माइनिंग इंजीनियरिंग क्या है | खनन इंजीनियर कैसे बने Carrer Opportunities for Mining Engineering field

क्या है माइनिंग इंजीनियरिंग What is Mining Engineering –

माइनिंग इंजीनियरिंग क्या है | खनन इंजीनियर कैसे बनेमाइनिंग इंजीनियरिंग आज के युग में खनन और माइनिंग इंजीनियर (Mining Engineer) की मांग हर क्षेत्र में देखने को मिलती है क्योकि आजकल देश में ईंधन की खपत लगातार बढ़ रही है. खनन-उद्योग (Mining-industry) के विकास के लिए इस क्षेत्र से सम्बंधित जानकारी होनी आवश्यक है.

माइन (Mine) मुख्य रूप से दो प्रकार की होती है – अंडर ग्राउंड माइन (Underground mine) और ओपेन-पिट माइन (Open-Pit Mine).

अंडरग्राउंड माइन (Underground Mine) में ही खनिज (Mineral) मिलते हैं, जिन्हें माइनिंग के द्वारा निकाला जाता है. अंडरग्राउंड माइन के माध्यम से सोने और कोयले को निकाला जाता है, इसके अलावा ओपन पिट माइनिंग (Open pit Mining) द्वारा आयरन (Iron) ओर लाइमस्टोन (limestone), मैग्नीज (Manganese) आदि को निकाला जाता है।

इसे भी पढ़े – कैसे करे इंजीनियरिंग एग्जाम की तैयारी

माइनिंग इंजीनियरिंग शैक्षिक योग्यता Mining Engineering Educational Qualification –

माइनिंग या खनन इंजीनियरिंग में कैरियर बनाने के लिए सबसे पहले उम्मीदवार का किसी मान्यताप्राप्त विद्यालय से साइंस स्ट्रीम में 12 वीं कक्षा पास करना अनिवार्य है. इसके बाद उम्मीदवार माइनिंग से बीटेक (B.Tech), बीई (B.E) और बीएससी (BSC) कोर्स कर सकते है. आईआईटी-जेईई (IIT-JEE) के माध्यम से भी इस कोसे में दाखिला पाया जा सकता है। माइनिंग कोर्स (Mining Course) के अन्तर्गत उम्मीदवार को ड्रिलिंग (Drilling), ब्लास्टिंग (Blasting), माइन कॉस्ट इंजीनियरिंग (Mine Cost Engineering), अयस्क रिजर्व विश्लेषण (Ore Reserve Analysis), ऑपरेशन विश्लेषण (Operation Analysis), माइन वेंटीलेशन (Main ventilation), माइन प्लानिंग (Mine Planning), माइन सेफ्टी (Mine Safety), रॉक मैकेनिक्स (Rock Mechanics), कम्प्यूटर एप्लीकेशन (Computer Applications), इंडस्ट्रियल मैनेजमेंट (Industrial Management) से सम्बंधित जानकारी दी जाती है.

मुख्य रूप से इस कोर्स के तहत उम्मीदवार को खनिज पदार्थों की संभावनाओं (Prospects) का पता लगाना, उनके नमूने एकत्रित करना (To collect their samples), भूमिगत (Underground) तथा भूतल खदानों का विस्तार (Surface mines expand) और विकास करना, खनिजों को परिष्कृत करना (To refine minerals) आदि के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है।

Read Also – How to become mining engineering – Career and opportunity

इंडिया के बेस्ट माइनिंग इंजीनियरिंग संस्थान (Best Mining Engineering Institute in India) –

  1. Abdulkalam Institute of Technological Sciences (Kothagudem, Khammam)
  2. Adarsha College of Engineering (Angul)
  3. Arti Commucation (Indore)
  4. Institute of Technology Banaras Hindu University (Varanasi)
  5. JB Institute of Engineering and Technology (Moinabad, Hyderabad)
  6. National Institute of Technology (Raipur)
  7. Indian Institute of Technology Kharagpur (Kharagpur)
  8. College of Technology and Engineering (Ganeshpura, Udaipur)
  9. Axis Bank (Basirhat)
  10. College of Engineering and Technology (Kalinga Nagar, Bhubaneswar)

माइनिंग इंजीनियरिंग क्षेत्र मे रोजगार के अवसर Job Opportunities for Mining Engineering field –

माइनिंग इंजीनियरिंग क्षेत्र मे रोजगार के अपार अवसर उपलब्ध है. एक माइनिंग इंजीनियर स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (Steel Authority of India Limited), कोल इंडिया लिमिटेड (Cole India Limited), आईबीपी लिमिटेड (IBP Ltd), आईपीसीएल (IPCL), नेवली लिग्नाइट कॉरपोरेशन (Nevali Lignite Corporation), यूरेनियम कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (Uranium Corporation of India) में रोजगार (Job) पा सकते है.

यहाँ पर आपको माइनिंग इंजीनियरिंग क्षेत्र से सम्बंधित उन सभी आवश्यक जानकारियों के साथ परिचित कराया जा रहा है जिनसे आप  माइनिंग इंजीनियरिंग क्षेत्र में अपना सुनहरा कैरियर बना सकते है.

माइनिंग इंजीनियरिंग से सम्बंधित प्रश्न –

प्रश्न – माइनिंग क्या होता है?

उत्तर – माइनिंग को एक तरह से मिनरल फील्ड भी कहते हैं। इसमें उन तकनीक और तरीकों की पढ़ाई होती है जिनसे कई धातुओं के अयस्क खनन के जरिए इकठ्ठा किए जाते हैं। माइनिंग इंजीनियरिंग में धातु, नॉन मेटलिक, मार्बल्स, सॉलिड फ्यूल (कोयला आदि), चूना पत्थर (सीमेंट के लिए), ऊर्जा स्रोत और न्यूक्लियर मटीरियल शामिल होते हैं।

Question – What are the jobs opportunities after graduation?

Answer – There are many jobs opportunities are open for graduation in mining engineering. Students can work for mining and resource extraction companies, though some choose to take positions with groups or regulatory agencies. Graduates students can be designers, managers, engineers, analysts, consultants, and more.

प्रश्न – खनन इंजीनियरिंग के लिए शैक्षिक योग्यता क्या होनी चाहिए?

उत्तर – खनन इंजीनियरिंग के लिए उम्मीदवारो को 12वीं में भौतिक, शास्त्र, रसायन शास्त्र और गणित विषय के साथ पास करने के बाद स्टूडेंट्स देश के बहुत से संस्थानों में खनन इंजीनियरिंग के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इसके बाद विधार्थी चाहे तो बीटेक, बीई (माइनिंग), बीएससी (माइनिंग इंजीनियरिंग) जैसे ग्रेजुएशन कोर्स भी कर सकते हैं और ग्रेजुएशन के बाद एमटेक या एमई जैसे मास्टर्स कोर्स के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं।

Question – What are the job opportunities in private and government sectors after mining engineering course?

Answer – Candidates have employment opportunities in government and private sectors after completed Mining Engineering. Tata Iron and Steel, Reliance Petroleum, Indian Oil, Steel Authority of India, Uranium Corporation of India, Government Mining Corporation, Hindustan Zinc Limited etc can start working in this field.

प्रश्न – माइनिंग इंजीनियरिंग के लिए टॉप 5 बेस्ट इंस्टिट्यूट कौन से है?

उत्तर – माइनिंग इंजीनियरिंग के लिए टॉप 5 बेस्ट इंस्टिट्यूट –

  1. इंडियन स्कूल ऑफ माइंस, धनबाद
  2. बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, वाराणसी
  3. बिहार इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, बिहार
  4. कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजी एंड इंजीनियरिंग, उदयपुर
  5. विवसवर्या रीजनल इंजीनियरिंग कॉलेज, नागपुर

Question – What is the yearly salary package of mining engineering?

Answer – Yearly salary package of mining engineering candidates can earn between 4 and 5 lakh rupees annually. As you get older in this field, income will increase as well. With this, if you are doing research then this income can be even more.

प्रश्न – माइनिंग इंजीनियरिंग करने के बाद कौन कौन सी कंपनियां देती हैं नौकरियां?

उत्तर – माइनिंग इंजीनियरिंग के बाद कोल इंडिया लिमिटेड, टाटा स्टील, रियो टिनटो, वाइजैग स्टील, मोनेट इस्पात, वेदांता, एचजेडएल, एचसीएल, इलेक्ट्रोस्टील, द इंडियन ब्यूरो ऑफ माइनिंग, जियॉलजिकल सर्वे ऑफ इंडिया, आईपीसीएल, नालको, अडानी माइनिंग प्राइवेट लिमिटेड आदि जैसी कंपनियां नौकरिया प्रदान कराती है.

Question – What is mining engineering in easy terms?

Answer – In mining engineering, the mineral substances of the earth are to be found and dig out. Minerals, petroleum, and other substances are included under mining engineering. Mining excavation is mainly to test raw mineral products have to be tested.

प्रश्न – इंडिया के बेस्ट माइनिंग इंजीनियरिंग संस्थान कौन से है?

उत्तर – इंडिया के बेस्ट माइनिंग इंजीनियरिंग संस्थान –

  1. JB Institute of Engineering and Technology (Moinabad, Hyderabad)
  2. National Institute of Technology (Raipur)
  3. Indian Institute of Technology Kharagpur (Kharagpur)
  4. College of Technology and Engineering (Ganeshpura, Udaipur)
  5. Axis Bank (Basirhat)
  6. College of Engineering and Technology (Kalinga Nagar, Bhubaneswar)

Question – What does Mining Engineering Exactly means?

Answer – Mining engineering is the branch of engineering that deals with the identification, extraction, production and processing of valuable minerals from a naturally occurring environment.

प्रश्न – खनन इंजीनियरिंग के कर्तव्य क्या हैं?

उत्तर – खनन इंजीनियर्स के कर्तव्यों में व्यवहार्यता अध्ययन, खदानों का निर्माण, खानों का रखरखाव, इंजीनियरिंग संरचनाओं को डिजाइन करना, खानों के परिवहन और खनिजों के विपणन आदि में वेंटिलेशन और शीतलन शामिल है।

Question – What are the main subjects that are included in the course of mining engineering?

Answer – The main subjects that are included in the course of mining engineering are –

  1. Ore Reserve Analysis
  2. Industrial Management
  3. Mine Cost Engineering
  4. Mine Health and Safety
  5. Environmental Aspects of Mining
  6. Design of Engineering Structures

प्रश्न – खनन इंजीनियरिंग के लिए कौन सी प्रवेश परीक्षा देनी पढ़ती है?

उत्तर – कई प्रवेश परीक्षाएं हैं जो खनन इंजीनियरिंग के लिए प्रवेश प्रदान करती है जैसे –

  1. Birla Institute of Technology and Science Admission Test)
  2. VIT Engineering Entrance Examination
  3. Andhra Pradesh Engineering, Agriculture and Medical Common Entrance Test
  4. Bihar Combined Entrance Competitive Examination

Question – What are the important subjects for mining engineering?

Answer – 10+2 Science with Physics, Chemistry and Mathematics is mandatory for admission into the Mining Engineering course.

प्रश्न – खनन इंजीनियरिंग की तैयारी के लिए कौन सा किताबें सर्वश्रेष्ठ हैं?

उत्तर – खनन इंजीनियरिंग के लिए कुछ किताबे अच्छी है जैसे –

  1. Mining in World History – Martin Lynch
  2. Mining Engineering Analysis – Christopher J Bise
  3. Introductory Mining Engineering – Hartmann
  4. Mining Coal (Junior Reference Books) – John Davey
  5. Elements of Mining Technology Vol 1 – Deshmukh-