कैसे करे इंजीनियरिंग(Engineering) एग्जाम्स की तैयारी How to prepare for engineering exams

इंजीनियरिंग से आप क्या समझते है (What do you think of engineering) –

इंजीनियरिंग परीक्षा की तैयारी जॉबआईसर्च इनइंजीनियर नई टेक्नोलॉजी को डिज़ाइन करता है. इंजीनियर की जरुरत आज हर फील्ड में है चाहे वो केमिकल,इंडस्ट्रियल,इलेक्ट्रिकल, या सिविल के क्षेत्र में ही क्यों ना हो. अगर आप इंजीनियरिंग बनने की सोच रहे है तो यह एक अच्छा विचार है।   

इंजीनियरिंग कितने प्रकार की होती है (how many types of engineering) –

1. रासायनिक इंजीनियरिंग (Chemical engineering)- केमिकल इंजीनियर का काम विभिन्न रसायनों और रासायनिक उत्पादों के निर्माण में आने वाली समस्याओं को हल करना है, इस फील्ड में पेट्रोलियम,रिफाइनिंग,खाद्य व कृषि उत्पादों में प्रोसेसिंग ,सिंथेटिक फ़ूड,पेट्रो केमिकल्स, सिंथेटिक फाइबर, कोयला ,खनिज उद्योग ,एनवायर्नमेंटल इंजीनियरिंग जैसे अन्य क्षेत्रों में काम करते है ।

2. सिविल इंजीनियरिंग (Civil engineering) – एक व्यक्ति जो लोक निर्माण डिजाइन, के रूप में सड़कों, पुलों, नहरों, बांधों, और बंदरगाहों का निर्माण और रखरखाव करते है.

3. इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग (Electrical engineering) – यह इंजीनियरिंग पावर जनरेशन प्लान  और  सबस्टेशन में यूज़ होता है जहां इलेक्ट्रिक  एनर्जी  जेनरेट  और डिस्ट्रीब्यूशन होता  है।

4. इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग( Industrial engineering) – इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग का प्रोडक्ट्स में काम सुधार करना है, एनवायरनमेंट को प्रोटेक्ट करना और मनी, मटेरियल,और कमोडिटीज में सुधार करना है।  

5. मैकेनिकल इंजीनियरिंग (Mechanical engineering)- मैकेनिकल इंजीनियर अधिकतर मैकेनिकल सिस्टम्स के साथ काम करता है मैकेनिकल इंजीनियरिंग का काम डिजाइन, निर्माण, और मशीनों के उपयोग के साथ काम करना हैं।   

क्या विशेषता होनी चाहिए इंजीनियरिंग बनने के लिए(What should be attributed to become engineering) –

  1. मैथ्स और साइंस(math or science) में अच्छा ज्ञान होना चाहिए।
  2. रचनात्मक(creative) होना चाहिए ।
  3. एक साथ काम करना(team work) आना चाहिए ।
  4. वार्तालाब(communication skill) भी अच्छी होनी चाहिए ।
  5. सहयोग(co-operate) करना आना चाहिए ।

 इन दिनों स्टूडेंट्स इंजीनियरिंग एग्जाम्स की तैयारी करने में व्यस्त है और इंजीनियरिंग एग्जाम्स के लिए मैथ्स सबसे ज्यादा चैलेंजिंग विषय है इसके लिए स्टूडेंट्स बहुत मेहनत करने के बाद भी सफल नहीं हो पाते ।

घर पर कैसे करे इंजीनियरिंग एग्जाम की तैयारी(how to prepare for Engineering exam at home)-

अगर आप घर बैठे बैठे इंजीनियरिंग एग्जाम की तैयारी करने की सोच रहे है तो इसके लिए आप  इन बिंदुओं में ध्यान दे-

  1. कम से कम पिछले पांच या दस वर्षो के प्रश्न पत्र को सॉल्व कर ले. इससे आपको यह पता चल जाएगा कि किस प्रकार के प्रश्न पूछे जाते है।
  2. स्लेबस के अनुसार ही तैयारी करे।
  3. स्लेबस में जितना दिया है उसे रटने की जगह अच्छे से समझ के पढ़े।
  4. प्रश्न पत्र को पूरा करने के बाद उसे दुबारा अच्छे से रिवाइज करें ।
  5. किसी विषय में परेशानी होने पर आप अपने टीचर से भी मदद ले सकते है ।

 कैसे करे इंजीनियरिंग एग्जाम्स की कोचिंग  के साथ-साथ ऑनलाइन  तैयारी (How online with coaching preparation of Engineering)-

इंजीनियरिंग की तैयारी के लिए आज कल हर जगह अच्छे इंस्टिट्यूट खोले गए है, जहां इंजीनियरिंग की कोचिंग कराई जाती है लेकिन फिर भी कई स्टूडेंट्स को परेशानी होती है कही दूसरी जगह जाकर कोचिंग करने में तो उन स्टूडेंट्स के लिए भी अब बड़े-बड़े इंस्टिट्यूट ने आज कल ऑनलाइन क्लासेस देना शुरू कर दिया है जिसमे स्टूडेंट्स घर पर रहकर भी ऑनलाइन क्लास अटेंड कर सकते है, और अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर सकते है। आज कल इंस्टिट्यूट अपने क्लासेज की रिकॉर्डिंग करके ऑनलाइन डाल देते है जिससे आप आसानी से उसे ऑनलाइन देख सकते है ।

इंस्टिट्यूट अपनी क्लासेज की वीडियो ऑनलाइन डाल देते है, ताकि आप उन क्लासेज को ऑनलाइन देख सके और अपना पढ़ाई कर सके. आप चाहे तो वीडियो को सेव भी कर सकते है ताकि आप बाद में भी उन क्लासेज की रिकॉर्डिंग देख कर अपना रिविज़न कर सके । ऑनलाइन कोचिंग का फायदा यह भी है कि आपको किसी भी तरह की अगर कोई परेशानी है तो आप ऑनलाइन स्टूडेंट्स और टीचर के ग्रुप्स में ऐड होकर उनसे किसी भी विषय में अपनी परेशानी के बारे में पूछ सकते है ऑनलाइन कोचिंग ग्रुप में ऐड होने का फायदा यह है कि आपको अलग स्टूडेंट्स के अलग अलग समाधान(solutions)जानने को मिलेंगे और आपको अपनी पढ़ाई के लिए इजी नोट्स मिल जाएंगे ।