आरटीओ ऑफिसर कैसे बने How to become a RTO Officer Inspector

आरटीओ ऑफिसर बनने की पूरी जानकारी RTO Inspector  Scope and Opportunities in Hindi

आरटीओ ऑफिसर आरटीओ ऑफिसर कैसे बने- कोई भी सरकारी अधिकारी बनने के लिए आपको उसके अनुसार मेहनत भी करनी पडती है क्योंकि बिना मेहनत किये कुछ भी नही पाया जा सकता है| आज कल सभी लोगो की यही इच्छा रहती है कि वह कोई भी सरकारी नौकरी प्राप्त करे| आवेदन करने के इच्छुक उम्मीदवार इस पद के लिए (opportunities) निर्धारित शैक्षणिक योग्यता एवं अन्य अर्हताओं की पूर्ति करते हों (quality training and assessment services), वे निर्धारित समय-सीमा वाले ही अपना आवेदन  कर सकते है| यहाँ पर RTO Officer कैसे बने? इसके बारे में बताया जा रहा है| जिससे आपको इसके बारे में काफी मदद मिल सकेगी| RTO Officer की नौकरी काफ़ी अच्छी मानी जाती है और इसमें अपना खुद का नाम भी होता है, साथ ही इसमें सैलरी भी अच्छी खासी मिलती है| योग्य और इच्छुक उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अप्लाई कर सकते हैं| युवाओं के पास सरकारी नौकरी पाने का यह सबसे अच्छा मोका माना जा सकता है|

आरटीओ ऑफिसर क्या है? What is a RTO Officer

क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय या क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण (आरटीओ / आरटीए) भारतीय सरकार का संगठन है जो ड्राइवरों के डेटाबेस को बनाए रखने और भारत के विभिन्न राज्यों के लिए वाहनों के डेटाबेस को बनाए रखते है उन्हें आरटीओ ऑफिसर कहते है| जैसे- कही भी सड़क पर देख लीजिये चारों तरफ गाड़िया ही गाड़िया नज़र आती है और इसके लिए ही पंजीकरण भारतीय सरकार के एक विभाग से होती है|

आयकर अधिकारी कैसे बने

जिसे क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (Regional Transport Office) जिसे हिंदी में आरटीओ कहा जाता है|

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता Educational qualification for RTO Inspector

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से 10वी पास की हुई होनी चाहिए और साथ ही high post के लिए ग्रेजुएट (Graduation) पास किया हुआ होना आवश्यक हैं और आरटीओ अधिकारी के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकते है|

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए उम्र सीमा Age limit for RTO Officer Requirement

आरटीओ अधिकारी (RTO Officer) बनने के लिए उम्र सीमा लगभग 21 से 30 साल तक के बीच में होनी चाहिए और OBC उम्मीदवारों के लिए 3 साल की छुट और SC / ST उम्मीदवारों के लिए 5 साल की छुट मिलती है|

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए चयन प्रक्रिया Selection Process for RTO Officer job-

आरटीओ अधिकारी के लिए उम्मीदवारों का चयन कुछ इस आधार पर किया जाता है जैसे-

  1. लिखित परीक्षा (Written Exam)
  2. फिजिकल टेस्ट (Physical test)
  3. साक्षात्कार (Interview)

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए लिखित परीक्षा RTO Officer Written Exam-

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए लिखित परीक्षा 2 घंटे की होती है और पेपर अधिकतम 200 अंक का आता है और साथ ही प्रश्न ऑब्जेक्टिव टाइप (MCQ) के पूछे जाते है| इस पाठ्यक्रम में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय वर्तमान घटनाक्रम, भारत का इतिहास, भूगोल, आर्थिक और सामाजिक विकास, पर्यावरण पारिस्थितिकी, सामान्य विज्ञान, तार्किक तर्क और अंग्रेजी भाषा से परीक्षा में प्रश्न पूछे जाते है|

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए फिजिकल टेस्ट RTO Officer Physical test-

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए फिजिकल टेस्ट होता है| जिसमे आपको फिजिकल फिट रहना अति आवश्यक है|

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए साक्षात्कार RTO Officer Interview

आरटीओ अधिकारी बनने के लिए अंतिम चरण में साक्षात्कार (Interview) होता है, जिसमें उनकी बुद्धि, क्षमताओं, गुणों और मूल्यों के मामले में उम्मीदवार के व्यक्तित्व  के बारे में जाचा जाता है|

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए तैयारी करे Pattern tips for RTO Officer Exams-

(आरटीओ ऑफिसर) क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय की परीक्षा की तैयारी के लिए, उम्मीदवार को सभी करंट अफेयर्स के बारे में पता होना चाहिए| प्रतियोगी की जनरल अवेयरनेस अच्छी होनी चाहिए| समाचार पत्रों को नियमित रूप से पढ़ना चाहिए जिसे परीक्षा में मदद मिल सकेगी| उम्मीदवारों को अंग्रेजी, जी.के. और मूल गणित आदि में अच्छा ज्ञान होना चाहिए क्योंकि पूरी परीक्षा इन विषयों और इसके बाद चयन और साक्षात्कार पर आधारित होती है|

आरटीओ ऑफिसर की सैलरी RTO Officer Department Salary-

आरटीओ अधिकारी के वेतन में कई रैंक शामिल हैं, जो कि उनकी रैंकों के अनुसार अलग-अलग होते है| साथ ही आरटीओ अधिकारियों की सैलरी काफी अच्छी मानी जाती है| आरटीओ ऑफिसर  की सैलरी लगभग ₹20,000 से ₹40,000 तक के बीच में होती है|

आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए आवेदन  Application form for RTO Officer-

आरटीओ अधिकारी (RTO Officer) बनने के लिए आप इसका आवेदन इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर आसानी के साथ ही आवेदन कर सकते है|

FAQ-

प्रश्न- आरटीओ अधिकारी के लिए उम्र सीमा क्या होनी चाहिए?

उत्तर- आरटीओ अधिकारी के लिए उम्मीदवार की उम्र सीमा लगभग 21 से 30 वर्ष तक की होनी चाहिए|

प्रश्न- आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता क्या मागी जाती है?

उत्तर- आरटीओ ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवारों का किसी भी स्ट्रीम से मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय तथा संस्थान से 10वी पास की हुई होनी चाहिए और साथ ही high post के लिए ग्रेजुएट (Graduation) पास किया हुआ होना आवश्यक हैं| आरटीओ अधिकारी के लिए महिलाएं व पुरुष दोनो ही आवेदन कर सकते है|

प्रश्न- आरटीओ ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है?

उत्तर- आरटीओ ऑफिसर के पदो पर चयनित उम्मीदवारों की सैलरी लगभग ₹20,000 से ₹40,000 तक के बीच में होती है|

Question- What is the full form of RTO?

Answer- The full form of RTO is Regional Transport Office.

Question- What is the RTO?

Answer- The (RTO) Regional Transport Office or Regional Transport Authority (RTO/RTA) is the organization of the Indian government responsible for maintaining a database of drivers and a database of vehicles for various states of India.

Question- What is the selection process of RTO Officer Exam?

Answer- Candidates in the RTO Officer Department will be selected on basis as-

  1. Written Exam
  2. Physical test
  3. Interview