Tag Archives: Teacher banne ke liye important exams hindi me

कौनसी परीक्षाएं पास करनी हैं जरुरी टीचर बनने के लिए What are the exams necessary become teacher

कुछ परीक्षाएं जिन्हें पास करने के बाद आप टीचर बन सकते हैं some exams After passing , you can become a teacher

कौनसी परीक्षाएं पास करनी हैं जरुरी टीचर बनने के लिए What are the exams necessary become teacherकौनसी परीक्षाएं पास करनी हैं जरुरी टीचर बनने के लिए अगर आप टीचर बनना चाहते हैं तो उसके लिए सिर्फ कोर्स करना ही जरुरी नहीं बल्कि साथ ही कुछ परीक्षाएं पास करनी जरुरी होती हैं जिन्हें पास करने के बाद आप टीचर बन सकते हैं, कौनसी परीक्षाएं पास करनी हैं जरुरी टीचर बनने के लिए उन परीक्षाओं के बारे में कुछ लोगो को तो जानकारी है कौनसी परीक्षाएं पास करनी हैं जरुरी टीचर बनने के लिए पर कुछ लोग ये सोचते हैं कि सिर्फ कोर्स करने के बाद बिना किसी परीक्षा को पास किये टीचर बन सकते हैं. कौनसी परीक्षाएं पास करनी हैं जरुरी टीचर बनने के लिए जी नहीं कुछ परीक्षाएं होती हैं जो आपको पास करनी होती हैं.

यहाँ पर आपको बताया गया है कि कौनसी परीक्षाएं पास करनी हैं जरुरी टीचर बनने के लिए.

इसे भी पढ़े – कौन से कोर्स है जरुरी टीचर बनने के लिए 

टीचर बनने के लिए कौनसी परीक्षाएं पास करनी होती हैं What exams has to pass to become teacher

टीजीटी और पीजीटी

टीजीटी और पीजीटी परीक्षा राज्य स्तर पर आयोजित की जाने वाली परीक्षा है. सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और दिल्ली (Delhi) में यह परीक्षा लोकप्रिय है. टीजीटी परीक्षा के लिए ग्रेजुएट (Graduate) और बीएड (B.Ed) होना जरूरी होता है तो वही पीजीटी परीक्षा के लिए पोस्ट ग्रेजुएट (Post Graduate) और बीएड डिग्री होनी आवश्यक है. टीजीटी पास करने के बाद शिक्षक छठी क्लास से लेकर दसवीं क्लास (10TH Class) तक के बच्चों को पढ़ा सकते हैं और पीजीटी परीक्षा पास करने के बाद शिक्षक सेकेंडरी और सीनियर सेकेंडरी कक्षा के बच्चो को पद सकते हैं.

टीईटी (टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट) –

भारत के कई राज्यों में टीईटी परीक्षा का आयोजन बीएड और डीएड कोर्स करने वाले विद्यार्थियों के लिए होता है. और कई जगहों पर तो यह जरुरी है कि बीएड करने के बाद शिक्षक बनने के लिए टीईटी परीक्षा को पास करना आवश्यक है. इस परीक्षा में वे विद्यार्थी भी हिस्सा ले सकते हैं जिनका बीएड का रिजल्ट (Result) नहीं आया हो. इस परीक्षा को पास करने के बाद राज्य सरकार कुछ निश्चित सालों के लिए एक सर्टिफिकेट (Certificate) देती है. यह समय ज्यादातर पांच-सात साल का होता है. इस दौरान उम्मीदवार (Candidates) शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन कर सकता है.

सीटीईटी (सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट) –

केंद्रीय विद्यालय, राजधानी क्षेत्र दिल्ली के अंतर्गत आने वाले स्कूल, तिब्बती स्कूल और नवोदय विद्यालयों में शिक्षक बनने के लिए सीटीईटी परीक्षा को पास करना अनिवार्य है. यह परीक्षा सीबीएसई की ओर से आयोजित की जाती है. सीटीईटी परीक्षा में ग्रेजुएट (Graduate) पास और बीएड डिग्री (Bed Digri) वाले विद्यार्थियों को ही प्रवेश मिलता है. इस परीक्षा को पास करने के लिए उम्मीदवार के पास 60 फीसदी अंक लाना जरुरी है. इस परीक्षा को पास करने के बाद उम्‍मीदवार को एक सर्टिफिकेट (Certificate) दिया जाता है जो सात साल तक मान्‍य रहता है.

Read Also – Which course makes you a teacher

यूजीसी नेट

किसी भी कॉलेज में लेक्चरर (Lecturer) की नौकरी पाने के लिए इस परीक्षा को पास करना जरूरी होता है. यह परीक्षा साल में दो बार दिसंबर (December) और जून (June) में आयोजित की जाती है. नेट परीक्षा में तीन पेपर होते हैं. उम्मीदवार अंग्रेजी, हिंदी किसी भी माध्यम से परीक्षा दे सकते हैं. पहले पेपर में जनरल नॉलेज (General Knowledge), टीचिंग एप्टीट्यूट (Teaching Aptitude), रीजनिंग (Resigning) और दूसरे तथा तीसरे पेपर में चुने गए विषय से सवाल पूछे जाते हैं. 

दी गयी सभी परीक्षाओं में से अगर आप किसी भी एक परीक्षा को पास करते हैं तो आप अपनी मनपसंद टीचिंग की नौकरी प्राप्त कर सकते हैं. ये सभी परीक्षाओं में से किसी परीक्षा को पास करने के बाद टीचिंग के क्षेत्र में आपके लिए बहुत से अवसर होते हैं और आप अपनी मनपसंद जॉब प्राप्त कर सकते हैं.

कौनसी परीक्षाएं पास करनी हैं जरुरी टीचर बनने के लिए से संबंधित प्रश्न –

Question – What do you mean by teacher?

Answer – A good teacher is that which shows the right direction to their students. An effective teacher means that a person can relate and communicate to the students in a positive way. Teacher means helping all students to succeed.

प्रश्न – एक शिक्षक का काम क्या है?

उत्तर – एक शिक्षक कक्षा में अधिकांश दिन खर्च करता है, वास्तविक शिक्षण घटक केवल नौकरी का एक हिस्सा है। एक प्रभावी शिक्षक समझता है कि शिक्षण में कई टोपी पहने शामिल हैं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि स्कूल का दिन सुचारू रूप से चलता है और सभी छात्रों को गुणवत्ता की शिक्षा मिलती है।

Question – How many years are taken to complete Ph.D.?

Answer – Now Ph.D. to be done in 6 years.

प्रश्न – पीएचडी की फुल फॉर्म क्या होती है?

उत्तर – पीएचडी की फुल फॉर्म डॉक्टर ऑफ़ फिलोस्पी है.

Question – What is the full form of Ph.D.?

Answer – The full form of Ph.D. is Doctor of Philosophy.

प्रश्न – एक अच्छे शिक्षक के कर्तव्य और जिम्मेदारियां क्या होती हैं?

उत्तर – शिक्षक को छात्रों, अन्य शिक्षकों, माता-पिता और प्रशासन के अधिकारियों के लिए स्पष्ट रूप से बोलने में सक्षम होना चाहिए। शिक्षकों को अपने पाठ में छात्रों को शामिल करने के तरीके खोजने होंगे। इसके अतिरिक्त, शिक्षकों को प्रत्येक छात्र से अधिक प्राप्त करने के लिए अलग-अलग सीखने की शैलियों के साथ काम करना पड़ सकता है। शिक्षक अध्यापन की योजना बनाते हैं और उन योजनाओं को पूरी कक्षा में, अलग-अलग छात्रों या छोटे समूहों में पढ़ते हैं.

Question – What is the full form of B.Ed.?

Answer – The full form of B.Ed. is Bachelor of Education.

प्रश्न – बी.एड की फुल फॉर्म क्या होती है?

उत्तर – बी.एड की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ एज्युकेशन है.

Question – What is the full form of D.Ed.?

Answer – The full form of D.Ed. is Diploma in education.

प्रश्न – डी.एड की फुल फॉर्म क्या होती है?

उत्तर – डी.एड की फुल फॉर्म शिक्षा में डिप्लोमा होती है.

Question – What is the full form of N.T.T?

Answer – The full form of N.T.T is Nursery Teacher Training.

प्रश्न – एनटीटी की फुल फॉर्म क्या है?

उत्तर – एनटीटी की फुल फॉर्म नर्सरी टीचर ट्रेनिंग है.

Question – What is TGT and PGT course?

Answer – TGT and PGT exams are to be held at the state level. The test is most popular in Uttar Pradesh (UP) and Delhi (Delhi). After passing the TGT, the teacher can teach from the sixth class to the tenth class (10th class) and after passing the PGT exam, the teacher can teach the secondary and senior secondary class students.

प्रश्न – टीजीटी और पीजीटी के लिए शैक्षिक योग्यता क्या होनी चाहिए?

उत्तर – टीजीटी परीक्षा के लिए ग्रेजुएशन और बीएड (B.Ed) होना अनिवार्य होता है तो वही पीजीटी परीक्षा के लिए पोस्ट ग्रेजुएट (Post Graduate) और बीएड की डिग्री होनी आवश्यक है.

Question – What is the full form of TGT?

Answer – The full form of TGT is Trained Graduate Teacher.

प्रश्न – टीजीटी की फुल फॉर्म क्या है?

उत्तर – टीजीटी की फुल फॉर्म प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक है.

Question – What is the full form of PGT?

Answer – The full form of PGT is Post Graduate Teacher.

प्रश्न – पीजीटी की फुल फॉर्म क्या होती है?

उत्तर – पीजीटी की फुल फॉर्म पोस्ट ग्रेजुएट टीचर है.

Question – Why is B.Ed. become necessary for teachers?

Answer – The state government has made B.Ed. compulsory for teachers of secondary and higher-secondary schools but offered a two-year window from the day of joining to new recruits without the degree. A candidate applying for a teacher job but B.Ed. is a mandatory qualification required for teaching in both the government and private schools.

प्रश्न – शिक्षक की मासिक आय कितनी होती है?

उत्तर – पूर्वस्कूली, प्राथमिक, माध्यमिक और विशेष शिक्षा के शिक्षकों की औसत प्रति वर्ष $ 54,740 अर्जित होती है। अगर हम पूर्वस्कूली शिक्षकों को छोड़ देते हैं, तो वेतन में और भी बढ़ोतरी होती है। प्राथमिक और मध्यम विद्यालय के शिक्षकों की औसत प्रति वर्ष $ 56,420 और माध्यमिक (उच्च विद्यालय) शिक्षकों की औसत कमाई $ 58,170 तक होती है.