सैलरी Salary of Architect-

आर्किटेक्ट का कोर्स पूरा करने के बाद आपको विभिन्न क्षेत्रों में नौकरीके अवसर तो मिलते ही है साथ ही अच्छा सैलेरी पैकेज भी मिलता है. हर फील्ड की सैलेरी अलग-अलग़ होती है एक आर्किटेक्ट को शुरुआत में लगभग 20,000 से 30,000 तक की सैलेरी आसानी से मिल जाती है अगर आपको इस फील्ड में अच्छा अनुभव है तो आप प्रति माह लगभग 50000 तक की सैलेरी प्राप्त कर सकते है.

FAQ_

प्रश्न- आर्किटेक्चर क्या होता है?

उत्तर- आर्किटेक्चर 5 साल का स्नातक डिग्री कोर्स है जिसमें 10 सेमेस्टर्स होते है. इसमें गृह निर्माण जैसे कार्यों का अध्ययन किया जाता है.

प्रश्न-आर्किटेक्चर में करियर?

उत्तर- कई सरकारी और प्राइवेट संगठनों में आर्चीटेक्ट्स की मांग होती है आर्किटेक्चर कोर्स करने के बाद आप शहरी विकास निगमों, सार्वजनिक कार्यों के विभागों, इंटीरियर डिजाइनिंग आदि क्षेत्रों में कार्य कर सकते हैं।

प्रश्न- आर्किटेक्चर कोर्स के लिए शैक्षणिक योग्यता क्या होनी चाहिए?

उत्तर- आर्किटेक्चर कोर्स के लिए 12 वीं 50 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण होनी चाहिए, 12 वीं में गणित अनिवार्य विषय के रूप में होना चाहिए या फिर 10 के बाद किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से 3 वर्षीय डिप्लोमा होना चाहिए.

Question- How to become an architect?

Answer- If you want to become an Architect your 12th in science stream. You can join B.tech coarse through AIEEE and IITJEE exams.

Question- What qualifications do you need to be an Architect?

Answer- Education Qualification to be an Architect you must pass 12th with 50% marks. Mathematics should be compulsory in 12th standard.

Question- Which Exam is Important for B.Arch?

Answer- AIEEE, AMU Entrance Exam, BEEE, IIT-JEE, KEAM, NATA, UPTU SEE Exam.

BA ग्रेजुएशन के बाद क्या करें Career Options after BA Graduation

ग्रेजुएशन के बाद क्या करे Career Guidance After B.A

BA ग्रेजुएशन के बाद क्या करें Career Options after BA GraduationBA ग्रेजुएशन के बाद क्या करें (BA Ke Baad Kya Kare) यह प्रश्न सभी के मन में होता है. सभी स्टूडेंट्स अपने करियर को लेकर बहुत ही चिंतित रहते है. ग्रेजुएशन के बाद किस फील्ड में आगे बढ़े जैसे – सरकारी नौकरी की तैयारी करे, या कोई प्राइवेट जॉब या फिर पोस्ट ग्रेजुएशन.

यदि ऐसे में छात्रों को सही गाइडेंस मिल जाये तो वे सही दिशा में सफलता प्राप्त करते है. वहीं कई छात्रों को सही गाइडेंस न होने पर वे अपना कीमती समय भी खो देते है. आज हम आपको कुछ ऐसे करियर ऑप्शन बताने जा रहे है जिन्हे आप अपनी रुचि के अनुसार BA के बाद  कर सकते है.

BA ग्रेजुएशन के बाद कौन से कोर्स करें Course after BA Graduation

BA ग्रेजुएशन के बाद B. Ed (Bachelor of Education) –

B. Ed कोर्स उन छात्रों के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता है. जिन्हे टीचिंग का शोक हो. B. Ed के बाद TET परीक्षा पास करके आप टीचर के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

बी.ए के बाद M.A (Career after BA) –

यदि आप ग्रेजुएशन के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन करना चाहते है अथार्त ग्रेजुएशन के बाद मास्टर डिग्री (BA ke bad Master Degree) चाहते है तो आप बी.ए के बाद एम.ए कर सकते हैं.

बी.ए के बाद M.B.A. (Master Of Business Administration) –

ग्रेजुएशन के बाद स्टूडेंट्स के लिए M.B.A. भी एक बेहतरीन ऑप्शन है. व्यवसाय और मैनेजमेंट में रुचि रखने वाले छात्र BA के बाद  M.B.A. कर सकते है. और मैनेजमेंट फील्ड में अपना बेहतरीन करियर बना सकते है.

BA ग्रेजुएशन के बाद L.L.B (Bachelor Of Laws) –

वे छात्र जो लॉ में अपना करियर बनाना चाहते है उनके लिए L.L.B एक बेहतरीन ऑप्शन हो सकता है. Advocate बनने की चाह रखने वाले छात्र भी B.A. के बाद L.L.B कर सकते है.

बी.ए के बाद फोटोग्राफी कोर्स (Photography Courses After BA)-

फोटोग्राफी फील्ड आजकल बहुत ही प्रचलन में है. अधिकतर स्टूडेंट इसमें अपना करियर बनाना चाहते है क्योकि इसमें अच्छी सैलरी के साथ ही जॉब के बहुत से स्कोप सामने होते है. यदि आप स्वयं को एक सफल फोटोग्राफर बनाना चाहता है तो आप फोटोग्राफी कोर्सेज कर सकते है.

BA ग्रेजुएशन के बाद सरकारी नौकरी की तैयारी (Government Job After BA Graduation)

 B.A के बाद आप सरकारी नौकरी के लिए भी अप्लाई कर सकते है. ग्रेजुएशन पास छात्रों के लिए सरकारी नौकरी में हर साल लाखो भर्तियां निकलती है. इसलिए आप चाहे तो BA के बाद सरकारी नौकरी परीक्षा की तैयारी कर सकते है. NDA, SI, Bank PO, Bank Clerk, SSC CGL, IAS PCS Exam आदि (BA ke bad Sarkari Naukri) में आप सरकारी जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है.

बी.ए से सम्बंधित प्रश्न उत्तर

प्रश्न  – BA ग्रेजुएशन के बाद कौन से कोर्स कर सकते है?

उत्तर – ग्रेजुएशन के बाद कोर्स – बी.ए के बाद आप मास्टर डिग्री जैसे – M.B.A, M.A, MCA, LLB, कर सकते है.

पश्न – बी.ए पास कौन सी सरकारी जॉब के लिए अप्लाई कर सकते है?

उत्तर – बी.ए पास छात्र बैंक, रेलवे, आईएएस, पीसीएस, पुलिस एसआई, एसएससी सीजीएल, पटवारी जैसी सरकारी नौकरी के लिए  अप्लाई कर सकते है.      

पश्न – बी.ए कोर्स कितने साल का होता है ?

उत्तर – बी.ए कोर्स  3 साल का होता है.                

Question – What is the full form of BA?

Answer – Bachelor of Arts is the full form of BA.

Question – What is the full form of MA?

Answer – Master of Arts is the full form of MA.

Question – What is the full form of LLB?

Answer – Bachelor of Law is the full form of LLB.

Question – What is the full form of MCA?

Answer – Master of Computer Applications is the full form of MCA.

VFX क्या है जानिए इसमें करियर रोजगार एवं अवसर VFX Course Career

VFX के बारे में पूरी जानकारी Detail for VFX Software List in Hindi

VFX क्या है जानिए इसमें करियर रोजगार एवं अवसर VFX Course Career VFX क्या है जानिए इसमें करियर रोजगार एवं अवसर- आजकल के दौर पर कुछ भी पाने के लिए मेहनत करनी ही पडती है क्योंकि बिना मेहनत किये कुछ भी नही पाया जा सकता है| आज कल सभी लोगो की यही इच्छा रहती ही है कि वह अपने आप में depend रहकर खुद से काबिलियत हासिल कर सकते|

यहाँ पर VFX होता क्या है? इसकी पूरी जानकारी दी गयी है? जिससे आप इसके बारे में जान सकेगे| आजकल VFX का हर जगह सबसे ज्यादा इस्तेमाल देखने को मिल रहा है| VFX को visual effect भी कहते हैं| VFX बनाने के लिए कंप्यूटर में बड़े सॉफ्टवेयर (Visual effects for Films) का उपयोग किया जाता है| इस टेक्निक (Technic) का इस्तेमाल ज्यादातर फिल्मों में किया जाता है| इसका इस्तेमाल Hollywood फिल्मों में बहुत ज्यादा देखने को मिलता ही है| लेकिन आज कल के समय में बॉलीवुड मूवीज में इसका प्रयोग बहुत ज्यादा किया जाने लगा है| जैसे – bollywood मूवी की बात करे ra.one, Kick और Krrish मूवी में इस टेक्निक का इस्तेमाल किया गया था| अब आने वाले वक्त में VFX हर मूवी में इस्तेमाल किया जाने लगा है, क्योंकि इसके हिसाब से किसी भी सीन को मनमोहक बनाया जा सकता है और इसमें खर्चा भी बहुत कम होता है| आजकल मूवी बनाने के लिए विजुअल इफेक्ट का इस्तेमाल बहुत ज्यादा किया जाता है| आप मूवी में ऐसा कोई सीन देखते हैं जो असल जिंदगी में मुमकिन नहीं है तो आप समझ सकते हैं, कि यह visual effect के कमाल से ही किया गया है|

VFX क्या है? What is a VFX-

VFX क्या है – वीडियो प्रोडक्शन में जब कोई सीन शूट करने में महंगा हो या खतरनाक हो तो उस सीन को Shoot करने के लिए कुछ Special Effects का इस्तेमाल किया जाता है| यह Effects वीडियो एडिट करते समय या वीडियो बनाने के समय में किया जाता है| तो इन सभी इफेक्ट्स (Effects) को ही VFX कहा जाता है|

VFX का इस्तेमाल कहा होता है Software Techniques for Visual Effects in Films and Games-

आज के समय में विजुअल इफेक्ट्स का इस्तेमाल मूवी बनाने के लिए बहुत ही ज्यादा किया जाता है| अगर आप कोई ऐसी मूवी देख रहे हो जिसमें कोई ऐसा सीन है जो आपको लगता है कि यह असल में संभव कैसे हो सकता है तो समझ लीजिये कि वह विजुअल इफेक्ट्स (Visual effects) की मदद से किया गया है| VFX सॉफ्टवेयर की मदद से जैसा हम चाहते या सोचते है वैसा ही वीडियो के अंदर सीन develop कर सकते है| जो कि आप सिर्फ सोच ही सकते हैं रियल में नहीं बना सकते वह आप वीडियो के अंदर वीडियो Effects लगाकर और उसे रियल में दिखा सकते हैं या कोई ऐसा सीन जो शूट करने के लिए ज्यादा बड़ी जगह और बहुत ही ज्यादा पैसे की जरूरत हो उन सभी सीन को आप VFX की मदद से बहुत ही जल्दी और बहुत ही आसानी से वीडियो या फोटो बना सकते है|

VFX सॉफ्टवेयर Movie बनाने के लिए इस्तेमाल होता है जैसे इस प्रकार Type of tools VFX Software for Movie Editing-

Screenwriting-

  1. Celtx
  2. Final Draft
  3. Apple’s Pages (It Includes a Screen play Template for Useful)

Editing-

  1. Final Cut Pro
  2. Adobe Premiere
  3. Avid

Audio-

  1. Protocols
  2. Adobe Sound booth
  3. Audacity

VFX / Compositing-

  1. Adobe after Effects
  2. Adobe Photoshop
  3. Nuke

VFX / 3D-

  1. Blender
  2. 3D Studio Max
  3. Maya
  4. Cinema 4D

VFX करने के लिए पाँच सबसे बेस्ट सॉफ्टवेर Best 5 Visual Effects tools for VFX Software-

वीडियो एडिटिंग में आज के समय में बहुत ज्यादा विजुअल इफेक्ट्स का इस्तेमाल हर जगह देखने को मिल रहता है| इसे इस्तेमाल करने से बहुत फायदा है क्योंकि इसे समय और पैसे दोनों की बचत होती है और साथ ही जिस सीन को शूट करने में ज्यादा खतरा होने का डर हो या ज्यादा महंगा हो, वह VFX सॉफ्टवेयर की मदद से आसानी के साथ बनाया जा सकता है| आजकल के वक्त में  Animation या VFX Software बहुत ज्यादा इस्तेमाल में लिए जा रहे है| जंहा पर बहुत ज्यादा खतरे वाली जगह होती है या जंहा पर ज्यादा लोग होते है वहां पर Animation या VFX Software का इस्तेमाल किया जा रहा है, ताकि उसे कंबाइन किया जा सके| यहाँ पर 5 ऐसे सॉफ्टवेयर software के बारे में बताया जा रहा है जिसे जानने और समझने में आपको मदद मिल सकेगी| जितने भी सॉफ्टवेयर के बारे में यहाँ पर बताया जा रहा है, वह कोई भी फ्री सॉफ्टवेयर में से नहीं है| VFX और एनीमेशन के लिए इस्तेमाल में लाये जाने वाले यह कुछ तरीके यहाँ पर बताये गये है| अगर आप कोई प्रोफेशनल काम करना चाहते है तो आप इसका Paid Version ख़रीदे जो कि बेस्ट लेवल पर माना जा सकता है|

VFX करने के लिए Nuke सॉफ्टवेर Nuke software-

VFX क्या है – Nuke यह एक नोड पर बेस्ड डिजिटल कम्पोज़िटिंग एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर (Digital compositing application software) है| जिसे Bill Spitzer के द्वारा 1993 में बनाया (develop) गया और 2002 में सभी यूजर (users) के लिए लांच किया गया, इसको ज्यादातर Film और T.V जैसे Production के लिए इस्तेमाल किया जाता है| इसके अंदर Digital Domain, Walt Disney Animation Studios, DreamWorks Animation, Sony Pictures Amateur Works, Sony Pictures Animation, Fermenter, Wets Digital और Industrial Light And Magic Sail आदि है|  ये Microsoft Windows 7, OS X 10.9, Red Hat Enterprise Linux 5, और नए ऑपरेटिंग सिस्टम के नए वर्शन के अंदर ही चलाया जा सकता है जो कि किसी प्रोग्राम या फिल्म बनाने में मददगार साबित होता है और साथ ही काम भी बहुत आता ही है|

VFX करने के लिए Blender सॉफ्टवेर Blender Animation

Blender एनीमेशन में डच एनीमेशन स्टूडियो (Dutch Animation Studio) और नान मिलकर (Nan milakar) ने बनाया है| यह एक ओपन सोर्स 3D Content Creation Suite है| जिसमे आप 3D Modeling भी कर सकते है| इसके साथ साथ ही Rigging, Animation, Rendering, UV Unwrapping, Shading, Physics Or Particles, Imaging Or Compositing या Real-time 3D/ गेम आदि भी बना सकते है और साथ ही इसे प्रो वर्शन (Pro Version) में इस्तेमाल कर सकते है|

VFX करने के लिए 3ds Max सॉफ्टवेर 3D Studio Max-

VFX क्या है- 3ds Max सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल हॉलीवुड में फिल्म्स प्रोडक्शन, वीडियो गेम बनाने टी.व् कमर्शियल में किया जाता है| इसमें आप 3D मॉडलिंग कर सकते है और साथ ही Animation बना सकते है और Effect भी डाल सकते है| ऐसे High Quality के Content Create आसानी से कर सकते है, जो की एक फाइल बनाने के लिए बहुत जरुरी है| 3ds Max सॉफ्टवेयर के नया वर्शन (version) में आपको बहुत बढ़िया इफेक्ट्स (effects) देखने को मिलेंगे| इसके साथ साथ इसमें आप Analysis Technology का इस्तेमाल भी कर सकते है, जिस से आप बहुत टाइम बचेगा और 3ds Max सॉफ्टवेयर में आप एनीमेशन भी बना सकते है|

VFX करने के लिए Maya सॉफ्टवेर Maya Software-

Maya यह सॉफ्टवेयर लगबग 3D मैक्स की तरह ही काम करता है और इसको लगभग 12 साल हो गए है और यह 3D Modeling, Rendering, Animation और अच्छे इफेक्ट्स (effects) के लिए सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है| हर साल इसके नए Version देखने को मिल सकते है और इसमें आप कई तरह के काम एक साथ कर सकते है|

VFX करने के लिए Adobe Creative सॉफ्टवेर Adobe Creative Collection-

VFX क्या है – Adobe Creative Suite Master Collection सॉफ्टवेयर एडोबी कंपनी (Adobe Company) ने बनाया है| यह बहुत ही बढ़िया सॉफ्टवेयर (software) है| अगर आप इन सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करते है तो फाइल Web Designing, Video, Mobile Content आदि के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते है| कई सारे सॉफ्टवेयर (software)  एक साथ है जैसे कि- Adobe In Design CS6, Photoshop CS6 Extended, Dreamweaver CS4, Fireworks CS6, Illustrator CS6, Acrobat DC Pro, Flash CS6 Professional, On tribute CS6, After Effects CS6, Premiere Pro CS4, Sound booth CS6, On Location CS6 और Encore CS6 आदि है|

FAQ-

प्रश्न- VFX क्या है?

उतर- वीडियो प्रोडक्शन में जब कोई सीन शूट करने में महंगा हो या खतरनाक हो तो उस सीन को Shoot करने के लिए कुछ Special Effects का इस्तेमाल किया जाता है| यह Effects वीडियो एडिट करते समय या वीडियो बनाने के समय में किया जाता है| तो इन सभी इफेक्ट्स (Effects) को ही VFX कहा जाता है|

प्रश्न- (वीएफएक्स) VFX की फूल फॉर्म क्या है?

उत्तर- विजुअल इफेक्ट्स (Visual Effects) (संक्षिप्त वीएफएक्स) है| यह प्रक्रिया है जिसके द्वारा इमेजरी बनाई जाती है या फिल्म बनाने में लाइव एक्शन शॉट को नया डायरेक्शन (direction) दिया जाता है|

Question- Which software is used for VFX?

Answer- A software is used for VFX are-

  1. Autodesk Maya,
  2. Motion Builder V-Ray,
  3. Adobe Photoshop,
  4. Adobe Premiere,
  5. Nuke

Question- What is the full form of VFX?

Answer- The full form of VFX is visual effects (abbreviated VFX).

Question- What is VFX software?

Answer- Eye-on Fusion is powerful node-based compositing software. It is used widely in movies, television, advertising, medicine, architecture and it’s preferred in 3D animation & VFX applications for its features like rot scoping, paint tools, advanced look-up tables, etc.

वेब डेवलपर कैसे बने How to become a Web Developer

वेब डेवलपर बनने की पूरी जानकारी Detail for web developer job in Hindi

वेब डेवलपर कैसे बने How to become a Web Developerवेब डेवलपर कैसे बने- कोई भी सरकारी अधिकारी बनने के लिए आपको उसके अनुसार मेहनत भी करनी पडती है क्योंकि बिना मेहनत किये आप कुछ नही पाया जा सकता है| आज कल सभी लोगो की यही इच्छा रहती ही है कि वह कोई भी सरकारी नौकरी प्राप्त करे| यहाँ पर web developer बनने की पूरी जानकारी दी गयी है?

जिससे आपको काफी मदद मिल सकेगी| वेब डेवलपर के फील्ड मेव करियर बनाने के लिए Government Sector या प्राइवेट सेक्टर में जॉब मिलने  के चांसेस ज्यादा देखने को मिलते रहते है| web developer की जॉब काफ़ी अच्छी मानी जाती है और इसमें अपना खुद का नाम भी होता है, साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिलती है| Web Developers और Web designers यह दो लोग है जो एक complete website बनाते है लेकिन आप चाहे तो आप दोनों व्ही बन सकते है| Developers का काम web के अंडर के programs को manage करना और designers web का फ्रंट (front) end यानी सामने वाले हिस्से को design करते है| Web development और Web designing यह अलग अलग कोर्स (course) है| Course के हिसाब से दोनों के अलग अलग रास्ते निकलते है|

वेब डेवलपर क्या है? What is a web developer-

वेब विकास यानी यह काम जो वेबसाइट / इंटरनेट से जुडा हुआ होता है, जो कि मूल रूप से किसी भी वेबसाइट का बैकसाइड वर्क को ही वेब डेवलपमेंट कहा जाता है| जैसे- Website बनाना, डेटाबेस Database, Web based software, Domain-Hosting management आदि इस तरह के Web development के अंतर गत में आते है| साथ ही मूल रूप से कोई भी website का backside work web development कहलाता है| जैसे कि किसी website के page का open होना  Website पर search करना आदि| बिना Engineering (BE) करे बिना Web developer या Web designer बन सकते है| उसके लिए आपको BCA, BSc Computer Science, B Com Computer science जैसे subject से 12th के बाद graduation पूरा करना पड़ेगा और or इसके बाद आप MCA या MBA IT भी कर सकते है|

वेब डेवलपर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for Web Developer –

वेब डेवलपर बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से 12वी पास  या graduation किया हुआ होना चाहिए और साथ ही Web Developer के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही इसमें अपना बेहतर करियर बना सकते है|  Web Developer में एक प्रोग्रामर (programmer) की तरह ही work करते है|

 वेब डेवलपर बनने के लिए एचटीएमएल (HTML) सीखना शुरू करें (Start Learning HTML)

वेब डेवलपर बनने के लिए website कैसे बनाते है यह काम आना बहुत जरूरी है, इसकी जानकरी अच्छी तरह से होना बहुत जरूरी है इसके लिए आपको HTML सीखना शुरु (start) करना पढ़ेगा| HTML एक language है जिसमे वेब का structure बनाते है| हर एक वेबसाइट (website) देख लीजिये उनमे HTML का use किया ही गया होता है| बिना HTML language के website बन ही नहीं सकती है| HTML सिखने के लिए आप कोर्स कर सकते है या online e- commerce websites से भी पढ़ सकते है या आप youtube पर ऑनलाइन videos tutorials देख कर HTML language आसानी के साथ सीख सकते है|

वेब डेवलपर बनने के लिए सीएसएस सीखना शुरू करें (Start Learning CSS)-

वेब डेवलपर (Web Developers) को CSS language सीखना उतना भी जरूरी नहीं है, मतलब कि language आप स्किप (skip) भी कर सकते है लेकिन अगर आप perfect developer बनना चाहते है तो आपको CSS language सिखनी ही चाहिए|  

 CSS एक client site scripting language होती है| कोई भी website देख लीजिये जिसमे colors aur styling दिखे वो CSS language से ही coding की हुई होती है| CSS language सिखने के लिए कोचिंग, ऑनलाइन की मदद ले सकते है| CSS सिखने के लिए आपको इसकी practice थोड़ी ज्यादा करनी पढ़ती है|

वेब डेवलपर बनने के लिए जावास्क्रिप्ट का अभ्यास करें (Practice for Java Script)-

वेब डेवलपर (Web Developers) को HTML और CSS की अच्छी knowledge के बाद java scrip language आनी चाहिए| java script सिखने के लिए web development course का basic होने के बाद आगे बढ़े| Java script सिखने के लिए HTML या CSS की जानकारी हो ऐसा जरूरी  नहीं है लेकिन java script शुरू करने वालो  (beginners)के लिए थोडी tough हो सकती है|  यह language में logic operations होते है, इसके लिए Youtube पर बहुत ज्यादा video tutorials है आप online सीख सकते है| जब आप java script सीख जाए तब HTML, CSS and java script से web pages बनाने की practice करे|

वेब डेवलपर बनने के लिए PHP सीखें और अभ्यास करें (Learn and Practice PHP)-

PHP एक बहुत ही powerful server side scripting language है| PHP का full form Hypertext Pre Processor है पहले इसकी full form personal home page थी लेकिन अब ये change के दी गयी है| यह कोर्स (course) का बहुत ज्यादा टाइम लेता है| कोई भी चीज़ को सीखना tough नहीं होता अगर मेहनत से उस कार्य को करते है| PHP सिखने के लिए आपको बहुत ज्यादा concentration के साथ पढ़ना जरूरी है और यह एक प्रोग्रामिंग भाषा (programming language) होती है| PHP developers की IT market में requirements ज्यादा ही रहती है|

वेब डेवलपर बनने के लिए परियोजनाएं बनाये (Start Making for Projects)-

Web Developer बनने के लिए परियोजनाएं बनाना जरूरी है| यह चारों language सिखने के बाद आप complete Web Developer सीख जाओगे इसे आप अपनी काबिलयत के अनुसार एक पूरी website बना सको| इसके साथ साथ web application बनाने चाहिए जिसे आपकी अच्छी practice होगी और आप perfect इस काम में एक दम prefect हो जायेगे|

वेब डेवलपर की सैलरी Salary For Web Developer job

वेब डेवलपर सैलरी काफी अच्छी मानी जाती है| इस जॉब में अपनी काबिलियत के अनुसार सैलरी और अच्छी depend करती है| वेब डेवलपर की सैलरी लगभग ₹15,000 से ₹30,000 तक के बीच में होती है|

FAQ-

प्रश्न- वेब डेवलपर बनने के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- वेब डेवलपर बनने के लिए उम्र सीमा लगभग 18 से 40 वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- वेब डेवलपर बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

उत्तर- वेब डेवलपर बनने के लिए योग्यता किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से 12वी पास  या graduation किया हुआ होना चाहिए और साथ ही Web Developer के लिए कंप्यूटर की नॉलेज का होना भी जरूरी है|

Question- What is the difference between web development and web designing?

Answer- Web Development in a Nutshell or web design refers to both the aesthetic portion of the website and its usability if they web designers use various design programs such as Adobe Photoshop to create the layout and other visual elements of the website.

Question- What is the full form PHP?

Answer- The full form PHP is Hypertext Pre Processor.

Question- What is Web Developer’s salary?

Answer- The salary for web developer between in ₹15,000 to ₹30,000

Question- What is the role of a web developer?

Answer- Web Developer Job is a role of responsible for designing, coding and modifying websites, from layout to function and according to a client’s specifications and strives to create visually appealing sites that feature user-friendly design and clear navigation etc.

कस्टम अधिकारी कैसे बने How to become a Custom officer

कस्टम अधिकारी बनने की पूरी जानकारी Detail for Custom officer job in Hindi

कस्टम अधिकारी कैसे बने How to become a Custom officerकस्टम अधिकारी कैसे बने- कोई भी सरकारी अधिकारी (Custom officer) बनने के लिए आपको उसके अनुसार मेहनत भी करनी पडती है क्योंकि बिना मेहनत किये आप कुछ नही पाया जा सकता है| आज कल सभी लोगो की यही इच्छा रहती है कि वह कोई भी सरकारी नौकरी प्राप्त करे| आवेदन करने के इच्छुक उम्मीदवार इस पद के लिए निर्धारित शैक्षणिक योग्यता एवं अन्य अर्हताओं की पूर्ति करते हों, वे निर्धारित समय-सीमा वाले ही अपना आवेदन  कर सकते है| यहाँ पर Custom officer कैसे बने? इसके बारे में बताया जा रहा है| जिससे आपको काफी मदद मिल सकेगी| Custom officer की नौकरी काफ़ी अच्छी मानी जाती है और इसमें अपना खुद का नाम भी होता है, साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिलती है| योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता है|

कस्टम अधिकारी क्या है? What is a Custom officer? –

कस्टम अधिकारी एक सीमा शुल्क अधिकारी एक कानून प्रवर्तन एजेंट है, जो सरकार की तरफ से सीमा शुल्क कानून लागू करते है| कस्टम्स विभाग का कार्य, ड्यूटी इकट्ठा करने के उद्देश्य से, और निर्यात को नियंत्रित करना और निषिद्ध और प्रतिबंधित वस्तुओं के प्रवेश की जांच को नियंत्रित करना होता है| कस्टम ऑफिसर्स तस्करी (smuggle) सुनिश्चित करते है| इस प्रकार से यह पद बहुत ही जिम्मेदारी भरा माना जाता है|

कस्टम अधिकारी बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for Custom officer-

कस्टम अधिकारी बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से ग्रेजुएट (Graduation) पास किया हुआ होना आवश्यक हैं और साथ ही कस्टम अधिकारी के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकते है|

कस्टम अधिकारी बनने के लिए उम्र सीमा Age limit for Custom officer Requirement-

कस्टम अधिकारी (Custom officer) बनने के लिए उम्र सीमा लगभग 21 से 30 साल के बीच तक की होनी चाहिए और OBC उम्मीदवारों के लिए 3 साल की छुट और SC / ST उम्मीदवारों के लिए 5 साल की छुट मिलती है|

कस्टम अधिकारी बनने के लिए चयन प्रक्रिया Selection Process for Custom officer job-

कस्टम अफसर के लिए उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाएगा जैसे-

  1. सिविल सर्विस ऍप्टीट्यूड टेस्ट (सीएसएटी) Civil Service Aptitude Test (CSAT)
  2. सिविल सेवा मुख्य परीक्षा Civil service main examination
  3. फिजिकल टेस्ट Physical test

कस्टम अधिकारी की परीक्षा के लिए सिविल सर्विस ऍप्टीट्यूड टेस्ट (सीएसएटी) Custom Service Aptitude Test (CSAT)

सिविल सर्विस ऍप्टीट्यूड टेस्ट में दो पेपर शामिल हैं| प्रत्येक पेपर में अधिकतम 200 अंक होते हैं साथ ही प्रश्न ऑब्जेक्टिव टाइप के आते है| इस पाठ्यक्रम में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय वर्तमान घटनाक्रम, भारत का इतिहास, भूगोल, आर्थिक और सामाजिक विकास, पर्यावरण पारिस्थितिकी, सामान्य विज्ञान, तार्किक तर्क और अंग्रेजी भाषा से परीक्षा में प्रश्न पूछे जाते है|

कस्टम अधिकारी की परीक्षा के लिए सिविल सेवा मुख्य परीक्षा Civil service main examination-

कस्टम अधिकारी की परीक्षा सिविल सर्विस ऍप्टीट्यूड टेस्ट योग्य होने के बाद, आप मुख्य परीक्षा देने के लिए पात्र बन जाते हैं| सिविल सेवा मुख्य परीक्षा नौ पेपर्स की होती है| सभी पेपर वर्णनात्मक (डिस्क्रप्टिव) प्रकार के होते हैं| यह पेपर उम्मीदवारों की समग्र बौद्धिक क्षमताओं और ज्ञान का मूल्यांकन (Evaluation) करते है|

कस्टम अधिकारी की परीक्षा के लिए फिजिकल टेस्ट Custom officer Physical test

फिजिकल टेस्ट, एक साक्षात्कार है जिसमें उनकी बुद्धि, क्षमताओं, गुणों और मूल्यों के मामले में उम्मीदवार के व्यक्तित्व  के बारे में जाचा जाता है| कस्टम अधिकारी के लिए यह आवश्यकताओं को पूरा करना होता है जैसे- ऊंचाई लगभग 157.5 सेमी और साथ ही पुरुषों की छाती लगभग 81 सेमी तक की होनी चाहिए|

कस्टम अधिकारी बनने के लिए आवश्यक गुण Qualities need to become a Custom officer –
  1. भारतीय नागरिकता,
  2. रिलायेबल ट्रांसपोर्टेशन हो,
  3. एक वाहन का लाइसेंस होना चाहिए,
  4. ओड टाइम में काम करने की योग्यता,
  5. एक व्यापक पृष्ठभूमि होना आवश्यक है,
  6. कम्यूनिटी के साथ आम तौर पर सहयोग करने और संवाद करने की योग्यता हो,
  7. वांछित स्थिति के लिए आवश्यक सभी प्रशिक्षण को सफलतापूर्वक पूरा करने में सक्षम होना चाहिए,
  8. रेडियो या टेलीफोन उपकरण को सक्रिय करने और मॉनिटर कंसोल करने में सक्षम होना चाहिए आदि|
कस्टम अधिकारी बनने के लिए तैयारी करे Pattern tips for Custom officer Exams-

(कस्टम ऑफिसर) संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा की तैयारी के लिए, उम्मीदवार को सभी करंट अफेयर्स के बारे में पता होना चाहिए| प्रतियोगी की जनरल अवेयरनेस अच्छी होनी चाहिए| समाचार पत्रों को नियमित रूप से पढ़ना चाहिए जिसे परीक्षा में मदद मिल सकेगी| उम्मीदवारों को अंग्रेजी, जी.के. और मूल गणित आदि में अच्छा ज्ञान होना चाहिए क्योंकि पूरी परीक्षा इन विषयों और इसके बाद चयन और साक्षात्कार पर आधारित होती है|

कस्टम अधिकारी की सैलरी Custom Officer Department Salary-

कस्टम ऑफिसर के वेतन में कई रैंक शामिल हैं, जो कि उनकी रैंकों के अनुसार अलग-अलग होते है| साथ ही कस्टम अधिकारियों की सैलरी काफी अच्छी मानी जाती है| कस्टम ऑफिसर उम्मीदवारों के लिए सैलरी लगभग ₹25,000 से ₹42,000 तक के बीच में मिलती है|

कस्टम अधिकारी बनने के लिए आवेदन  Application form for Custom Officer

कस्टम ऑफिसर (Custom Officer) बनने के लिए आप इसका आवेदन इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ ही अप्लाई कर सकते है|

FAQ-

प्रश्न- कस्टम ऑफिसर के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- कस्टम ऑफिसर के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा लगभग 18 से 30 वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- कस्टम अधिकारी के लिए फिजिकल टेस्ट में कितनी लम्बाई मागी जाती है?

उत्तर- कस्टम अधिकारी के लिए फिजिकल टेस्ट में लम्बाई लगभग 157.5 सेमी और साथ ही पुरुषों की छाती लगभग 81 सेमी तक की मागी जाती है|

प्रश्न- कस्टम अधिकारियो की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- कस्टम अधिकारियो के पदो पर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹25,000 से ₹42,000 तक के बीच में होती है|

Question- What is the selection process of Custom Officer Exam?

Answer- Candidates in the Custom Officer Department will be selected on basis as-

  1. Civil Service Aptitude Test (CSAT)
  2. Civil service main examination
  3. Physical test

Question- What is the educational qualification of Custom Officer Job?

Answer- The educational qualification for Custom Officer Job positions to candidates should have Graduation pass from any recognized institution / boards.

एसडीएम कैसे बना जाए How to become a Sub Divisional Magistrate

एसडीएम बनने की पूरी जानकारी Detail for SDM Job in Hindi

एसडीएम कैसे बना जाएएसडीएम कैसे बने- कोई भी सरकारी अधिकारी (SDM ) बनने के लिए  आपको उसके अनुसार मेहनत भी करनी पडती है क्योंकि बिना मेहनत किये आप कुछ नही पा सकते और आज कल सभी लोगो की पहली इच्छा यही होती है कि वह कोई भी सरकारी नौकरी प्राप्त करे|

आवेदन करने के इच्छुक उम्मीदवार इस पद के लिए निर्धारित शैक्षणिक योग्यता एवं अन्य अर्हताओं की पूर्ति करते हों, वे निर्धारित समय-सीमा वाले ही अपना आवेदन  कर सकते है| यहाँ पर SDM कैसे बने इसके बारे में बताया जा रहा है| जिससे आपको काफी मदद मिल सकेगी| SDM की नौकरी बहुत अच्छी मानी जाती है और इसमें अपना खुद का नाम भी होता है साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिलती है| योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता है|

एसडीएम क्या है? What is a SDM? –

SDM का‌ पुरा नाम Sub Divisional Magistrate कहा जाता है| एक उप-मंडल मजिस्ट्रेट कभी-कभी जिला उपखंड के मुख्य अधिकारी को दिया जाता है, एक प्रशासनिक अधिकारी जो कभी-कभी जिले के स्तर से नीचे होता है, देश की सरकारी संरचना के आधार पर प्रत्येक जिला तहसील में बांटा गया होता है| यह टैक्स इंस्पेक्टर, कलेक्टर मजिस्ट्रेट द्वारा सशक्त होते है जिसे एसडीएम कहा जाता है|

एसडीएम बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for SDM

एसडीएम बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से ग्रेजुएट (Graduation) पास किया हुआ होना आवश्यक हैं और साथ ही SDM के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकते है|

एसडीएम बनने के लिए उम्र सीमा Age limit for SDM Requirement-

एसडीएम (Sub Divisional Magistrate) बनने के लिए उम्र सीमा लगभग 21 से 32 साल के बीच तक की होनी जरूरी चाहिए और OBC उम्मीदवारों के लिए 3 साल की छुट और SC / ST उम्मीदवारों के लिए 5 साल की छुट मिलती है|

एसडीएम  बनने के लिए चयन प्रक्रिया Selection Process for SDM job-

SDM के लिए उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाता है-

  1. प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  2. मुख्य परीक्षा (Main Exam)
  3. साक्षात्कार (Interview)

एसडीएम के कार्य क्या होते है District Magistrate work-

एसडीएम  जिले का मुख्य कार्यकारी, प्र्संसिनिक प्रशासनिक और राजस्व अधिकारी होते है, SDM के कर्तव्य (कार्यो) के बारे में बताया गया है जैसे कि-

  1. राजस्व कार्य
  2. प्रमाण पत्र जारी करना
  3. चुनाव कार्य
  4. मजिस्ट्रेट कार्यों
  5. विवाह का पंजीकरण आदि|

एसडीएम की तैयारी के लिए पैटर्न को समझे Pattern tips for SDM Exams

एसडीएम (SDM) बनने के लिए उम्मीदवारों को यूनियन पब्लिक सर्विस तथा UPSC के तहत होने वाली CSE exam तथा सिविल सर्विस एग्जाम पास करना होता है| यह परीक्षाए पास करने के बाद जिले के SDM बन सकते है| एसडीएम  बनना चाहते है तो आपको IAS की तैयारी करनी बहुत जरूरी है| जिस से आपका प्रमोसन डीएम के लिए होता है|

सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत सी बाते ध्यान में रखनी होती है उसी में एक है अध्ययन सामग्री| जब हम तैयारी करना शुरू करते हैं तो बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है उनमे से सबसे बड़ी समस्या है उपयोगी किताब का चुनाव कर पाना और ये एक ऐसी समस्या है जिसका ना सिर्फ नए अभ्यर्थिओं बल्कि पुराने अभ्यर्थिओं को भी सामना करना पड़ सकता है| एसडीएम (SDM) बनने के लिए परीक्षा की तैयारी के लिए Syllabus पर पूरा ध्यान देना चाहिए और साथ ही जनरल स्टडीज की तैयारी के लिए आपको हर सब्जेक्ट का कांसेप्ट जानना बहुत जरूरी है| इस एग्जाम का जनरल स्टडीज का सारा पैटर्न सिविल सर्विस एग्जाम के जैसा ही होता है.

एसडीएम  की सैलरी SDM Department Salary –

SDM की सैलरी काफी अच्छी मानी जाती है| एसडीएम उम्मीदवारों के लिए सैलरी लगभग ₹20,000 से ₹56,000 तक के बीच में रखी गयी हुई होती है|

एसडीएम के लिए आवेदन  Application form for Sub Divisional Magistrate-

एसडीएम (SDM) बनने के लिए आप इसका आवेदन इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ ही अप्लाई कर सकते है|

FAQ-

प्रश्न- SDM बनने के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- SDM बनने के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा लगभग 21 से 32 वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- एसडीएम की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- एसडीएम चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹20,000 से ₹56,000 तक के बीच में होती है|

Question- What is the full form of SDM?

Answer- The full form of SDM is Sub Divisional Magistrate.

Question- What is the educational qualification of SDM Officer?

Answer- The educational qualification for SDM Positions to candidates should have graduation pass from any recognized institution / boards.

Question- What is the selection process of SDM Exam?

Answer- Candidates in the SDM Officer will be selected on some basis as-

  1. Preliminary Exam
  2. Main Exam
  3. Interview

Question- What is the function of the Sub Divisional Magistrate work?

Answer- The function of the Sub Divisional Magistrate work are-

  1. Revenue functions
  2. Issue of Certificates
  3. Election work
  4. Magisterial functions
  5. Registration of Marriage

एसीपी अफसर कैसे बने How to become Assistant Commissioner of Police

एसीपी अफसर बनने के लिए पूरी जानकारी Detail APC Officer job in Hindi

एसीपी अफसर कैसे बनेएसीपी अफसर कैसे बने- एसीपी अफसर (Assistant Commissioner of Police) ने कई पदों पर भर्ती के लिए हर साल आवेदन आमंत्रित किए जाते है| एसीपी अफसर इस भर्ती के माध्यम से पुलिस ऑफिसर, ऑफिसर ऑफ़ हेड सहित कई पदों पर उम्मीदवारों का चयन करवाती है| सहायक पुलिस आयुक्त (APC Officer) की नौकरी बहुत अच्छी मानी जाती है साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी मिलती है|  योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता है| उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा और फिजिकल टेस्ट के आधार पर किया जाता है और post के साथ साथ इसमें परमोसन के चान्स (chance) देखने को मिलते है|

एसीपी अफसर क्या है? What is a ACP officer-

एसीपी भारतीय पुलिस अधीक्षक में उच्च रैंक में से एक है| ACP और DSP दोनों का रैंक Department समान्य होता है, दोनों के पास ही 3 स्टार (stars) होते है| ACP state police का part होता है और जो कि एक provincial police force से संबंधित होता है| यह नीति के रूप में 1876 में उप पुलिस अधीक्षक (डीएसपी) या सहायक आयुक्त पुलिस (एसीपी) का पद बनाया गया था|

एसीपी अफसर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for ACP Officer

एसीपी अफसर के पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों को पास किसी मान्यता प्राप्त संस्थान / बोर्ड से ग्रेजुएशन (Graduation) पास किया हुआ होना चाहिए| इसके साथ ही उम्मीदवारों की शारीरिक क्षमता का भी अच्छा होना अति आवश्यक है|

एसीपी अफसर की उम्र सीमा Age limit for ACP Recruitment-

एसीपी अफसर (APC Officer) पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवार की अधिकतम आयु 21 से 32 वर्ष तक की होनी चाहिए| एसीपी अधिकारी के पदों के लिए अधिकतम आयु 32 साल निर्धारित की गई होती है| साथ ही इसमें OBC उम्मीदवारों के लिए लगभग 3 साल की छुट होती है और SC / ST उम्मीदवारों के लिए 5 साल की छुट होती है|

एसीपी अफसर की चयन प्रक्रिया Selection process for ACP Officer jobs-

एसीपी अधिकारी बनने के लिए उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाता है जैसे-

  1. लिखित परीक्षा
  2. फिजिकल टेस्ट / मेडिकल टेस्ट

एसीपी अधिकारी की लिखित परीक्षा- लिखित परीक्षा मई या जून के महीने में करवाई जाती है| उम्मीदवारों को प्रारंभिक परीक्षा देनी होती है| इसमें दो प्रश्न पत्र होते है| लिखित परीक्षा 200 अंक की होती है|

एसीपी अधिकारी के चयन के लिए फिजिकल टेस्ट- फिजिकल टेस्ट में पुरुषों की लम्बाई लगभग 165 cm मागी जाती है वही महिलाओं की लम्बाई 150cm तक की मागी जाती है| साथ ही सिर्फ पुरुषों के लिए छाती लगभग 85cm और थोड़ा फुलाके 5cm ज्यादा होनी चाहिये|

एसीपी अफसर की सैलरी Salary For ACP Post-

एसीपी अफसर की सैलरी सैलरी बहुत अच्छी मानी जाती है| एसीपी अधिकारी के पदो पर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹20,200 से 40,800 तक के बीच में होती है साथ ही ग्रेड पे 2400 तक का मिलता है|

एसीपी अफसर की भर्ती के लिए आवेदन  Application form for forest guard-

एसीपी अफसर की भर्ती के लिए आवेदन आप इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ अप्लाई कर सकते है|

FAQ-

प्रश्न- एसीपी के पूर्ण रूप को क्या कहते है?

उत्तर- एसीपी के लिए पूर्ण रूप पुलिस सहायक सहायक आयुक्त (Assistant Commissioner of Police) से है|

प्रश्न- एसीपी ऑफिसर बनने के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- एसीपी ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा लगभग 21 से 32 वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- एसीपी अफसर की भर्ती के लिए फिजिकल टेस्ट में महिलाओ की लम्बाई कितनी मागी जाती है?

उत्तर- एसीपी अफसर की भर्ती के लिए फिजिकल टेस्ट में महिलाओ की लम्बाई लगभग 150 cm मागी जाती है|

प्रश्न- एसीपी अधिकारी की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- एसीपी अधिकारी के पदो पर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹20,200 से 40,800 तक के बीच में होती है|

Question- What is the ACP officer?

Answer- ACP is one of the highest ranks in the Indian Police Superintendent. The rank division of both ACP and DSP is common; both have 3 stars. ACP is part of state police and which is related to a provincial police force. As a policy, the post of Deputy Superintendent of Police (DSP) or Assistant Commissioner Police (ACP) was made in 1876.

Question- What is the full form for ACP?

Answer- The full form for ACP is Assistant Commissioner of Police.

Question- What is the educational qualification for ACP Recruitment?

Answer- The educational qualification for ACP Recruitment positions to candidates should have Graduation passed from any recognized institution / boards.

Question- What is the selection process of ACP officer exam?

Answer- Candidates in the selection process of ACP officer will be selected on basis as-

  1. Written Examination
  2. Physical Test / Medical Test

Question- What is the height of male candidates in physical test for forest guard?

Answer- The height of male candidates in physical test for ACP post is 165 cm.

पत्रकार कैसे बना जाए How to become a News Reporter

पत्रकार बनने की पूरी जानकारी Detail for News Reporter job in Hindi

पत्रकार कैसे बना जाए How to become a News Reporter पत्रकार कैसे बने- आज के समय मे सरकारी अधिकारी के बाद न्यूज़ रिपोर्टर बनना ही अधिकांश लोगो का सपना बनता जा रहा है| युवाओं मे पत्रकारिता को लेकर काफी जुनून देखने को मिलता है| लेकिन बहुत से लोगो को इसकी जानकारी नही होती की News Reporter journalist कैसे बने?

इस वजह से इस क्षेत्र मे अपना कैरियर नही बना पाते है| यहाँ पर News Reporter कैसे बने इसके बारे में बताया जा रहा है| जिससे आपको काफी मदद मिल सकेगी| News Reporter की नौकरी अच्छी मानी जाती है और इसमें अपना खुद का नाम भी देखने को मिलता है साथ ही इसकी सैलरी भी अच्छी खासी होती है यह सभी जानकारी आपको बताई जा रही है|

पत्रकार  क्या है? What is News Reporter?

news रिपोर्टर का एक ऐसा क्षेत्र है जिसमे किसी भी घटना की पूरी जानकारी एकत्रित करना और साथ ही उस पूरी जानकारी को मीडिया (media) के द्वारा घर घर तक पहुचाना होता है|‌ इस क्षेत्र मे बहुत से पद होते हैं जैसे- फोटोग्राफर, न्युज रिपोर्टर, कैमरा मैन आदि इसलिए आपको पत्रकारिता मे अपना कैरियर बनाने के लिए सबसे पहले इसमे से कोई एक सेक्टर चुनना बहुत जरूरी होता है तभी इसी के माध्यम से आप इसमे अपना कैरियर बना सकते है|

पत्रकार बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for News Reporter-

पत्रकार बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से 12th पास किये होने चाहिए और साथ ही न्यूज़ रिपोर्टर के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकते है|

पत्रकार बनने के लिए उम्र सीमा Age limit for News Reporter Requirement-

 न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए उम्र सीमा लगभग 21 से 40 साल के बीच तक में होनी चाहिए और साथ ही अन्य वर्गों को साल में की छुट भी मिलती है|

पत्रकार बनने के लिए चयन प्रक्रिया Selection Process for News Reporter job-

news reporter के लिए उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाता है-

  1. लिखित परीक्षा (Written Exam
  2. साक्षात्कार (Interview)

पत्रकार बनने  के लिए डिप्लोमा करे Diploma for News Reporter Training Requirement-

पत्रकारिता बनने के लिए डिप्लोमा भी कर सकते है| इसके लिए आपका ग्रेजुएशन पास होना जरुरी है| आप ग्रेजुएशन होने के बादन्यूज़ रिपोर्टर के लिए डिप्लोमा कर सकते है साथ ही  आप मास्टर डिग्री करना चाहते है तो भी आप इसका डिप्लोमा कर सकते हैं|

 पत्रकारिता (न्यूज़ रिपोर्टर) के डिप्लोमा की समय 1 वर्ष का होता है| न्यूज़ रिपोर्टर के लिए आप निम्नलिखित कोर्स कर सकते है जैसे कि-

  1. Master of Art (Journalism)
  2. Master of Art (Mass Communication)
  3. PG Diploma in Broadcast Journalism
  4. Executive Diploma in Journalism
  5. PG Diploma in Journalism and Mass Communication

पत्रकार बनने के लिए कोर्स News Reporter Education Course-

पत्रकारिता बनने के लिए आपके अंदर कुछ अलग खूबी होनी जरूरी चाहिए जैसे की साहसी, परिश्रमी, ईमानदार, लगन, शांत व सरल स्वभाव हमेशा सकारात्मक सोच आदि होने पर ही आप पत्रकारिता मे अपना कैरियर बना पाते है| यहाँ आपको पत्रकारिता से जुडे कुछ महत्वपूर्ण कोर्स की जानकारी दी जा रही है जैसे कि-

पत्रकार बनने के लिए Bachelor of Arts कोर्स (Journalist)-

पत्रकारिता मे कैरियर बनाने के लिए यह कोर्स काफी अच्छा माना जाता है और साथ ही काफी कम खर्च के साथ आप ये कोर्स कर सकते है| इस कोर्स मे आपको पत्रकारिता से जुडी महत्वपूर्ण जानकारी बताई जाती है जिससे आप पत्रकार मे अपना कैरियर आसानी से बना सकते है|

  1. Bachelor of Arts (Journalist) का कोर्स करने के लिए न्युनतम शैक्षणिक योग्यता 12th पास होना अनिवार्य है व 50% अंक होने चाहिए|
  2. यह कोर्स की अवधि लगभग 3 वर्ष तक की होई है|
  3. इस कोर्स की फ़ीस का खर्च लगभग 25,000 से 1 लाख रुपये तक का होता है|
पत्रकार बनने के लिए Bachelor of Journalism and Mass Communication कोर्स

पत्रकार बनने के‌ लिए यह सबसे अच्छे कोर्स में से है| इस कोर्स को पूरा करने के बाद आपको 100% इस क्षेत्र मे नौकरी मिल सकती है| इस कोर्स मे आपको न्यूज़ रिपोर्टर से जुडी हर छोटी व बडी जानकारी बताई जाती है| इस कोर्स मे आप बेसिक (basic) से लेकर एडवांस (advance) पत्रकारिता तक की जानकारी प्राप्त कर सकते है| पत्रकार बनने के लिए यह कोर्स बिल्कुल सही है साथ ही इस कोर्स को करने के बाद आप न्यूज़ रिपोर्टर (पत्रकारिता) से जुडी  किसी भी बडी पोस्ट पर नौकरी प्राप्त कर सकते है|

  1. Bachelor of Arts (Journalist) का कोर्स करने के लिए न्युनतम शैक्षणिक योग्यता 12th पास होना अनिवार्य है व 50% अंक होने चाहिए|
  2. यह कोर्स की अवधि लगभग 3 वर्ष तक की होई है|
  3. इस कोर्स की फ़ीस का खर्च लगभग ₹50,000 से ₹2,00,000 तक का होता है|
पत्रकार बनने के लिए Bachelor of Science B.Sc. कोर्स (Multimedia & Animations)-

न्यूज़ रिपोर्टर से जुडी यह एक टेक्निकल डिग्री में से एक होती है| जिसे करने के बाद आप पत्रकारिता मे किसी भी बडी पोस्ट पर नौकरी प्राप्त कर सकते है| इस कोर्स के बाद आपको न्युज एडिटर, विडियो मेकर, विसुअल एडिटिंग ग्राफिक आदि के कार्य मे नौकरी मिलने की सम्भावना अधिक से अधिक रहती है|

  1. Bachelor of Arts (Journalist) का कोर्स करने के लिए न्युनतम शैक्षणिक योग्यता Science मे 12th पास होना अनिवार्य है व 50% अंक होने चाहिए|
  2. यह कोर्स की अवधि लगभग 3 वर्ष तक की होई है|
  3. इस कोर्स की फ़ीस का खर्च लगभग ₹50,000 से ₹1,50,000 रुपये तक का होता है|
पत्रकार की सैलरी News Reporter Salary –

न्यूज़ रिपोर्टर की सैलरी काफी अच्छी मानी जाती है| पत्रकार का मासिक वेतमान अलग अलग होती है| पत्रकार की सैलरी लगभग ₹20,000 तक की मासिक सैलरी मिलती है| किस क्षेत्र से पत्रकारिता करते है तो आपको आपके कार्य के आधार पर भी वेतमान दिया जाता है|

FAQ-

प्रश्न- पत्रकार बनने के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- पत्रकार बनने के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा लगभग 21 से 40 वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- न्यूज़ रिपोर्टर की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- न्यूज़ रिपोर्टर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹25,000 से ₹40,000 तक के बीच में होती है|

जिला मजिस्ट्रेट कैसे बना जाए How to become a District Magistrate

जिला मजिस्ट्रेट बनने की पूरी जानकारी Detail for DM Officer job in Hindi

जिला मजिस्ट्रेट कैसे बना जाए जिला मजिस्ट्रेट कैसे बने-  कोई भी सरकारी अधिकारी (DM officer) बनने के लिए  आपको उसके अनुसार मेहनत भी करनी पडती है क्योंकि बिना मेहनत किये आप कुछ नही पा सकते और आज कल सभी लोगो की पहली इच्छा यही होती है कि वह कोई भी सरकारी नौकरी प्राप्त करे| आवेदन करने के इच्छुक उम्मीदवार इस पद के लिए निर्धारित शैक्षणिक योग्यता एवं अन्य अर्हताओं की पूर्ति करते हों, वे निर्धारित समय-सीमा वाले ही अपना आवेदन  कर सकते है| यहाँ पर DM officer कैसे बने इसके बारे में बताया जा रहा है| जिससे आपको काफी मदद मिल सकेगी| DM officer की नौकरी बहुत अच्छी मानी जाती है और इसमें अपना खुद का नाम भी होता है साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिलती है| योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता है|

जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) क्या है? What is a DM? –

डीएम का‌ पुरा नाम District Magistrate (जिला मजिस्ट्रेट) भी कहते है| एक जिला कलेक्टर, जिसे अक्सर कलेक्टर को संक्षेप में बताया जाता है, भारत में एक जिले के राजस्व संग्रह और प्रशासन के प्रभारी एक भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी जिसे जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) कहा जाता है|

जिला मजिस्ट्रेट बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for DM Officer-

डीएम बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से ग्रेजुएट (graduation) पास किया हुआ होना आवश्यक हैं और साथ ही जिला मजिस्ट्रेट  के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकते है|

जिला मजिस्ट्रेट बनने के लिए उम्र सीमा Age limit for DM Officer Requirement-

डीएम  (District Magistrate) बनने के लिए उम्र सीमा लगभग 21 से 30 साल के बीच तक की होनी जरूरी चाहिए और OBC उम्मीदवारों के लिए 3 साल की छुट और SC / ST उम्मीदवारों के लिए 5 साल की छुट मिलती है|

जिला मजिस्ट्रेट बनने के लिए चयन प्रक्रिया Selection Process for DM Officer job-

जिला मजिस्ट्रेट के लिए उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाता है-

  1. प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  2. मुख्य परीक्षा (Main Exam)
  3. साक्षात्कार (Interview)

जिला मजिस्ट्रेट के कार्य क्या होते है District Magistrate work-

जिला मजिस्ट्रेट जिले का मुख्य कार्यकारी, प्र्संसिनिक प्रशासनिक और राजस्व अधिकारी होते है, डीएम के कर्तव्य (कार्यो) के बारे में बताया गया है जैसे कि-

  1. कानून व्यवस्था की स्थापना
  2. पुलिस और जेलों का निरीक्षण करना
  3. सरकार को वार्षिक अपराध प्रतिवेदन प्रस्तुत करना
  4. अधीनस्थ कार्यकारी मजिस्ट्रेटो का निरीक्षण करना
  5. सभी मसलों से मंडल आयुक्त को अवगत कराना
  6. अपराध प्रक्रिया से संबंधित मुकदमो की सुनवाई करना
  7. मृत्युदंड से जुड़े कार्य को प्रमाणित करना

जिला मजिस्ट्रेट की तैयारी के लिए पैटर्न को समझे Pattern tips for DM Officer Exam-

डीएम (DM) बनने के लिए उम्मीदवारों को यूनियन पब्लिक सर्विस तथा  UPSC के तहत होने वाली CSE exam तथा सिविल सर्विस एग्जाम पास करना होता है| यह परीक्षाए पास करने के बाद जिले के डीएम (DM) बन सकते है| जिला मजिस्ट्रेट बनना चाहते है तो आपको IAS की तैयारी करनी जरूरी है| जिस से आपका प्रमोसन डीएम के लिए होता है|

सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत सी बाते ध्यान में रखनी होती है उसी में एक है अध्ययन सामग्री| जब हम तैयारी करना शुरू करते हैं तो बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है उनमे से सबसे बड़ी समस्या है उपयोगी किताब का चुनाव कर पाना और ये एक ऐसी समस्या है जिसका ना सिर्फ नए अभ्यर्थिओं बल्कि पुराने अभ्यर्थिओं को भी सामना करना पड़ सकता है| डीएम (DM) बनने के लिए परीक्षा की तैयारी के लिए Syllabus पर पूरा ध्यान देना चाहिए और साथ ही जनरल स्टडीज की तैयारी के लिए आपको हर सब्जेक्ट का कांसेप्ट जानना बहुत जरूरी है| इस एग्जाम का जनरल स्टडीज का सारा पैटर्न सिविल सर्विस एग्जाम के जैसा ही होता है|

जिला मजिस्ट्रेट की सैलरी DM Officer department Salary –

डीएम (DM) की सैलरी काफी अच्छी मानी जाती है| जिला मजिस्ट्रेट उम्मीदवारों के लिए सैलरी लगभग ₹25,000 से ₹52,000 तक के बीच में रखी गयी हुई होती है|

जिला मजिस्ट्रेट के लिए आवेदन  Application form for District Collector –

डीएम (DM) बनने के लिए आप इसका आवेदन इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ ही अप्लाई कर सकते है|

  FAQ-

प्रश्न- डीएम (DM) बनने के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- डीएम (DM) बनने के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा लगभग 21 से 30 वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- जिला मजिस्ट्रेट की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- जिला मजिस्ट्रेट चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹25,000 से ₹52,000 तक के बीच में होती है|

Question- What is the full form of DM?

Answer- The full form of DM is District Magistrate.

Question- What is the educational qualification of DM Collector?

Answer- The educational qualification for DM Collector Positions to candidates should have graduation pass from any recognized institution / boards.

Question- What is the selection process of DM Officer Exam?

Answer- Candidates in the CID Officer will be selected on some basis as-

  1. Preliminary Exam
  2. Main Exam
  3. Interview

Question- What is the function of the District Magistrate work?

Answer- The Chief Executive of the District Magistrate, is the administrative, administrative and revenue officer, the duty of the District Magistrate has been stated as-

  1. Establishment of law and order
  2. Inspecting police and prisons
  3. Presenting the annual crime report to the government
  4. Inspecting subordinate executive magistrates
  5. To make the Divisional Commissioner aware of all issues
  6. To hear the lawsuits related to the crime process

 

सीआईडी ऑफिसर कैसे बना जाए How to become a CID Officer

सीआईडी ऑफिसर बनने की पूरी जानकारी Detail for CID Officer job in Hindi

सीआईडी ऑफिसर कैसे बना जाएसीआईडी ऑफिसर कैसे बने-  कोई भी अन्य सरकारी अधिकारी बनना चाहते है तो आपको उसके अनुसार मेहनत भी करनी पडती है क्योंकि बिना मेहनत किये आप कुछ नही पा सकते और आज कल सभी लोगो की पहली इच्छा यही होती है कि वह कोई भी सरकारी नौकरी प्राप्त करे| यहाँ पर C.I.D. officer कैसे बने इसके बारे में बताया जा रहा है जिससे आपको काफी मदद मिल सकेगी| C.I.D. officer की नौकरी अच्छी मानी जाती है साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिल जाती है|

योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता है| उम्मीदवारों का चयन प्रारम्भिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार के आधार पर किया जाता है और post के साथ साथ इसमें परमोसन के चान्स (chance) देखने को मिलते है|

सीआईडी क्या है? What is a CID? –

सीआईडी (CID) का‌ पुरा नाम Criminal investigation Department (खुफिया पुलिस विभाग) कहा जाता है| CID Officers भारत सरकार के लिए डिटेक्टिव एजेंसी का कार्य करते है| सीआईडी भारत पुलिस का संगठन होता है और सीआईडी ऑफिसर को पुलिस ऑफिसर भी कहा जाता है| इस समय मे सीआईडी देश की बहुत महत्वपूर्ण सेवाओ में से एक बन चुकी है|

सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for CID Officer-

सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से ग्रेजुएट (graduation) पास किया हुआ होना आवश्यक हैं और साथ ही  CID  के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकते है|

सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए उम्र सीमा Age limit for CID Officer Requirement-

CID Officer बनने के लिए उम्र सीमा लगभग 21 से 35 साल के बीच तक की होनी जरूरी चाहिए और अन्य वर्ग के लोगो को छूट भी मिलती है|

सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए चयन प्रक्रिया Selection Process for CID Officer job-

सीआईडी ऑफिसर के लिए उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाता है-

  1. प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  2. मुख्य परीक्षा (Main Exam)
  3. साक्षात्कार (Interview)

सीआईडी ऑफिसर के लिए 3 अलग – अलग चयन प्रक्रिया रखी गयी है जिसके बाद सीआईडी ऑफिसर का चयन किया जाता हैं|

1. प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Exam)

आवेदन करने के बाद उम्मीदवार की प्रथम प्रारम्भिक परीक्षा ही होती है| जिसमें सभी उम्मीदवा अपनी योग्यता के अनुसार भाग ले सकते है| यह परीक्षा 200 अंको की होती है और इस परीक्षा का समय 2 घंटे रखा हुआ होता हैं| इस परीक्षा मे सफल हुए उम्मीदवारों को ही अगले चरण मे भेजा जाता हैं|

2. मुख्य परीक्षा (Main Exam)

CID Officer की परीक्षा मे वही उम्मीदवार भाग ले सकते है जो प्रारम्भिक परीक्षा मे सफल घोषित हुए हो और यह परीक्षा 400 अंको की होती हैं| इस परीक्षा के लिए उम्मीदवारों को समय 4 घंटे का दिया जात हैं|

3. साक्षात्कार (Interview)

CID Officer के लिए प्रारम्भिक परीक्षा व मुख्य परीक्षा मे सफल घोषित हुए उम्मीदवार को ही इसके अन्तिम चरण साक्षात्कार से गुजरना पड़ता है| यह 100 अंको का लिया जाता है|

सीआईडी ऑफिसर बनने तक का समय Time to become a CID officer job-

आईएस (IAS) की तरह सीआईडी (CID officer) बनने के लिए भी सभी वर्गों की अलग अलग सीमाएं निर्धारित की गयी होती है| एक उम्मीदवार निर्धारित प्रयास के अनुसार ही इसके लिए आवेदन कर सकते हैं|

  1. सामान्य श्रेणी के लिए- 5 समय
  2. ओबीसी श्रेणी के लिए- 7 समय
  3. एसटी / एससी श्रेणी के लिए- असीमित समय
सीआईडी ऑफिसर की तैयारी के लिए पैटर्न को समझे Pattern tips for CID Officer Exam-

सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत सी बाते ध्यान में रखनी होती है उसी में एक है अध्ययन सामग्री| जब हम तैयारी करना शुरू करते हैं तो बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है उनमे से सबसे बड़ी समस्या है उपयोगी किताब का चुनाव कर पाना और ये एक ऐसी समस्या है जिसका ना सिर्फ नए अभ्यर्थिओं बल्कि पुराने अभ्यर्थिओं को भी सामना करना करना पड़ सकता है| सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए परीक्षा की तैयारी के लिए Syllabus पर पूरा ध्यान देना चाहिए और साथ ही जनरल स्टडीज की तैयारी के लिए आपको हर सब्जेक्ट का कांसेप्ट जानना बहुत जरूरी है| इस एग्जाम का जनरल स्टडीज का सारा पैटर्न सिविल सर्विस एग्जाम के जैसा ही होता है|

सीआईडी ऑफिसर की सैलरी CID Officer department Salary –

सीआईडी ऑफिसर की सैलरी काफी अच्छी मानी जाती है| सीआईडी ऑफिसर उम्मीदवारों के लिए सैलरी लगभग ₹23,600 से ₹50,800 तक के बीच में रखी गयी हुई होती है|

सीआईडी ऑफिसर के लिए आवेदन  Application form for CID Officer-

सीआईडी ऑफिसर के लिए आवेदन आप इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ ही अप्लाई कर सकते है|

FAQ-

प्रश्न- सीआईडी ऑफिसर के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- सीआईडी ऑफिसर के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा लगभग 21 से 35 वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- सीआईडी ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- सीआईडी ऑफिसर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹23,600 से ₹50,800 तक के बीच में होती है|

Question- What is the full form of CID?

Answer- The full form of CID is Criminal Investigation Department.

Question- What is the selection process of CID Officer Exam?

Answer- Candidates in the CID Officer will be selected on some basis as-

  1. Preliminary Exam
  2. Main Exam
  3. Interview

Question- What is the educational qualification of CID Officer?

Answer- The educational qualification for CID Officer Positions to candidates should have graduation pass from any recognized institution / boards.

बैंक में बैंक कैशियर कैसे बने Easy Tips to become a Bank Cashier

बैंक में बैंक कैशियर बनने के लिए की पूरी जानकारी Detail for bank cashier Recruitment in Hindi

बैंक में बैंक कैशियर कैसे बनेबैंक में बैंक कैशियर बने के लिए क्या करे-  हर साल बैंक द्वारा बैंक कैशियर (Bank cashier) के कई पदों पर भर्ती के लिए आवेदन आमंत्रित किए जाते है| बैंक कैशियर बनने के लिए आपको IBPS Clerk exam की तैयारी करनी चाहिए| इस एग्जाम के तहत 20 बैंकों में से आप एक में नौकरी प्राप्त कर सकते है| बैंक में बैंक कैशियर की नौकरी अच्छी मानी जाती है साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिल जाती है| बैंक कैशियर के पदों के लिए फरवरी या मार्च के माह में ज्यादातर भर्तिया निकाली जाती है|

योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता है| उम्मीदवारों का चयन प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा के आधार पर किया जाता है और post के साथ साथ इसमें परमोसन के चान्स (chance) देखने को मिलते रहते है|

बैंक कैशियर की शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for bank cashier-

बैंक में बैंक कैशियर के पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों को पास किसी मान्यता प्राप्त संस्थान/ बोर्ड से 60% के साथ स्नातक (graduate) पास की हुई होनी चाहिए और बैंक कैशियर बनने के लिए आपको कंप्यूटर की भी नॉलेज का होना बहुत जरूरी है| इसके साथ ही उम्मीदवारों की शारीरिक क्षमता का भी अच्छा होना अति आवश्यक है|

बैंक में बैंक कैशियर की उम्र सीमा Age limit for bank cashier Recruitment-

बैंक कैशियर पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवार की अधिकतम आयु 21 से 30 वर्ष तक की होनी चाहिए| बैंक कैशियर के पदों के लिए अधिकतम आयु 28 साल निर्धारित की गई होती है| उम्मीदवारों को आयु में नियम के अनुसार छूट भी मिलेगी|

बैंक में कैशियर की चयन प्रक्रिया Selection process for bank cashier jobs-

बैंक में बैंक कैशियर के लिए उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाता है जैसे-

  1. प्रारंभिक परीक्षा
  2. मुख्य परीक्षा (Main examination)

बैंक में बैंक कैशियर भर्ती के लिए उम्मीदवारों का चयन हेतु विभाग द्वारा प्राप्‍त आवेदन के आधार पर लिखित परीक्षा / दस्‍तावेज सत्‍यापन / कौशल परीक्षा / साक्षात्‍कार / समूह चर्चा में लागू के लिए बुलाया जाता है| जिसमें प्रदर्शन के आधार पर उम्‍मीदवार का चयन किया जाता है|

बैंक में बैंक कैशियर की सैलरी Bank cashier Salary in Bank Job

बैंक में कैशियर की भर्ती के पदो पर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹25,000 से ₹40,000 रुपए के बीच तक की मासिक सैलरी होती है और साथ ही सभी बैंकों में इसके लिए अलग अलग सैलरी निर्धारित की गयी है|

बैंक में कैशियर की भर्ती के लिए आवेदन  Application form for Bank cashier-

बैंक में बैंक कैशियर की भर्ती के लिए आवेदन आप इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ ही अप्लाई कर सकते है|

बैंक में कैशियर की भर्ती के लिए आवेदन शुल्क Application fee for Bank cashier recruitment-

बैंक में कैशियर भर्ती के लिए आवेदन शुल्क सामान्य और ओबीसी वर्ग के अभ्यार्थियों को लगभग ₹800 एप्लीकेशन फ़ीस देनी होंगी, जबकि SC / ST / PWD वर्ग के उम्मीदवारों को लगभग ₹550 आवेदन शुल्क जमा करना होता है| सरकार द्वारा आवेदन शुल्क में छुट भी दी जाती है|

FAQ-

प्रश्न- बैंक में बैंक कैशियर की उम्र सीमा कितनी होनी चाहिए?

उत्तर- बैंक में बैंक कैशियर की उम्र सीमा लगभग 18 से 30 वर्ष तक के बीच में होनी चाहिए|

प्रश्न- बैंक कैशियर की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- बैंक कैशियर उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹25,000 से ₹40,000 तक के बीच में होती है|

Question- What is bank cashier?

Answer- A bank cashier is an employee of a bank who deals directly with customers. In some places, this employee is known as a cashier or customer representative and most cashier jobs require experience with handling cash.

Question- What is the selection process of Bank cashier exam?

Answer- Candidates in the Bank cashier will be selected on some basis as-

  1. Preliminary Examination
  2. Main Examination

Question- What is the educational qualification for Bank cashier in bank job?

Answer- The educational qualification for Bank cashier positions to candidates should have passed 60% Graduate from any recognized institution / boards.

Question- What is the role of the cashier work?

Answer- Cashiers work in a variety of places including supermarkets, retail stores, gas stations, movie theaters and restaurants etc. As a cashier take their money and give them their change and a receipt.

पीसीएस की परीक्षा के लिए तैयारी कैसे करे How To Prepare For PCS Exam

पीसीएस की परीक्षा की तैयारी के लिए महत्त्वपूर्ण टिप्स Detail for PCS Exam in Hindi

पीसीएस की परीक्षा के लिए तैयारी कैसे करे पीसीएस की परीक्षा के लिए तैयारी कैसे करे- (PCS) पीसीएस की फुल फॉर्म प्रांतीय सिविल सेवा (Provincial Civil Service) होती है| PCS Exam प्रत्येक वर्ष स्टेट पब्लिक सर्विस कमीशन (State Public Service Commission) द्वारा करवाया जाता है|

अधिक आवेदक राज्य पीसीएस परीक्षाओं में अपना भाग्य आजमाते हैं| पीसीएस परीक्षा और राज्य सिविल सेवा परीक्षाओं में सफलता की संभावना काफी कम होती है (एक बार में 1% से भी कम) लेकिन इस नौकरी के प्रोफाइल से जुड़ी प्रतिष्ठा और विशेष अधिकार अभी भी बड़े पैमाने पर बुद्धिजीवी वर्ग को आकर्षित करते हैं| PCS बनने का सपना आज कल के युग में बहुत से छात्रों का होता है| PCS परीक्षा और परीक्षाओ में से एक है| जिसकी तैयारी करने के लिए बहुत कड़ी मेहनत करनी होती है| लोक सेवा आयोग द्वारा यह परीक्षा आयोजित करवाई जाती है|  पीसीएस परीक्षा को क्लियर करने के बाद कैंडिडेट्स को स्टेट एडमिनिस्ट्रेशन की इम्पोर्टेन्ट पोस्ट पर कार्य करने की उपलब्धि मिल सकती है|

पीसीएस की परीक्षा के लिए योग्यता Eligibility Criteria for PCS Exam-

पीसीएस की परीक्षा में वही उम्मीदवार आवेदन कर सकते है जिनके पास किसी  मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से ग्रेजुएट (graduate) होने चाहिए|

पीसीएस की परीक्षा के लिए उम्र सीमा Age limit for PCS Requriement-

पीसीएस परीक्षा के लिए उम्र सीमा लगभग 21 से 40 साल के बीच तक की होनी जरूरी होती है और अन्य वर्ग को छूट भी मिलती है|

पीसीएस की परीक्षा के लिए चयन प्रक्रिया Selection Process for PCS Exam-

पीसीएस की तीन परीक्षाएँ होती है-

  1. प्रारंभिक परीक्षा
  2. मुख्य परीक्षा
  3. साक्षात्कार

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Examination)-

प्रारंभिक परीक्षा के दो पेपर होते है और दोनों पेपर एक ही दिन में होते है| आपको ज्यादा से ज्यादा फोकस पहले पेपर पर करना है क्योंकि मेरिट जो बनेगी वो पहले पेपर से ही बनेगी| पहले पेपर को अच्छे से करके आये| पहला पेपर आपका जनरल स्टडीज का होता है| इसके लिए आपको समान्य अध्द्ययन से सम्बन्धित जानकारी के बारे में पढ़ना है इसमें प्रश्ननो की संख्या 150 होती है और 200 अंक का पेपर होता है|

मुख्य परीक्षा (Main Examination)-

मुख्य परीक्षा में आपको दो विषय लेने होते हैं| ये दोनों 800 नंबर के होते हैं| इनके कुल चार पेपर होते हैं यानि प्रत्येक पेपर 200 नंबर का होता है|

इसमें 200 नंबर के दो पेपर होते हैं| हिंदी का 150 नंबर का एक पेपर होता है|

 इसी तरह निबंध का 150 नंबर का एक पेपर होता है जिसमे 3 निबंध लिखने होते हैं| ये निबंध तीन खण्डों में बटे होते हैं और हर खण्ड से एक निबंध करना होता है|

साक्षात्कार (PCS Interview)-

PCS का Interview पुरे 200 अंको का होता है| यहां आपसे कुछ प्रश्न पूछे जाते है| जिनके जवाब आपको देने होते है| सबसे ज्यादा ध्यान आपकी बुद्धि पर देते है की आप कैसे उत्तर दे रहे है| इंटरव्यू में आपसे ऐसे प्रश्न पूछे जायेंगे जिनके जवाब आपको अपनी बुद्धि के प्रयोग से ही करके होते है|

पीसीएस परीक्षा की तैयारी के लिए इसके पाठ्यक्रम को जाने Course preparation for PCS exam-

पीसीएस परीक्षा के लिए यह सिलेबस होता है-

  1. भारतीय इतिहास
  2. भूगोल
  3. संविधान
  4. इकोनोमी
  5. सामान्य विज्ञान
  6. पर्यावरण
  7. कृषि
  8. स्टेट स्पेशल
  9. कर्रेंट अफेयर्स
  10. स्टेट से रिलेटेड स्टडी

पीसीएस परीक्षा के लिए एग्जाम में स्टेट से रिलेटेड अधिक जानकारी पूछी जाती है तो इसके लिए अपने स्टेट से रिलेटेड सभी जानकारी के बारे में पता होना बहुत जरूरी है|

पीसीएस परीक्षा स्टेट के लिए न्यूज़ पेपर को रोज पढ़े ताकि आपकी नॉलेज स्टेट से सम्बन्धित हो सके और इसका ज्ञान भी आपको  पहले से रहे|  

न्यूज़ पेपर में स्टेट में related चर्चा की जाती है हर घटना की जानकारी न्यूज़ पेपर में छपती रहती है और राज्य सरकार के सभी कार्य भी न्यूज़ पेपर में अवश्य आते ही है इसिलए स्टेट से रिलेटेड जानकारी के लिए तो आप न्यूज़ पेपर की मदद ले सकते है|

होम पोस्ट अप्लाई करने का सबसे बड़ा फायदा यह है की हमे वहाँ की लैंग्वेज (भाषा) का पता होता है और इकोनॉमी, हिस्ट्री, कल्चर इन सब के बारे में भी पता होता है|

पीसीएस परीक्षा के लिए तैयारी करते समय जानकारी प्राप्त शुरू करनी चाहिए|

पीसीएस की परीक्षा तैयारी के लिए पैटर्न को समझे Pattern tips for PCS Exam-

सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत सी बाते ध्यान में रखनी होती है उसी में एक है अध्ययन सामग्री| जब हम तैयारी करना शुरू करते हैं तो बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है उनमे से सबसे बड़ी समस्या है उपयोगी किताब का चुनाव कर पाना और ये एक ऐसी समस्या है जिसका ना सिर्फ नए अभ्यर्थिओं बल्कि पुराने अभ्यर्थिओं को भी सामना करना करना पड़ सकता है|

  1. PCS परीक्षा की तैयारी के लिए Syllabus पर पूरा ध्यान दे|
  2. पीसीएस की परीक्षा की तैयारी के लिए Subject नहीं Basic पर देध्यान दे|
  3. जनरल स्टडीज की तैयारी के लिए आपको हर सब्जेक्ट का कांसेप्ट जानना बहुत जरूरी है| इस एग्जाम का जनरल स्टडीज का सारा पैटर्न सिविल सर्विस एग्जाम के जैसा ही होता है इसमें अगर कुछ अलग है तो वो यह है-
  4.  इस एग्जाम में आपके स्टेट का कल्चर, एग्रीकल्चर, स्टेट एजुकेशन, सोशल कस्टम्स, इंडस्ट्रीज आदि सब के बारे में भी प्रश्न पूछे जाते है और जनरल स्टडीज में हिस्ट्री, पोलिटिकल, जियोग्राफी, इकनोमिक आदि के बारे में अधिक प्रश्न पूछे जाते है इसिलए स्टेट से रिलेटेड सारी जनरल नॉलेज और जनरल स्टडीज इन सब के बारे में पढ़ना और इन सब्जेक्ट पर ज्यादा से ज्यादा फोकस (focus) करना बहुत जरूरी है|
  5. जनरल स्टडीज में आपको कुछ क्षेत्रों से जुड़े हुए प्रश्न को समझना होगा| यदि आपको इस एग्जाम में पास होना है तो आपको 115 से अधिक ही प्रश्न सही करने होंगे इसका टाइम बनाये की आप कब तक प्रश्न को हल कर पा रहे है या नहीं इस पर भी जरुर ध्यान दे|

फैमली रिलेशन से संबंधित प्रश्न उत्तर Family Relation for Reasoning Questions

फैमली रिलेशन पर टॉप 25 प्रतियोगी परीक्षा प्रश्न Important Questions for Family Relation in Hindi

फैमली रिलेशन से संबंधित प्रश्न उत्तरफैमली रिलेशन  से संबंधित रिजनिंग प्रश्नों के अन्तर्गत यहां पिछले वर्षों में (Family related in Competitive Exam) पूछे गए फैमली संबंधी (Family Relation) प्रश्नों के उत्तर बताये जा रहे है जिससे कि अ​भ्यर्थियों में आत्मविश्वास बढ़ेगा  और साथ ही आसानी से एसएससी, बैंक, एलआईसी, रेलवे आदि परीक्षाओं में सफलता पाने में भी मदद मिल सकेगी| |

यहाँ पर आपको फैमली रिलेशन  से संबंधित प्रतियोगी परीक्षा से जुड़े प्रश्नों की तैयारी के लिए कुछ टॉप 25 प्रश्न उत्तर बताये जा रहे है साथ ही फैमली रिलेशन  से संबंधित सामान्य ज्ञान (Verbal Reasoning Questions Answers for competitive examinations) पारिवारिक सम्बन्ध करंट अफेयर के प्रश्न (Family Relation MCQ and Logical Reasoning preparation), रिजनिंग प्रश्नों(Family related questions), रक्त परिसंचरण तंत्र (Reasoning GK Question Answer), फैमली रिलेशन  करंट अफेयर (Level Blood Circular Quiz) आदि के बारे में जानकारी दी गयी है|

फैमली रिलेशन से संबंधित प्रतियोगी परीक्षा के कुछ महत्त्वपूर्ण प्रश्न Family Related Important Question and Answer-

प्रश्न 1- एक लड़की की ओर संकेत करते हुए गोपाल ने कहा ‘वह मेरे ग्रैंडफादर की इकलौती संतान की एक ही पुत्री है’ वह लड़की गोपाल की क्या लगेगी?

(A) पुत्री (B) भतीजी (C) बहन (D) जानकारी अधूरी है

उत्तर- (C) बहन

प्रश्न 2- एक तस्वीर की ओर इशारा करते हुए सूरज ने कहा, ‘उसकी पुत्री शोभा मेरी माँ की पोती है|’ बताएँ कि वह तस्वीर किसकी है?

 (A) सूरज के चाचा की (B) सूरज के भाई की (C) सूरज के पुत्र की (D) इनमें से कोई नहीं

उत्तर- (D) इनमें से कोई नहीं

प्रश्न 3- रघु तथा बाबू जुड़वाँ हैं| बाबू की बहन सीमा है| सीमा का पति राजन है| रघु की माँ लक्ष्मी है| लक्ष्मी का पति, राजेश है| इसके अनुसार, राजेश का राजन से क्या रिश्ता है?

(A) चाचा (B) दामाद (C) ससुर (D) चचेरा भाई

उत्तर- (C) ससुर

प्रश्न 4- एक लड़की की तरफ इशारा करते हुए रोहित कहता है, वह मेरे पिता के एकमात्र संतान की पुत्री है| रोहित की पत्नी उस लड़की से किस प्रकार संबंधित है?

(A) पुत्री (B) माँ (C) चाची (D) बहन

उत्तर- (B) माँ

प्रश्न 5- A, B की बहन है| C, B की माँ है| D, C का पिता है| E, D की माता है, तो A का D से क्या रिश्ता है?

(A) नानी (B) नाना (C) पुत्री (D) नतिनी

 उत्तर- (C) पुत्री

प्रश्न 6- एक लड़के की ओर इशारा करते हुए रमा ने कहा, ‘वह मेरी सास की इकलौती संतान का बेटा है| वह लड़का रमा से किस प्रकार संबंधित है?

(A) पोता (B) बेटा (C) भतीजा (D) आँकड़े अधूरे हैं

उत्तर- (B) बेटा

प्रश्न 7- B, C के दादा की इकलौती बेटी का इकलौता पुत्र है| C के पिता B से किस प्रकार संबंधित है?

(A) माता (B) चाचा (C) पिता (D) ज्ञात नहीं कर सकते

उत्तर- (A) माता

प्रश्न 8- R, Q की पुत्री है| M, B की बहन है जो Q का पुत्र है| M का R से क्या संबंध है?

(A) कजन (B) नीस (C) बहन (D) आन्ट

उत्तर- (C) बहन

प्रश्न 9- एक लड़के की ओर इशारा करते हुए सीमा ने कहा, ‘वह मेरे ग्रैंडफादर के एकमात्र बच्चे का पुत्र है|’ वह लड़का सीमा से किस प्रकार संबंधित है?

(A) भाई (B) चाचा (C) दादा (D) बहनोई

उत्तर- (A) भाई

प्रश्न 10- P का पति B है| E जो D की पत्नी और P की सास है। उसका एक मात्र ग्रैंडसन है| Q, B का D से क्या संबंध है?

(A) कजन (B) दामाद (C) पुत्र (D) भतीजा

उत्तर- (A) कजन

प्रश्न 11- फातिमा ने अपने पति से रोहनी का परिचय कराते हुए कहा कि उसके भाई के पिता मेरे दादाजी के इकलौते पुत्र हैं| रोहनी का फातिमा से क्या सम्बन्ध है?

(A) चाची (B) बहन (C) भतीजी (D) माता

उत्तर- (B) बहन

प्रश्न 12- M, K का भाई है, P, K की बहन है, R, P का पिता है| K, R से किस प्रकार संबंधित है?

(A) पुत्र (B) पुत्री (C) पुत्र या पुत्री (D) सूचना अपर्याप्त है

उत्तर- (C) पुत्र या पुत्री

प्रश्न 13- D, A का पुत्र है| C, P की मात और D की पत्नी है A का C से क्या संबंध है?

(A) पिता (B) अंकल (C) ससुर (D) डाटा अपर्याप्त

उत्तर- (D) डाटा अपर्याप्त

प्रश्न 14- एक महिला की ओर संकेत करते हुए पवन ने कहा, ‘वह मेरे पिता की एकमात्र बहन की पुत्री है|’ वह ​महिला पवन किस प्रकार से सम्बन्धित है?

(A) माता (B) बुआ (C) बहन (D) फुफेरी बहन

उत्तर- (D) फुफेरी बहन

प्रश्न 15- रमेश और सुरेश भाई-भाई हैं| राखी और गीता आपस में बहनें हैं| रमेश का लड़का गीता का भाई है| बताइए सुरेश और राखी का आपस में क्या सम्बन्ध हुआ?

(A) भाई (B) दादा (C) चाचा (D) उपरोक्त में से कोई नहीं

उत्तर- (C) चाचा

प्रश्न 16- एक लड़के की ओर इशारा करते हुए वीना ने कहा, ‘वह मेरे दादाजी के इकलौते पुत्र का पुत्र है|’ वह लड़का वीना से किस प्रकार सम्बन्धित है?

(A) चाचा (B) भाई (C) चचेरा भाई (D) भतीजा

उत्तर- (B) भाई

प्रश्न 17- अपने से आगे बैठी हुई ‘महिला की ओर देखते हुए अमित ने कहा, वह मेरी पत्नी की बहन है|’ उस महिला का अमित से क्या सम्बन्ध है?

(A) भतीजी (B) पुत्री (C) साली (D) पत्नी

उत्तर- (C) साली

प्रश्न 18- एक आदमी की ओर इशारा करते हुए एक महिला ने कहा, ‘उसकी माँ मेरी माँ की एकमात्र बेटी की बेटी है|’ वह आदमी उस महिला से किस प्रकार संबंधित है?

(A) ​बेटा (B) पिता (C) भाई (D) नाती

उत्तर- (D) नाती

प्रश्न 19- सुनील, केशव का पुत्र है| केशव की बहन, सिमरन के एक पुत्र मारुति और पुत्री सीता है| प्रेम मारुति की माता है| सुनील का मारुति से क्या सम्बन्ध है?

(A) भाई (B) भतीजा (C) ममेरा भाई (D) माता

उत्तर- (C) ममेरा भाई

प्रश्न 20- एक लड़के की ओर संकेत करते हुए दिव्या ने कहा-‘वह मेरे पिता के इकलौते भाई का पुत्र है’ दिव्या उस लड़के से किस प्रकार संबंधित है?

(A) बहन (B) चचेरी बहन (C) जानकारी अधूरी है (D) इनमें से कोई नहीं

उत्तर- (B) चचेरी बहन

प्रश्न 21- चित्र में एक लड़के की ओर संकेत करते हुए सुधीर ने कहा-‘यह मेरे नाना की इकलौती संतान का पुत्र है|’ वह लड़का सुधीर से किस प्रकार संबंधित है?

(A) स्वयं (B) भाई (C) कजन भाई (D) जानकारी अधूरी है

उत्तर- (D) जानकारी अधूरी है

प्रश्न 22- सुरेश की बहन, राम की पत्नी है| राम, रानी का भाई है। राम के पिता मधुर हैं| शीतल, राम की दादी है| रीमा, शीतल का पुत्रवधू है| रोहित, रानी के भाई का पुत्र है| रोहित, सुरेश का क्या लगता है?

(A) साला (B) पुत्र (C) भाई (D) भान्जा

उत्तर- (D) भान्जा

प्रश्न 23- दया का एक भाई अनिल है| दया, चन्द्रा का पुत्र है| विमान चन्द्रा के पिता हैं| रिश्ते में अनिल, विमान का क्या लगता है?

(A) दादा के भाई (B) नाती (C) दामाद (D) भाई

उत्तर- (B) नाती

प्रश्न 24- अतिथियों को आशा का परिचय कराते हुए, भास्कर ने कहा, ‘उसके पिता मेरे पिता के इकलौते पुत्र हैं|’ आशा भास्कर से किस प्रकार सम्बन्धित है?

(A) भतीजी (B) पौत्री (C) माता (D) पुत्री

उत्तर- (D) पुत्री

प्रश्न 25- एक आदमी ने एक महिला से कहा, ‘आपके भाई का एकमात्र पुत्र, मेरी पत्नी का भाई है| वह महिला उस आदमी की पत्नी से किस प्रकार सम्बन्धित है?

(A) बुआ (B) बहन (C) माता (D) दादी

उत्तर- (A) बुआ

डाक विभाग भर्ती में कैसे पाए नौकरी How to get Indian Post Office Jobs

डाक विभाग भर्ती की पूरी जानकारी Detail for Indian Post Office Recruitment in Hindi

डाक विभाग भर्ती में कैसे पाए नौकरीडाक विभाग भर्ती में नौकरी कैसे पाए- डाक  विभाग (Post Office) ने कई पदों पर भर्ती के लिए हर साल आवेदन आमंत्रित किए जाते है| सरकार द्वारा डाक विभाग के माध्यम से कई पदों पर उम्मीदवारों का चयन करवाया जाता है|  

भारतीय डाक सेवा (India Postal Service) ग्रामीण डाक सेवक पदों के रिक्त स्थानों की पूर्ति हेतु भर्ती निकालती रहती है| आवेदन करने के इच्छुक उम्मीदवार इन पदों के लिए निर्धारित शैक्षणिक योग्यता एवं अन्य अर्हताओं की पूर्ति करते हों, वे निर्धारित समय-सीमा के भीतर विभाग को अपना आवेदन  कर सकते है| डाक  विभाग की नौकरी अच्छी मानी जाती है साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिल जाती है| डाक  विभाग की भर्ती मई या जून के माह में ज्यादातर निकलती है|  योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता है| उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा के आधार पर किया जाता है और post के साथ साथ इसमें परमोसन के चान्स (chance) देखने को मिलते रहते है|

डाक विभाग भर्ती की शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for Post Office-

डाक विभाग भर्ती के लिए पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों को पास किसी मान्यता प्राप्त संस्थान/ बोर्ड से 12वीं पास की हुई होनी चाहिए और साथ ही कंप्यूटर की 60 दिन तक की नॉलेज का होना जरूरी मागा जाता है| इसके साथ ही उम्मीदवारों की शारीरिक क्षमता का भी अच्छा होना अति आवश्यक है|

डाक विभाग भर्ती की उम्र सीमा Age limit for Indian Post Office Recruitment-

डाक विभाग भर्ती में आवेदन करने के लिए उम्मीदवार की अधिकतम आयु 18 से 40 वर्ष तक की होनी चाहिए| डाक  विभाग भर्ती के पदों के लिए अधिकतम आयु 40 साल निर्धारित की गई होती है| उम्मीदवारों को आयु में नियम के अनुसार छूट भी होती है|

डाक विभाग भर्ती की चयन प्रक्रिया Selection process for Indian Post Office jobs

डाक  विभाग भर्ती में उम्मीदवारों का चयन हेतु विभाग द्वारा प्राप्‍त आवेदन के आधार पर लिखित परीक्षा / दस्‍तावेज सत्‍यापन / कौशल परीक्षा / साक्षात्‍कार / समूह चर्चा में लागू के लिए बुलाया जाता है| जिसमें प्रदर्शन के आधार पर उम्‍मीदवार का चयन किया जाता है| 

डाक विभाग भर्ती की सैलरी Indian Post Office Salary

डाक विभाग भर्ती के पदो पर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹18,000 से ₹36,000 के बीच तक सैलरी निर्धारित की हुई होती है|

डाक विभाग की भर्ती के लिए आवेदन  Application form for Post Office Recruitment-

डाक विभाग की भर्ती के लिए आवेदन आप इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ ही अप्लाई कर सकते है|

डाक विभाग भर्ती के लिए आवेदन शुल्क Application fee for Post Office recruitment-

डाक विभाग भर्ती के लिए आवेदन शुल्क सामान्य और ओबीसी वर्ग के अभ्यार्थियों को 100 रुपए एप्लीकेशन फ़ीस देनी होंगी, जबकि SC / ST / PWD वर्ग के उम्मीदवारों को 50 रुपए आवेदन शुल्क जमा करना होता है और साथ ही महिलाओ के लिए नि : शुल्क होता है|

FAQ-

प्रश्न- डाक  सेवा के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- डाक  विभाग की भर्ती के लिए फिजिकल टेस्ट में महिलाओ की लम्बाई लगभग 150 cm मागी जाती है|

प्रश्न- डाक  विभाग भर्ती की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- डाक  विभाग भर्ती के पदो पर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹18,000 से ₹36,000 तक के बीच में होती है|

Question- What is the selection process for Indian Post Office exam?

Answer- Candidates in the Indian Post Office will be selected on some such basis as-

  1. Written exam
  2. Document verification
  3. Skill test
  4. Interview
  5. Applicable in group discussion

Question- What is the educational qualification of Indian Post Officer?

Answer- The educational qualification for Indian Post Officer to candidates should have 10th pass from any recognized institution / boards and with computer knowledge in minimum 60 days.

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड कैसे बने How to become a forest Guard

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड की पूरी जानकारी Forest Guard job in Forest Department 

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड कैसे बने वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड भर्ती की जानकारी- वन विभाग (Forest Department) ने कई पदों पर भर्ती के लिए हर साल आवेदन आमंत्रित किए जाते है| वन विभाग इस भर्ती के माध्यम से रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर, फॉरेस्ट गार्ड सहित कई पदों पर उम्मीदवारों का चयन करवाती है| वन विभाग की नौकरी अच्छी मानी जाती है साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिल जाती है| वन विभाग में फरवरी या मार्च के माह में ज्यादातर निकलती है|

योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता हैउम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा और फिजिकल टेस्ट के आधार पर किया जाता है और post के साथ साथ इसमें परमोसन के चान्स (chance) देखने को मिलते रहते है|

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड की शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for forest guard-

रेंज फॉरेस्ट गार्ड के पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवारों को पास किसी मान्यता प्राप्त संस्थान/ बोर्ड से 12वीं पास की हुई होनी चाहिए| इसके साथ ही उम्मीदवारों की शारीरिक क्षमता का भी अच्छा होना अति आवश्यक है|

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड की उम्र सीमा Age limit for forest guard Recruitment-

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवार की अधिकतम आयु 18 से 28वर्ष तक की होनी चाहिए| वन अधिकारी के पदों के लिए अधिकतम आयु 28 साल निर्धारित की गई होती है| उम्मीदवारों को आयु में नियम के अनुसार छूट भी मिलेगी|

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड की चयन प्रक्रिया Selection process for Forest Guard jobs-

वन विभाग में उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाएगा जैसे-

  1. लिखित परीक्षा
  2. फिजिकल टेस्ट
  3. मेडिकल टेस्ट

वन विभाग की लिखित परीक्षा- लिखित परीक्षा मई या जून के महीने में करवाई जाती है| उम्मीदवारों को प्रारंभिक परीक्षा देनी होती है| इसमें दो प्रश्न पत्र होते है|

सामान्य अध्ययन – 150 अंक का

और कुछ वैकल्पिक विषय- 300 अंक का

फिर दूसरे पेपर के लिए वैकल्पिक विषय में से विषयों को चुना जाता है|

  1. कृषि
  2. पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान
  3. बॉटनी
  4. रसायन विज्ञान
  5. असैनिक अभियंत्रण
  6. व्यापार
  7. अर्थशास्त्र
  8. इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  9. भूगोल
  10. भूगर्भशास्त्र
  11. भारतीय इतिहास
  12. कानून
  13. अंक शास्त्र
  14. मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  15. दर्शन
  16. भौतिक विज्ञान
  17. राजनीति विज्ञान
  18. मनोविज्ञान
  19. सार्वजनिक प्रशासन
  20. नागरिक सास्त्र
  21. सांख्यिकी
  22. प्राणि विज्ञान

वन विभाग में उम्मीदवारों का 2 चरण- वह उम्मीदवार जो “प्रारंभिक परीक्षा” में योग्य घोषित होते हैं| अंतिम परीक्षा के लिए तैयारी करना शुरु कर देना चाहिए| सामान्य रूप से अक्टूबर के महीने में आयोजित करवाई जाती है| जिसमे निबंध भी शामिल है और विषय भी जैसे- अंग्रेजी, सामान्य निबंध, सामान्य अध्ययन आदि|

वन विभाग के चयन के लिए फिजिकल टेस्ट- फिजिकल टेस्ट में पुरुषों की लम्बाई लगभग 163 cm मागी जाती है वही महिलाओं की लम्बाई 150cm तक की मागी जाती है| साथ ही सिर्फ पुरुषों के लिए छाती 79cm और तोड़ा फुलाके 5cm ज्यादा होनी चाहिये|

वन अधिकारी के लिए अंतिम चरण साक्षात्कार- परीक्षा का अंतिम चरण साक्षात्कार है| उम्मीदवारों के साक्षात्कार उनके व्यक्तित्व और मानसिक क्षमता का परीक्षण करने के लिए होता है| फिर सफल उम्मीदवारों की अंतिम सूची तैयार की जाती है और फिर उम्मीदवारों को इन सेवाओं के लिए चुना जाता है| लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासन अकादमी, मसूरी में नए भर्ती हुए उम्मीदवारों को प्रशिक्षण (Trained) दिया जाता है| इसमें वन और वन्य जीवन प्रबंधन, मृदा संरक्षण, सर्वेक्षण, अनुसूचित जनजातियों, और हथियारों पर प्रशिक्षण के साथ, देहरादून में इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वन अकादमी में वन प्रशिक्षण दिया जाता है|

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड भर्ती की सैलरी Forest guard Salary in forest department-

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड भर्ती के पदो पर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹21,600 से ₹40,050 रुपए के बीच तक की मासिक सैलरी होती है|

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड की भर्ती के लिए आवेदन  Application form for forest guard-

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड की भर्ती के लिए आवेदन आप इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ ही अप्लाई कर सकते है|

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड भर्ती के लिए आवेदन शुल्क Application fee for forest guard recruitment-

वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड भर्ती के लिए आवेदन शुल्क सामान्य और ओबीसी वर्ग के अभ्यार्थियों को 100 रुपए एप्लीकेशन फ़ीस देनी होंगी, जबकि SC / ST / PWD वर्ग के उम्मीदवारों को 50 रुपए आवेदन शुल्क जमा करना होता है|

FAQ-

प्रश्न- फॉरेस्ट गार्ड के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- फॉरेस्ट गार्ड के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा लगभग 18 से 28वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- फॉरेस्ट गार्ड के लिए फिजिकल टेस्ट में महिलाओ की लम्बाई कितनी मागी जाती है?

उत्तर- फॉरेस्स्ट गार्ड के लिए फिजिकल टेस्ट में महिलाओ की लम्बाई लगभग 150 cm मागी जाती है|

प्रश्न- वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड भर्ती की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड भर्ती के पदो पर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹21,600 से ₹40,050 तक के बीच में होती है|

Question- What is the selection process of forest guard exam?

Answer- Candidates in the Forest Department will be selected on some such basis as-

  1. Written Examination
  2. Physical Test
  3. Medical Test

Question- What is the height of male candidates in physical test for forest guard?

Answer- The height of male candidates in physical test for forest guard is 150 cm.

Question- What is the educational qualification of forest guard in forest department?

Answer- The educational qualification for forest guard positions to a candidates should have passed 12th pass from any recognized institution / boards.

भारत सड़क से संबंधित टॉप 30 प्रश्न उत्तर Road Sectors GK Question

भारत सड़क से जुड़े सामान्य ज्ञान के कुछ महत्त्वपूर्ण प्रश्न Indian road Competitive Exam for GK Question

भारत सड़क से संबंधित टॉप 30 प्रश्न उत्तरभारत सड़क से संबंधित प्रश्न उत्तर-  सड़क सुरक्षा राष्ट्रीय राजमार्ग 20 सड़क मार्ग जो सभी क्रांति राजधानियों को जोड़ते हैं और व्यापार केंद्र को भी जोड़ते हैं| सड़क सुरक्षा शिक्षा से संबंधित सवाल परीक्षा में भी पूछे जात्ते है| यहाँ पर आपको भारत सड़क से संबंधित प्रतियोगी परीक्षा से जुड़े प्रश्नों की तैयारी के लिए कुछ टॉप 30 प्रश्न उत्तर बताये गये है साथ ही भारत सड़क से संबंधित सामान्य ज्ञान के महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर भी शामिल किये गये है|

आधारिक संरचना (Important GK Questions for Indian roads), सड़क परिवहन (Development of roads), भारत सड़क से जुड़े सामान्य ज्ञान (Indian road network for Competitive Exam), सड़क सुरक्षा शिक्षा से संबंधित सवाल (Roads in hilly areas are strategically), भारत सड़क से जुड़े सामाजिक जागरुकता के प्रश्न (State wise road density), सड़क सुरक्षा परिवहन (Road sectors), सडक सुरक्षा प्रश्न प्रतियोगिता (Road development Infrastructure), यातायात और भारत सड़क के बारे में (Related to road Projects) आदि के बारे में जानकारी दी गयी है|

भारत सड़क से जुड़े कुछ महत्त्वपूर्ण प्रश्न उत्तर GK for Indian Roads Important Question and Answer-

प्रश्न 1- भारत में देश के कुल सड़क यातायाप (Traffic) का भाग कितना है?

उत्तर- 80%

प्रश्न 2-  विश्व में सबसे ऊँचाई पर कौन – सी सड़क है?

उत्तर- मनाली – लेह (भारत)

प्रश्न 3- राष्ट्रीय राजमार्गों को मिलाकर ग्रांट ट्रंक रोड किसे कहा जाता है?

उत्तर- राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 1 और 2 को

प्रश्न 4- ग्रांट ट्रंक रोड (GT Road) वर्तमान में किन नगरों के मध्य से है?

उत्तर- अमृतसर से कोलकाता

प्रश्न 5- ग्रांट ट्रंक रोड किसने बनवायी थी?

उत्तर- शेरशाह सूरी ने

प्रश्न 6- पहले ग्रांट ट्रंक रोड कहाँ से कहाँ तक थी?

उत्तर- कोलकाता से लाहौर तक

प्रश्न 7- राष्ट्रीय राजमार्ग किसे जोड़ते हैं?

 उत्तर- व्यापार केंद्रों और राज्यों की राजधानियों को

प्रश्न 8- पूर्व-पश्चिम व उत्तर-दक्षिण राजमार्ग एक-दूसरे से किस स्थान पर कटते है?

उत्तर- झांसी से

प्रश्न 9- भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग कौन – सा है?

उत्तर- राष्ट्रीय राजमार्ग 7 (NH-7)

प्रश्न 10- लाहौर-दिल्ली बस की सेवाए क्या कहलाती है?

उत्तर- सदा-ए-सरहद (Sada-e-Sarhad)

प्रश्न 11-  भारत के किस राज्य में कच्ची सड़कें सबसे अधिक है?

उत्तर- ओडिशा (Odisha)

प्रश्न 12- काराकोरम राजमार्ग कहा से कहा जुड़ा हुआ है?

उत्तर- पाकिस्तान और अफगानिस्तान

प्रश्न 13- विश्व की सड़कों के आधार पर भारत का विश्व के कौन – से स्थान पर है?

उत्तर- तीसरे स्थान पर

प्रश्न 14- भारत में कुल सड़कों की लंबाई कितनी है?

उत्तर- 44,00,000 किमी.

प्रश्न 15- भारत के किस राज्य में सबसे अधिक पक्की सड़कें कहा है?

उत्तर- महाराष्ट्र व तमिलनाडु में

प्रश्न 16- भारत राष्ट्रीय राजमार्ग की कुल लंबाई कितनी है?

उत्तर- 70,934 किमी.

प्रश्न 17- रेल पथ के नैरो गेज की चौड़ाई कितनी होती है?

उत्तर – 2′ 6” की चौड़ाई होती है|

प्रश्न 18- राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-7 की लंबाई कितनी है?

उत्तर- 2369 किमी.

प्रश्न 19- भारत में सड़क परिवहन का योगदान कितना है?

 उत्तर- 80%

प्रश्न 20- भारत के किस राज्य में राष्ट्रीय राजमार्ग सबसे अधिक हैं?

उत्तर- उत्तर प्रदेश में (Uttar Pradesh)

प्रश्न 21- राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-1 की लंबाई कितनी है?

 उत्तर- 1226 किमी

प्रश्न 22- स्वर्णिम चतुर्भु योजना के अन्तर्गत जिन राष्ट्रीय राजमार्गों द्वारा चार महानगरों को जोड़ा जाता है, उनकी कुल लंबाई कितनी है?

उत्तर- 5,846 किमी

प्रश्न 23- राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या – 7 कहाँ से कहाँ तक है?

उत्तर- वाराणसी से कन्याकुमारी तक (Varanasi to Kanyakumari)

प्रश्न 24- राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या से जवाहर सुरंग कहा पर स्थित है?

उत्तर- राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-1A में

प्रश्न 25- सीसा सड़क संगठन की स्थापना कब की गई?

उत्तर- 1960 में

प्रश्न 26- देश में कुल सड़कों की लंबाई में राष्ट्रीय राजमार्ग का योगदान कितना है?

उत्तर- 1.7%

प्रश्न 27- स्वार्णिम चतुर्भुज योजना किससे संबंधित है?

उत्तर- सड़कों से संबंधित

प्रश्न 28- राष्ट्रीय राजमार्ग -7 कितने राज्यों से होकर जाता है?

उत्तर- 6

प्रश्न 29- भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग कौन – सा है?

उत्तर- राष्ट्रीय राजमार्ग 7

प्रश्न 30- कौन सा नगर राष्ट्रीय राजमार्ग 3 से नहीं जुड़ा हुआ है?

उत्तर- भोपाल