जिला मजिस्ट्रेट कैसे बना जाए How to become a District Magistrate

जिला मजिस्ट्रेट बनने की पूरी जानकारी Detail for DM Officer job in Hindi

जिला मजिस्ट्रेट कैसे बना जाए जिला मजिस्ट्रेट कैसे बने-  कोई भी सरकारी अधिकारी (DM officer) बनने के लिए  आपको उसके अनुसार मेहनत भी करनी पडती है क्योंकि बिना मेहनत किये आप कुछ नही पा सकते और आज कल सभी लोगो की पहली इच्छा यही होती है कि वह कोई भी सरकारी नौकरी प्राप्त करे| आवेदन करने के इच्छुक उम्मीदवार इस पद के लिए निर्धारित शैक्षणिक योग्यता एवं अन्य अर्हताओं की पूर्ति करते हों, वे निर्धारित समय-सीमा वाले ही अपना आवेदन  कर सकते है| यहाँ पर DM officer कैसे बने इसके बारे में बताया जा रहा है| जिससे आपको काफी मदद मिल सकेगी| DM officer की नौकरी बहुत अच्छी मानी जाती है और इसमें अपना खुद का नाम भी होता है साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिलती है| योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता है|

जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) क्या है? What is a DM? –

डीएम का‌ पुरा नाम District Magistrate (जिला मजिस्ट्रेट) भी कहते है| एक जिला कलेक्टर, जिसे अक्सर कलेक्टर को संक्षेप में बताया जाता है, भारत में एक जिले के राजस्व संग्रह और प्रशासन के प्रभारी एक भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी जिसे जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) कहा जाता है|

जिला मजिस्ट्रेट बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for DM Officer-

डीएम बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से ग्रेजुएट (graduation) पास किया हुआ होना आवश्यक हैं और साथ ही जिला मजिस्ट्रेट  के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकते है|

जिला मजिस्ट्रेट बनने के लिए उम्र सीमा Age limit for DM Officer Requirement-

डीएम  (District Magistrate) बनने के लिए उम्र सीमा लगभग 21 से 30 साल के बीच तक की होनी जरूरी चाहिए और OBC उम्मीदवारों के लिए 3 साल की छुट और SC / ST उम्मीदवारों के लिए 5 साल की छुट मिलती है|

जिला मजिस्ट्रेट बनने के लिए चयन प्रक्रिया Selection Process for DM Officer job-

जिला मजिस्ट्रेट के लिए उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाता है-

  1. प्रारम्भिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  2. मुख्य परीक्षा (Main Exam)
  3. साक्षात्कार (Interview)

जिला मजिस्ट्रेट के कार्य क्या होते है District Magistrate work-

जिला मजिस्ट्रेट जिले का मुख्य कार्यकारी, प्र्संसिनिक प्रशासनिक और राजस्व अधिकारी होते है, डीएम के कर्तव्य (कार्यो) के बारे में बताया गया है जैसे कि-

  1. कानून व्यवस्था की स्थापना
  2. पुलिस और जेलों का निरीक्षण करना
  3. सरकार को वार्षिक अपराध प्रतिवेदन प्रस्तुत करना
  4. अधीनस्थ कार्यकारी मजिस्ट्रेटो का निरीक्षण करना
  5. सभी मसलों से मंडल आयुक्त को अवगत कराना
  6. अपराध प्रक्रिया से संबंधित मुकदमो की सुनवाई करना
  7. मृत्युदंड से जुड़े कार्य को प्रमाणित करना

जिला मजिस्ट्रेट की तैयारी के लिए पैटर्न को समझे Pattern tips for DM Officer Exam-

डीएम (DM) बनने के लिए उम्मीदवारों को यूनियन पब्लिक सर्विस तथा  UPSC के तहत होने वाली CSE exam तथा सिविल सर्विस एग्जाम पास करना होता है| यह परीक्षाए पास करने के बाद जिले के डीएम (DM) बन सकते है| जिला मजिस्ट्रेट बनना चाहते है तो आपको IAS की तैयारी करनी जरूरी है| जिस से आपका प्रमोसन डीएम के लिए होता है|

सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत सी बाते ध्यान में रखनी होती है उसी में एक है अध्ययन सामग्री| जब हम तैयारी करना शुरू करते हैं तो बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है उनमे से सबसे बड़ी समस्या है उपयोगी किताब का चुनाव कर पाना और ये एक ऐसी समस्या है जिसका ना सिर्फ नए अभ्यर्थिओं बल्कि पुराने अभ्यर्थिओं को भी सामना करना पड़ सकता है| डीएम (DM) बनने के लिए परीक्षा की तैयारी के लिए Syllabus पर पूरा ध्यान देना चाहिए और साथ ही जनरल स्टडीज की तैयारी के लिए आपको हर सब्जेक्ट का कांसेप्ट जानना बहुत जरूरी है| इस एग्जाम का जनरल स्टडीज का सारा पैटर्न सिविल सर्विस एग्जाम के जैसा ही होता है|

जिला मजिस्ट्रेट की सैलरी DM Officer department Salary –

डीएम (DM) की सैलरी काफी अच्छी मानी जाती है| जिला मजिस्ट्रेट उम्मीदवारों के लिए सैलरी लगभग ₹25,000 से ₹52,000 तक के बीच में रखी गयी हुई होती है|

जिला मजिस्ट्रेट के लिए आवेदन  Application form for District Collector –

डीएम (DM) बनने के लिए आप इसका आवेदन इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ ही अप्लाई कर सकते है|

  FAQ-

प्रश्न- डीएम (DM) बनने के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- डीएम (DM) बनने के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा लगभग 21 से 30 वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- जिला मजिस्ट्रेट की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- जिला मजिस्ट्रेट चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹25,000 से ₹52,000 तक के बीच में होती है|

Question- What is the full form of DM?

Answer- The full form of DM is District Magistrate.

Question- What is the educational qualification of DM Collector?

Answer- The educational qualification for DM Collector Positions to candidates should have graduation pass from any recognized institution / boards.

Question- What is the selection process of DM Officer Exam?

Answer- Candidates in the CID Officer will be selected on some basis as-

  1. Preliminary Exam
  2. Main Exam
  3. Interview

Question- What is the function of the District Magistrate work?

Answer- The Chief Executive of the District Magistrate, is the administrative, administrative and revenue officer, the duty of the District Magistrate has been stated as-

  1. Establishment of law and order
  2. Inspecting police and prisons
  3. Presenting the annual crime report to the government
  4. Inspecting subordinate executive magistrates
  5. To make the Divisional Commissioner aware of all issues
  6. To hear the lawsuits related to the crime process

 

error: