12th कॉमर्स के बाद क्या करे Commerce Courses After 12th

कॉमर्स के बाद करियर के लिए क्या करे Professional courses after 12th commerce stream

12th कॉमर्स के बाद क्या करे Commerce Courses After 12th12th कॉमर्स के बाद क्या करे करियर एवं संभावनाए- आज कल के समय में रोजगार की कमी होने के कारण सभी लोग कम उम्र में ही अच्छा करियर चुन रहे है साथ ही अपने सपने को पाने के लिए दिन रात मेहनत भी करनी ही पडती है तब कहीं जाकर वह किसी नौकरी के काबिल बन सकते है|

कोई भी विषय चुनने से पहले सोच विचार करे जिसे आप अपना करियर बेहतरीन बना सके| 12th कॉमर्स के बाद छात्रों को हमेशा से ही डिसिशन (decision) लेने में problem आती ही है कि 12th कॉमर्स के बाद क्या करे? क्या विषय ले जिसे आप अच्छा करियर चुन सके और कौन-सी लाइन चुने जिसे आने वाला अच्छा बन सके| यहाँ पर आपको 12th commerce के बाद क्या करना चाहिए इसकी पूरी जानकारी दी जा रही है|

12th कॉमर्स के बाद अच्छे करियर आप्शन Best Courses After 12th Commerce 2018-

1) BBA (Bachelor of Business Administration)-

12th कॉमर्स के बाद B.com के छात्रो को BBA कोर्स ज्यादा पसंद आता है| B.com की तरह ही ये भी 3 साल की ग्रेजुएट डिग्री है जो कि 12वीं कक्षा के बाद कर सकते है| इस कोर्स में आपको (diploma courses) बिज़नस मैनेजमेंट और Human resource जैसे subjects के बारे में पढ़ाते है| इसे करने के बाद आप चाहें तो MBA भी कर सकते है|

2) BHM (Bachelor In Hotel Management)-

BHM को Bachelor In Hotel Management कहते है| BHM कोर्स 4 साल का कोर्स है यह उन लोग के लिए सबसे अच्छी चॉइस है जो होटल मैनेजमेंट के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते है। इस कोर्स से स्टूडेंट hospitality के क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते है|

3) CA (Chartered Accountancy)-

हर कॉमर्स स्टूडेंट का सपना होता है की वह CA बने| CA को Institute of Chartered Accountants of India द्वारा conduct व manage किया जाता है| ICAI को ही भारत में CA बनाने का जिम्मा दिया गया है| CA बहुत ज्यादा अच्छे कोर्स में से है इसीलिए अगर कोई भी छात्र या छात्रा CA की तैयारी करना चाहती है तो उसको 12वी क्लास पास करने के बाद ही शुरू कर देनी चाहिए| इसकी शुरुआत CPT Test से होती है जिसको पास करने के बाद आपको information technology training में 100 घंटे की ट्रेनिंग करनी होती है इसके बाद आप articled assistant और audit assistant के रूप में 18 महीने तक काम कर सकते है| फिर आप Professional Competence Examination यानी की PCE का एग्जाम देना पड़ता है| इसके बाद आपको एक और एग्जाम देना पड़ता है| यह सबसे ज्यादा सैलरी (salary) देने वाली job में से एक है| नए बने हुए CA की भी सैलरी कम से कम 5 लाख तक होती है| जैसे जैसे experience बढ़ता जाता है वेसे वेसे ही सैलरी भी बढ़ने लगती है|

4) बैचलर ऑफ़ कॉमर्स B.com (Bachelor Of commerce)-

12वीं कॉमर्स स्ट्रीम (stream) से पास करने के बाद छात्रो सबसे बेहतर विकल्प B.com है| कॉमर्स के छात्रो के लिए B.com तीन साल की एक ग्रेजुएट डिग्री में से एक है| भविष्य में बिज़नस (business) से जुड़े क्षेत्र में जैसे बिज़नस प्लानिंग, एकाउंटिंग आदि चीज़ों की जानकारी का होना बहुत ही जरूरी है| B.com भी कई तरह के होते है जैसे की normal B.com, B.com(Accounts and Finance), B.com (Banking and Insurance) आदि इस सब में अलग अलग subject पर जोर दिया जाता है पर डिग्री B.com होती है| B.Com में बिज़नस से जुड़े शुरूआती मुद्दों पर ध्यान दिया जाता है| आप चाहें तो B.Com कर के पोस्ट ग्रेजुएशन भी कर सकते है और बड़े स्तर की नौकरी पा सकते है| अगर आप सही से B.Com करते है तो आप इस क्षेत्र में अच्छी नौकरी पा सकते है साथ ही B.com करके कोई Masters डिग्री की हुई है तो B.com की value ज्यादा बढ़ जाती है और आगे चलकर बेहतर नौकरी मिलने की उम्मीद होती है|

5) BCA (Bachelor In Computer Applications)-

BCA (Bachelor in computer applications) एक ऐसा कोर्स है जो कि 12वी कक्षा के बाद साइंस stream तथा कॉमर्स stream के छात्र दोनों ही करते है| यह 3 साल की एक ग्रेजुएट डिग्री है| और 3 साल का BCA करने के बाद आप MCA भी कर सकते है जिससे आपकी वैल्यू और भी बढ़ जायेगी और आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियर की नौकरी मिल सकती है| यह डिग्री करने के बाद आप किसी भी IT कंपनी में सॉफ्टवेयर प्रोग्रामर (Software programmer) की जॉब पा सकते है| BCA कंप्यूटर से जुड़ा हुआ कोर्स है यह कोर्स सिर्फ उन लोगों को करना चाहिए जो कंप्यूटर में रूचि रखते है क्योंकि कंप्यूटर में रूचि न रखने वाले लोगों के इस कोर्स में कुछ भी नहीं है।की जॉब पा सकते है। अगर आप चाहें तो 3 साल की BCA करने के बाद आप MCA भी कर सकते है जिससे आपकी वैल्यू और भी बढ़ सकती है|

6) ICSI ( Institute of company secretaries of India)-

ICSI कोर्स company secretary के लिए है इसमें छात्रो के लिए अच्छा स्कोप (scope) है| यह कोर्स 3 चरणों में किया जाता है| इसकी शुरुआत 8 महीने के फाउंडेशन कोर्स के साथ होती है अगर आपने ग्रेजुएशन की हुई है तो आपको foundation कोर्स नहीं करना पड़ेगा इसमें आपको छूट दी जाती है| फाउंडेशन कोर्स के बाद दूसरा चरण “Executive” होता है और तीसरा चरण “प्रोफेशनल” होता है| प्रोफेशनल कोर्स करने के बाद कैंडिडेट को 16 महीने तक किसी अनुभवी Company secretary के साथ काम करना होता है इसके बाद वह ICSI के एसोसिएट सदस्य और खुद ही एक कंपनी सेक्रेटरी बन जाते है|

7) LLB (Law Course) –

जो स्टूडेंट लॉयर या वकील बनना चाहते है वो लॉ की बैचलर डिग्री प्राप्त कर सकते है साथ ही BCI द्वारा इनको प्रमाण पत्र (certificate) दिया जाता है| लॉ कोर्स के अलावा भी कुछ कोर्स है जो की कॉमर्स स्ट्रीम के छात्र कर सकते है| जैसे की Integrated Law Course. लॉ (Law Course) और कॉमर्स दोनों की पढ़ाई 5 वर्ष से ज्यादा लंबी डिग्री में से एक है|

FAQ-

प्रश्न- बैचलर ऑफ़ कॉमर्स क्या है?

उत्तर- बैचलर ऑफ़ कॉमर्स तीन साल की एक ग्रेजुएट डिग्री में से एक है| भविष्य में बिज़नस (business) से जुड़े क्षेत्र में जैसे बिज़नस प्लानिंग, एकाउंटिंग आदि चीज़ों की जानकारी का होना बहुत ही जरूरी है| B.com भी कई तरह के होते है जैसे की normal B.com, B.com(Accounts and Finance), B.com (Banking and Insurance) आदि इस सब में अलग अलग subject पर जोर दिया जाता है पर डिग्री B.com होती है|

प्रश्न- CA की सैलरी क्या होती है?

उत्तर- चार्टर्ड एकाउंटेंट्स (सीएस) को चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) द्वारा आयोजित नवीनतम कैंपस प्लेसमेंट कार्यक्रम है| CA की सैलरी लगभग ₹40,00 रुपये तक के आस पास में होती है और समय के अनुसार बढती भी रहती है|

Question- What is the full form of ICSI?

Answer- The full form of ICSI is Institute of company secretaries of India.

Question- What is the full form of BHM?

Answer- The full form of BHM is Bachelor in Hotel Management.

Question- What is the use of BCA?

Answer- The BCA is an undergraduate degree course in computer applications for duration of 3 years. After completing BCA, a student can go for MCA which is a master course in computer application and is considered equivalent to engineering course (B.Tech).

error: