मैनेजमेंट एप्टीट्यूट (MAT) टेस्ट क्या होता है मेट के क्षेत्र में में अवसर और संभावनाएं How to prepare for MAT exam

क्या है मेट परीक्षा (What is MAT Exam)

क्या है मैट परीक्षा (What is MAT Exam) jobisearchमैनेजमेंट एप्टीट्यूड टेस्ट (Management Aptitude Test) की शुरुआत 1988 में हुई थी. 2003 में भारत सरकार के द्वारा इसे राष्ट्रीय स्तर की परीक्षाओं में शामिल किया गया है. इसके कोर्स के द्वारा देश के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (IIM) में प्रवेश मिलता है. देश में प्रबंधन कोर्स में प्रवेश पाने के लिए बहुत सी परीक्षाएं होती हैं. इन्हीं में से एक है मैनेजमेंट एप्टीट्यूट टेस्ट (मेट).

यह टेस्ट साल में चार बार कराया जाता है. आल इंडिया मैनेजमेंट एसोसिएशन द्वारा राष्ट्रीय स्टार पर प्रबंधन की परीक्षा कराई जाती है मेट के परीक्षा के पांच सेक्शन होते है.

क्या है मेट परीक्षा के लिए योग्यता (What is Qualification of MAT Exam)

इस परीक्षा में भाग लेने के लिए आवेदकों का किसी भी विषय से स्नातक होना जरूरी होता है. स्नातक अंतिम वर्ष के छात्र भी इस परीक्षा में भाग ले सकते हैं. मेट की परीक्षा के लिए कोई समय सीमा निर्धारित नहीं की गयी है.

आवेदन कैसे करे मेट परीक्षा के लिए (How to apply MAT Exam)

इस परीक्षा के लिए आवेदन ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीको से किये जाते है आवेदन के समय फीस तीन माध्यमों से जमा की जा सकती है. पहला ऑफलाइन, दूसरा क्रेडिट और डेबिट कार्ड एवं तीसरा डिमांड ड्राफ्ट के द्वारा. 

मेट की परीक्षा का पैटर्न क्या है (What is Pattern of MAT Exam)

मेट की परीक्षा का पैटर्न वस्तुनिष्ठ (Objective) टाइप होता है इसके पांच सेक्शन होते है इस परीक्षा में हर सेक्शन को सॉल्व करने के लिए 40 प्रश्न होंगे पांचो सेक्शन में मिलकर 200 प्रश्न होंगे जिनको हल करने के लिए ढाई घंटे (2:30 Hrs) का समय निर्धारित किया गया है

मेट की तैयारी के टिप्स (MAT Exam Preparation Tips)

परीक्षा में सफलता पाने के लिए रणनीति बनाये- अगर आप इस परीक्षा में पास होना चाहते है तो रणनीति बनाकर तैयारी करे लैंग्वेज कॉम्प्रिहेन्सन (Language Comprihenshn) के लिए 30 मिनट्स मैथमैटिक (Mathematic) के लिए 40 इस तरीके से अन्य सब्जेक्ट के लिए भी समय तय करे.

मैथमेटिकल स्किल पर ध्यान दे– मैथमेटिक्स के लिए भी 40 प्रश्न होते है एकाग्रता के साथ क्वेश्चन सॉल्व करे मैथ्स की तैयारी के लिए पुराने 5 सालों के पेपर लाभदायक हो सकते है.

इंटेलिजेंस और क्रिटिकल रीजनिंग पर ध्यान दे- रीजनिंग एक ऐसा     सब्जेक्ट है जिसमें आप बेहतर अंक प्राप्त कर सकते है इसीलिए इस सेक्शन पर ध्यान दे,

कंप्यूटर और रीडिंग स्किल- कंप्यूटर पर रीडिंग स्किल बढ़ाने के लिए आपको कंप्यूटर पर प्रैक्टिस करते रहना चाहिए इसके अलावा ग्रामर पर भी ध्यान देना चाहिए.

टाइम मैनेजमेंट करे- आप अपने टाइम मैनेजमेंट स्किल को डेलवप करे किसी भी परीक्षा के लिए टाइम मैनेजमेंट का बहुत महत्व होता है.

प्रतियोगी परीक्षाओ में पूछे जाने वाले मैट से सम्बंधित कुछ प्रश्न और उनके उत्तर-

प्रश्न1. मेट परीक्षा क्या है?

उत्तर. मेट परीक्षा को हम मैनेजमेंट एप्टीट्यूड टेस्ट के नाम से जानते है.

प्रश्न2. मेट की परीक्षा किस स्तर की परीक्षा है?

उत्तर. मेट की परीक्षा एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा होती है.

प्रश्न3. मेट की परीक्षा के द्वारा कहा प्रवेश पाया जा सकता है?

उत्तर. इस परीक्षा के द्वारा इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (आइ.आइ.एम) में प्रवेश मिलता है.

प्रश्न4. मेट की परीक्षा में शामिल होने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए?

उत्तर. मेट की परीक्षा में शामिल होने के लिए किसी भी विषय से स्नातक होना जरूरी है.

प्रश्न5. मेट की परीक्षा में शामिल होने के लिए समय- सीमा क्या है?

उत्तर. मेट की परीक्षा में शामिल होने के लिए कोई समय -सीमा निर्धारित नहीं की गयी है.

प्रश्न6. मेट परीक्षा आवेदन करने के लिए फीस कैसे जमा कर सकते है?

उत्तर. मेट आवेदन करने के लिए फीस ऑफलाइन, क्रेडिट और डेबिट कार्ड एवं डिमांड ड्राफ्ट के द्वारा की जा सकती है.

error: