साउंड इंजीनियरिंग क्या है Sound Engineering Scope and Career opportunities

साउंड इंजीनियरिंग कोर्स करियर एवं संभावनाएं Sound (Audio) Engineering after 12th

साउंड इंजीनियरिंगसाउंड इंजीनियरिंग क्या है कैसे बनाये करियर- आवाज को मीडिया के विभिन्‍न माध्‍यमों में प्रसारण से पहले खास तकनीक के जरिये उच्‍च गुणवत्‍ता यानी बेहतर बनाया जाता है और साथ ही निखारने का काम करते हैं| फिल्‍मों, टीवी या रेडियो पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रमों की आवाज की क्‍वालिटी इतनी बेहतर कैसे होती है? विभिन्‍न माध्‍यमों के जरिये जो आवाज आप तक पहुचती है उस voice की क्‍वालिटी को कौन निखारते है? चित्रों के साथ आवाज को स‍ही रुप में (sound engineering career) मिक्सिंग करने का काम किसका होता है? यह सभी साउंड इंजीनियर (Sound / Audio Engineer) से जुडी हुई है| जो टीवी, रेडियो, सिनेमा, थियेटर, रिकॉर्डिग आदि में साउंड को खास तकनीक के जरिये स्‍पष्‍ट और हाई डेफिनेशन यानी उच्‍च गुणवत्‍ता का बनाता है| इसके लिए कई तरह के टेक्निकल इंस्‍ट्रूमेंटस उपयोग किए जाते है| वैसे इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग से लेकर फाइन आर्ट्स तक के स्टूडेंट्स इस क्षेत्र में करियर बना सकते हैं|

साउंड इंजीनियरिंग क्या है? What is Sound Engineering-?

 साउंड इंजीनियरिंग ही इंजीनियरिंग का एक ब्रांच में से एक है  इसमें म्यूजिक,  मूवी और थियेटर की रिकॉर्डिंग, मिक्सिंग और रिप्रोडक्शन से जुड़ी चीजें पढ़ाई जाती है| यह फील्ड दूसरे फील्डों की अपेक्षा चुनौतीपूर्ण जरूर है लेकिन काफी बेहतर भी है| साउंड इंजीनियरिंग का काम स्पीच, म्यूजिक और स्टूडियो के साउंड को हाई क्वालिटी का बनाना होता है तभी इसके लिए फिल्मों, रेडियो और टेलिविजन में कई तरह के टेक्निकल इंस्ट्रूमेंट्स उपयोग किए जाते हैं|

साउंड इंजीनियरिंग की योग्यता Educational Qualification for Sound engineering Careers-

साउंड इंजीनियरिंग की योग्यता के लिए 12वीं पास स्टूडेंट डिप्लोमा या सर्टिफिकेट कोर्स में एडमिशन लेने के लिए योग्य हो जाते हैं| पीजी डिप्लोमा कोर्स के लिए किसी भी सब्जेक्ट में ग्रैजुएट होना आवश्यक है साथ ही मैथ्स या फिजिक्स का बैकग्राउंड होना बहुत लाभदायक साबित होता है क्योंकि काम के दौरान कुछ खास तरह की कैल्कुलेशन्स शामिल होती हैं|  

साउंड इंजीनियरिंग कोर्स कौन कर सकता है Sound Engineering Degree Courses-

साउंड इंजीनियरिंग का कोर्स वह उम्मीदवार (sound engineer courses) कर सकते है जो 12वीं फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैथेमेटिक्स से पास हैं  साथ ही वह साउंड इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री या मास्टर डिग्री भी हासिल सकते हैं|

साउंड इंजीनियरिंग के कार्य What does an Sound / Audio Engineer do-

साउंड यानी ऑडियो इंजीनियरिंग ही कह सकते है काम दोनों का same ही है| Sound Engineering ऑडियो साइंस की ही एक ब्रांच है जहां साउंड को कैप्चर करने और उसे रिकॉर्ड करने कॉपी एडिट और मिक्स करने के बाद उसे इलेक्ट्रॉनिक और मैकेनिकल डिवाइस की मदद से रीप्रॉड्यूस करने जैसे काम किए जाते हैं| इसमें प्रोडक्शन और पोस्ट प्रोडक्शन से संबंधित कार्य भी किए जाते हैं| एक ऑडियो साउंड इंजीनियर उस साउंड के लिए जिम्मेदार होता है जो हम म्यूजिक में सुनते हैं| ऑडियोग्राफी और साउंड रिकॉर्डिंग में कोर्स करने के बाद ऑडियो इंजीनियर बना जा सकता है|

ऑडियो साउंड इंजीनियरिंग में करियर एवं सम्भावनाएं Career Options in Sound Engineer-

साउंड इंजीनियरिंग (Sound Engineer) के फील्‍ड में डिग्री, डिप्‍लोमा या सर्टिफिकेट हासिल करने के बाद आप इंजीनियर या टेक्‍नीशियन के रूप में टीवी चैनल्‍स, फिल्‍म,रेडियो,स्‍टूडियो,मल्‍टीमीडिया डिजाइन,एनिमेशन,विज्ञापन आदि क्षेत्रों में काम कर सकते है| अनुभव होने पर आप खुद का रिकॉर्डिग सटूडियो भी खोल सकते है| साथ ही जॉब के कई पद है इसे मिलते जुलते जैसे-

  1. स्टूडियो मैनेजर / स्टूडियो डिजाइनर
  2. साउंड इंजीनियर / डियो टेक्निशियन
  3. ऑडियो इंजीनियर / स्टूडियो डिजाइनर
  4. असिस्टेंट इंजीनियर / मल्टीमीडिया डेवलपर आदि|

ऑडियो साउंड इंजीनियरिंग की सैलरी Sound engineer job salary-  

Sound Engineering एक ऐसा करियर है जहां अच्छी सैलरी के साथ साथ अपना खुद का नाम भी कमा सकते हैं| साथ ही आपकी आय आपकी मेहनत पर भी निर्भर करती है| ज्यादातर कंपनियां अपने ऑडियो इंजीनियर्स की सैलरी शुरुवात में लगभग 20 से 30 हजार रुपए तक के बीच में होती है|

FAQ-

प्रश्न- साउंड इंजीनियरिंग की भूमिका क्या है?

उत्तर– साउंड इंजीनियरिंग की भूमिका ऑडियो उपकरणों का उपयोग करके ध्वनि रिकॉर्ड या पुन: उत्पन्न करना है| यह खेल आयोजनों या कलात्मक प्रस्तुतियों के लिए ऑडियो और मिश्रण बोर्ड उपकरण स्थापित करने के लिए भी जुड़े रह सकते हैं|

प्रश्न– ऑडियो इंजीनियरिंग की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर– साउंड इंजीनियरिंग की सैलरी शुरुवात में लगभग 20 से 30 हजार रुपए तक के बीच में होती है|

प्रश्न– ध्वनि इंजीनियर बनने के लिए आपको किस कौशल की आवश्यकता होती है?

उत्तर– ध्वनि इंजीनियर बनने के लिए कौशल एवं गुण की आवश्यकता का होना जरूरी है जैसे-

  1. व्यवहारिक गुण और धीरज का होना,
  2. इलेक्ट्रॉनिक्स और ध्वनिक का ज्ञान होना,
  3. पिच, समय और ताल की एक अच्छी भावना है,
  4. ध्वनि की गुणवत्ता को अलग करने के लिए अच्छी सुनवाई,
  5. लंबे समय और तंग समय सीमा से निपटने की क्षमता रखना,

Question– What is Sound Engineering?

Answer– Sound engineering is just one of the branches of engineering it teaches things related to recording, mixing and reproduction of music, movies and theaters. This field is challenging than other fields but is also quite good. The sound engineering work is meant to create high quality of speech, music, and studio sound, whereas for this, many types of technical instruments are used in films, radio and television.

Question– What should be the qualification to become sound engineering?

Answer– Qualifications for sound engineering are eligible for admission in the 12th passed student diploma or certificate course etc.

Question– How do you become a sound engineer?

Answer– To become a sound engineer are-

  1. Intern at a recording,
  2. And production company,
  3. Watch sound engineers work,
  4. Take any opportunity you can get,
  5. Ask sound engineers if you can help in any way

Leave a Reply

error: