शार्ट टर्म कोर्सेज 12th के बाद जो दिलाये तुरंत नौकरी Job Courses

शार्ट टर्म कोर्सेज सिलेक्टेड कोर्सेज Best Short Term Courses List

शार्ट टर्म कोर्सेज SHORT TERM COURSES AFTER 12TH शार्ट टर्म कोर्सेज (Short Term Course) वो है , जो कम समय काम करके हमें अच्छी जॉब दिला सकता है | 12 वी की परीक्षा के बाद विद्यार्थियों के पास बहुत समय होता है उन्होंने इस समय का सही जगह पर इस्तेमाल करना चाहिए| क्योकि ये विद्यार्थियों के जीवन का टर्निंग पॉइंट होता है | 12 वी की परीक्षा का परिणाम आने में समय लगता है |

आजकल यह माना जाता है कि हर शख्स जॉब ढूंढ़ रहा है। प्रत्येक क्षेत्र में तकनीक के बढ़ते इस्तेमाल ने टेक्निकल स्किल वाले लोगों की डिमांड बढ़ा दी है। ऐसे में अपने को जॉब के लिए तैयार करने के लिए यह समय बेहतर साबित हो सकता हैं। आजकल हर क्षेत्र के कई शॉर्ट टर्म कोर्स उपलब्ध है जो आपको जॉब के लिए और स्किल्ड बनाते हैं। इनसे जॉब पाने का चांस तो बढ़ता ही है और साथ में एक्स्ट्रा स्किल्स जो दूसरों से आगे रहने में भी मदद करता है। यहाँ पर हम कुछ अलग -अलग फील्ड के लिए शॉर्ट टर्म कोर्सेज के बारे में बता रहे हैं.

फॉरेन लैंग्वेज Foreign Language

12वीं के बाद स्टूडेंट्स फॉरेन लैंग्वेज का Short Term कोर्स कर सकते हैं. अगर आप लैंग्वेज कोर्स में करियर बनाना चाहते हैं तो कोशिश करें कि करियर के शुरू से ही फॉरेन लैंग्वेज सीखना शुरू कर दें|

फैशन डिजाइनिंग कोर्स Fashion Designing Course –

अगर आपकी रूचि फैशन डिजाइनिंग में है तो 12वीं के बाद फैशन डिजाइंनिंग में शार्ट टर्म कोर्सेज (Short Term course) करना आपके करियर के लिए अच्छा ऑप्शन हो सकता है इसके बाद या तो आप कहीं जॉब कर सकते हैं या फिर अपना काम भी शुरू कर सकते हैं| ये कोर्स आप पर्ल एकेडमी, एनआईएफटी से कर सकते हैं.

नर्सरी टीचर ट्रेनिंग Nursery Teacher Training

यह कोर्स महानगरों में ज्यादा प्रचलित है. यह दो साल का होता है. इस कोर्स में एडमिशन 12वीं के अंकों के आधार पर और कई जगह पर प्रवेश परीक्षा के आधार पर दिया जाता है. प्रवेश परीक्षा में करंट अफेयर्स,

 जनरल स्टडी , हिन्दी, रीजनिंग, टीचिंग एप्टीट्यूड और अंग्रेजी से सवाल पूछे जाते हैं. इस कोर्स को करने के बाद उम्‍मीदवार प्राइमरी टीचर बनने के लिए एलिजिबिल हो जाते हैं|

बेसिक कम्प्यूटर कोर्स Basic Computer Course

एक कंप्यूटर या लैपटॉप किस तरह से ऑपरेट करना है, इसके लिए कई सारे शार्ट टर्म कोर्सेज (Short Term) चलन में हैं। इन कोर्सों के दौरान आपको कम्प्यूटर की बेसिक नॉलेज, ऑपरेटिंग सिस्टम की जानकारी, इंटरनेट ऑपरेशन जैसे सर्फिंग और ईमेल यूज करना, एप्लिकेशन डेवलपमेंट, विंडोज, एमएस ऑफिस, पावर पॉइंट, वायरस प्रोटेक्शन आदि से जुड़ी सभी तकनीकी जानकारी दी जाती है। 

1. हार्डवेयर एंड नेटवर्किंग कोर्स Hardware & Networking Course –

कम्प्यूटर एक मशीन है, जिसके पार्ट्स, जैसे कीबोर्ड, चिप, हार्ड डिस्क, मॉनिटर, सर्किट बोर्ड्स को हार्डवेयर कहा जाता है। इनका रख-रखाव और सुधार करने वाले एक्सपर्ट्स को हार्डवेयर इंजीनियर कहते हैं। इनका काम किसी खराबी को ठीक करना, पीसी और लैपटॉप को असेंबल करना, नेटवर्क तैयार करना होता है। ऑपरेटिंग सिस्टम और सॉफ्टवेयर इंस्टॉल, डिस्क मैनेजमेंट रिस्क, प्रिंटर असेंबल से लेकर हर वह काम जो कम्प्यूटर में कोई भी एप्लिकेशन या सॉफ्टवेयर चलाने के लिए जरूरी है, वह काम भी हार्डवेयर इंजीनियर करता है।

प्रमुख कोर्स – Diploma in Hardware Networking, Diploma in Hardware Technology, Diploma in Computer Networking, Laptop Repairing Course, Diploma in Computerized Accounting, Diploma in Finance and Banking, Data Entry and Office Automation आदि.

2. सॉफ्टवेयर एंड प्रोग्रामिंग कोर्स Software and Programming course –

ये कोर्स भी कम्प्यूटर से जुड़ा हुआ है,कंप्यूटर के क्षेत्र में  ये थोड़ा एडवांस कोर्स है, जिसमें लैंग्वेज कोर्स भी शामिल है। बेसिक कम्प्यूटर सीखने के बाद काम करने के लिए सॉफ्टवेयर, टेक्नोलॉजी और प्रोग्रामिंग की जरूरत होती है, जिसके लिए इन कोर्स को किया जा सकता है। इन कोर्स में C, C Plus, C Plus Plus, Java Script, Visual Basic, Dot Net, HTML, CIC, Oracle, Cobol, Linux आदि के बारे में बताया जाता है।प्रमुख कोर्स

Diploma in Net Programming, Diploma in Programming Language, Advance Diploma in Computing, Diploma in Computer Application, Diploma in Computer Engineering, Diploma in Software Technology.

3. MS कार्यालय कार्यक्रम MS Office Program-

Microsoft Office एक ऐसी application है जो किसी भी ऑफिस के काम को आसान बना देती है। मुख्य रूप से उपयोग की जाने वाली applications हैं – MS Word, MS Excel, MS Access तथा MS PowerPoint.MS ऑफिस programing का कोर्स करने पर छात्रो को सभी कार्य सिखाया जाते है,जिस से कोर्स पूरा करने के बाद कार्यालयों में कंप्यूटर से जुडी नौकरियां आसानी से मिल जाती है। उदाहरण के तौर पर होटल, रेस्तरां, कार्यालयों आदि में कंप्यूटर के बुनियादी काम इस प्रोग्राम के अन्तर्गत सीखे जा सकते हैं। इसमें बहुत से शार्ट टर्म कोर्सेज (Short Term) उपलब्ध है |

4. DTP कोर्स  DeskTop Publishing course

DTP जिसे कि Desk Top Publishing भी कहा जाता है सभी तरह के बैनर, कार्ड, किताबें, पुस्तक कवर, मैनुअल, ब्रोशर आदि बनाने में computer applications का प्रयोग करना सिखाया जाता है। संक्षेप में दस्तावेजों के लेआउट, डिजाइन, ग्राफिक्स आदि बनाने में इसका प्रयोग किआ जाता है। इसमें Adobe photoshop , Adobe pagemaker और Corel Draw के रूप में उपयोगी सॉफ्टवेयर के बारे में ज्ञान भी दिया जाता है।डीटीपी कोर्स से कई ग्राफिक्स और छवि संपादन(Image Editing) नौकरियां मिल सकती हैं। प्रकाशन घरों (समाचार पत्र , कार्ड आदि) में भी डीटीपी professionals की काफी जरूरत रहती है।

5. फ़ोटोशॉप कंप्यूटर पाठ्यक्रम Photoshop Computer Courses

 फ़ोटोशॉप एक career oriented course है जिसमें कुशल होकर आप ग्राफिक्स बनाने का काम कर सकते हैं । इस कला में महारत पाकर आप आपकी कल्पना विचार शक्ति से इसे और निखार सकते है |कोई भी इमेज बनाने या उसे संशोधित करने या कुछ company के logo design करने के लिए इस कला का उपयोग किया जा सकता है। इसका प्रयोग आप  इमेज एडिटिंग ,फोटो स्टूडियो आदि

6. टैली पाठ्यक्रम Tally Courses

आजकल Computer और मोबाइल का जमाना है और अब हर कोई अपना काम कंप्यूटर के जरिये करता है ,कामो का लेखा जोखा सब कंप्यूटर के द्वार होता है | टैली एक एकाउंटिंग सॉफ्टवेयर है ,जिसके द्वारा आप लाखो करोड़ो के लेनदेन का हिसाब आसानी से रख सकते है | इसमें आपको सिखाया जाता है ,कि टैली का यूज कैसे करे| कम्पनियां, गवर्नमेंट अपने फाइनेंसियल डाटा को स्टोर करने ,ट्रांसफर करने के लिए  टैली का यूज करते है | इसमें कोर्स करके आप आसानी से जॉब प्राप्त कर सकते है |

7. एनिमेशन और मल्टीमीडिया ANIMATION aur MULTIMEDIA Courses

एनिमेशन और मल्टीमीडिया इन दिनों काफी लोकप्रिय क्षेत्र बन गया है और यह ग्राफिक्स डिजाइन क्षेत्र का ही एक हिस्सा है।आज के समय में अधिक से अधिक छात्र एनीमेशन और मल्टीमीडिया के शार्ट टर्म कोर्सेज कर रहे हैं।एनिमेशन और मल्टीमीडिया पाठ्यक्रम में वीएफएक्स (VFX) और वीएफएक्स प्रो (VFX Pro), एनीमेशन, फिल्म डिजाइन और एनीमेशन, खेल डिजाइन और एनीमेशन, मल्टीमीडिया डिजाइन आदि विषयों की मूल बातें सिखाई जाती हैं।

आज के समय में competition इतना ज्यादा बढ़ गया है कि कई युवा पढाई पूरी करने के बावजूद भी बेरोज़गार रहते हैं। इन दिनों हर क्षेत्र में technology का उपयोग हर दिन बढ़ रहा है। इस लिए कंप्यूटर के बारे में अपनी knowledge विकसित करके एक अच्छी नौकरी पाने की संभावना को बढाया जा सकता है। इस क्षेत्र में वेतन वृद्धि की संभावना भी हर साल बढ़ रही हैं तथा इनको सीखने में ज्यादा समय भी नही लगता। आजकल शार्ट टर्म कोर्सेज (Short Term Courses)बहुत ज्यादा प्रचलित है |

FAQ-

Question- What courses are available in computer field?

Answer – Hardware & Networking Course Photoshop Computer Courses , Software and Programming course  etc

Question- What is Tally?

Answer – Tally is an accounting software, through which you can easily calculate the transactions of millions and millions

Question- How long is the Nursery Teacher Training Course?

Answer – Nursery Teacher Training course is of two years

Question- What is the MS office?

Answer – Microsoft Office is an applications software that makes the office work easy. Mainly used applications are – MS Word, MS Excel and MS PowerPoint.

प्रश्न- एनिमेशन और मल्टीमीडिया क्या है?

उत्तर- एनिमेशन और मल्टीमीडिया  यह ग्राफिक्स डिजाइन क्षेत्र का ही एक हिस्सा है|

एनिमेशन और मल्टीमीडिया पाठ्यक्रम में वीएफएक्स (VFX) और वीएफएक्स प्रो (VFX Pro), एनीमेशन, फिल्म डिजाइन और एनीमेशन, खेल डिजाइन और एनीमेशन, मल्टीमीडिया डिजाइन आदि विषयों की मूल बातें सिखाई जाती हैं।

error: