इंटीरियर डिजाइनिंग क्या है इंटीरियर डिजाइनिंग में कैसे बनाएं करियर Interior Design Careers Information

इंटीरियर डिजाइनिंग में करियर बनाने के आसान टिप्स Career In Interior Designing

इंटीरियर डिजाइनिंग में करियर बनाने के आसान टिप्स Career In Interior Designing jobisearchआजकल फैशन के साथ-साथ घर को सजाना भी बहुत ही जरुरी हो गया है. आजकल कई लोगों की व्यवस्थित, सुंदर और सुरुचिपूर्ण ढंग से रहने की आदते काफी बढ़ गयी हैं. कम स्थान में सुविधापूर्ण रहने के लिए आजकल लोग अपने घर को काफी व्यवस्थित बनाना चाहते हैं. इसके लिए उन्हें किसी अच्छे इंटीरियर डिजाइनिंग की जरूरत होती है. इंटीरियर डिजाइनर का कार्य घर की साज-सजावट (Decorations) करना इसके अलावा ऑफिस, दुकान तथा अन्य प्रकार के भवनों की सजावट ((Decoration) को अच्छी तरह से करना है. साज-सज्जा का कार्य पर्यावरण, मनोविज्ञान, वास्तुकला (Environment, psychology, architecture) और प्रोडक्ट डिजाईन से गहराई से जुड़ा हुआ है. इंटीरियर डिजाइनर का कार्य काफी कलात्मक होता है. जिन लोगो की रूचि चीजो को व्यवस्थित करने, हर चीज को एक नया लुक देने या कोई रचनात्मक कार्य (creative work) करने में है उनके लिए इस क्षेत्र में अपना करियर बनाने का अच्छा ऑप्शन है. आजकल यह रोजगार काफी तेजी से चल रहा है इसमें आपको चांश मिलने की काफी सम्भावना बढ़ जाती है.

इंटीरियर डिजाइनर के अच्छे गुण Good Qualities Of The Interior Designer

इंटीरियर डिजाइनर का हर कार्य कलात्मक (Artistic) ढंग से होता है. इंटीरियर डिजाइनर एक कार्य बजट के अनुसार घर को सुंदर रूप देना होता है. इंटीरियर डिज़ाइनिंग के क्षेत्र में कार्य करने के लिए आपको जगह के बारे में अच्छी जानकारी होना जरूरी है, ताकि छोटे-से-छोटे एरिया को आकर्षक बनाया जा सके. इंटीरियर डिजाइनर में ना केवल कलात्मक बल्कि उसके अंदर टेक्निकल गुण होने भी अनिवार्य हैं.

घर की सजावट (Decoration) करने के लिए इंटीरियर डिजाइनर को काफी लोगो से मिलना पड़ता है उससे बाते करनी पड़ती हैं. ऐसी स्थिति में प्रभावशाली ढंग से बातचीत करने की क्षमता का होना जरूरी है. जिससे क्लाइंट आपकी बात को अच्छी तरह समझ सके. डिजाइनर में तकनीकी भाषा (Technical language) को आम भाषा में परिवर्तित करने के अभी गुण होना अनिवार्य है इसके अलावा एक अच्छे डिजाइनर का स्वभाव सहनशील (Tolerant) और विन्रम (Courteous) होना अनिवार्य है.

इंटीरियर डिजाइनिंग की शैक्षिक योग्यताएं Interior Designing Qualifications

आजकल इंटीरियर डिजाइनिंग के क्षेत्र में करियर बनाने का काफी चलन हो गया है. इंटीरियर डिजाइनिंग करने के लिए आपको बारहवी (12th) की परीक्षा उत्तीर्ण करना आवश्यक है. इसके अलावा बारहवी में आपके विषय गणित, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान तथा इंग्लिश होने चाहिए जिनमें कम से कम में 55 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं. इसके बाद आप डिप्लोमा, डिग्री और सर्टिफिकेट कोर्स के लिए आवेदन कर सकते हैं. ग्रेजुएशन के बाद अगर आप इस क्षेत्र में आना चाहते हैं तो आप पीजी डिप्लोमा, डिग्री कोर्स के सकते हैं.

इंटीरियर डिजाइनिंग बनने के लिए कोर्सेज Course To Become Interior Designing

  • बैचलर इन इंटीरियर डिजाइन
  • बीए इन इंटीरियर आर्किटेक्चर एंड डिजाइन
  • डिप्लोमा इन इंटीरियर स्पेस एंड फर्नीचर डिजाइन
  • पीजी डिप्लोमा इन इंटीरियर डिजाइन
  • बैचलर ऑफ फाइन आर्ट (बीएफए) प्रोग्राम
  • स्कूल ऑफ इंटीरियर डिजाइन
इंटीरियर डिजाइनिंग बनने के अवसर कहा हैं Opportunities To Interior Designing

एक इंटीरियर डिजाइनर के रूप में आजकल काफी लोग करियर की तलाश कर रहे क्योंकि आजकल इंटीरियर डिजाइनर का काफी चलन हो गया है. आजकल हर कोई अपने ऑफिस या घर आदि जगहों में एक इंटीरियर डिजाइनिंग करवाना चाहता है इसके लिए लोग किसी अच्छे इंटीरियर डिजाइनर की तलाश करते हैं यदि आपको इस क्षेत्र में रूचि है तो यह आपके लिए करियर बनाने का अच्छा ऑप्शन है. इस क्षेत्र में करियर की शुरुआत करने के लिए आप किसी प्राइवेट डिजाइन फर्म या थियेटर, पब्लिक इंस्टीट्यूशंस जैसे टाउन प्लानिंग ब्यूरो, मेट्रोपोलिटन और क्षेत्रीय विकास डिपार्टमेंट आदि में कार्य कर सकते हैं.

इंटीरियर डिजाइनिंग के क्षेत्र में सैलॅरी Interior Designing Salary

इंटीरियर डिजाइनिंग के क्षेत्र में यदि आप जॉब करते हैं तो इसमें कोई फिक्स सैलरी की कोई सीमा नहीं है. इंटीरियर डिजाइनिंग की सैलरी उसकी क्रिएटिविटी पर निर्भर करती है. यदि आप इंटीरियर डिजाइनिंग अच्छी कर लेते हैं तो आप शुरूआती तौर पर इस क्षेत्र में कार्य करके  6000 से लेकर 10000 रुपये प्रति माह आसानी से कमा कसते हैं. यदि आपने किसी प्रतिष्ठित इंस्टीट्यूट से इंटीरियर डिजाइनिंग का कोर्स किया है तो इसमें क्षेत्र में आपकी सैलरी इससे भी अधिक हो सकती है.

इंटीरियर डिज़ाइनिंग के लिए शिक्षण संस्थान Interior Designing Institute

  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन डिजाइन, चंडीगढ़
  • कारावली कॉलेज, मैंगलोर
  • स्कूल ऑफ इंटीरियर डिजाइन, अहमदाबाद
  • सेंट फ्रांसिंस इंस्टीट्यूट ऑफ आर्ट ऐंड डिजाइन, मुम्बई
  • अविनाशिलिंग इंस्टीट्यूट फॉर होम साइंस और हायर एजुकेशन फॉर वुमेन, नई दिल्ली
  • साउथ दिल्ली पॉलिटेक्निक फॉर वुमेन, दिल्ली
  • यूबी ऐंड ए आर्किटेक्चर ऐंड एजुकेशन, नोएडा
  • रचना संसद स्कूल ऑफ इंटीरियर डिजाइन, मुम्बई
  • आर्क इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन ऐंड डिजाइन, जयपुर

प्रश्न1. इंटीरियर डिजाइनिंग क्या है?

उत्तर. घर की साज-सजावट के साथ-साथ ऑफिस, दुकान तथा अन्य प्रकार के भवनों की सजावट को अच्छी तरह करना ही इंटीरियर डिजाइनिंग कहलाता है.

प्रश्न2. इंटीरियर डिजाइनिंग में करियर बनाने के अवसर कहा-कहा है?

उत्तर. प्राइवेट डिजाइन फर्म या थियेटर, पब्लिक इंस्टीट्यूशंस जैसे टाउन प्लानिंग ब्यूरो, मेट्रोपोलिटन और क्षेत्रीय विकास डिपार्टमेंट आदि जगहों पर रोजगार के क्षेत्र हैं.

प्रश्न3. इंटीरियर डिज़ाइनिंग के लिए शिक्षण संस्थान कौन-कौन से हैं?

उत्तर. नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन डिजाइन, चंडीगढ़, कारावली कॉलेज, मैंगलोर, स्कूल ऑफ इंटीरियर डिजाइन, अहमदाबाद, सेंट फ्रांसिंस इंस्टीट्यूट ऑफ आर्ट ऐंड डिजाइन, मुम्बई, अविनाशिलिंग इंस्टीट्यूट फॉर होम साइंस और हायर एजुकेशन फॉर वुमेन, नई दिल्ली आदि.

प्रश्न4. इंटीरियर डिजाइनिंग की न्यूनतम शैक्षिक योग्यताएं क्या हैं?

उत्तर. इंटीरियर डिजाइनिंग के लिए बारहवी में आपके विषय गणित, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान तथा इंग्लिश होने चाहिए जिनमें कम से कम में 55 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं