मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कैसे करे How to do preparation for Medical Entrance Exam

मेडिकल प्रवेश परीक्षा में सफलता के आसान हिंदी टिप्स Easy ways to preparation for Medical entrance exam

मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कैसे करेमेडिकल प्रवेश परीक्षा मेडिकल के क्षेत्र में भविष्य बनाना आजकल हर विद्यार्थी का सपना बन चूका है, ज्यादा से ज्यादा विद्यार्थियों का सपना होता है मेडिकल क्षेत्र में जाना, पर क्या सभी विद्यार्थी मेडिकल परीक्षा पास करने में सफल हो पाते हैं, बहुत से विद्यार्थी हैं जो बहुत मेहनत करने के बाद भी मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं में सफल नहीं हो पाते हैं.

यहाँ पर आपको बताया गया है कि मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी कैसे करे और आप कैसे सफलता प्राप्त कर सकते हैं.

मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं कि तैयारी करने के आसान तरीके हिंदी में Preparation tips for medical entrance exam in Hindi

विषयो की योजना बनाएं (Plan for Subjects) –

जैसा की सभी जानते हैं कि मेडिकल परीक्षाओं का सिलेबस बहुत ज्यादा होता है, इसलिए पहले से ही उसके लिए तैयारी करलें सभी विषयो की सही तरीके से योजना बनालें और फिर उसके बाद ही उसकी तैयारी करें परीक्षाए शुरू होने से पहले ही अपनी तैयारी करना शुरू करदे और जब आपकी परीक्षाए पास आ जाये तो ज्यादा किताबो को एक साथ पढ़ने की कोशिश न करें इससे आपको अच्छे से कुछ भी याद नहीं हो पायेगा.

इसे भी पढ़े – मेडिकल क्या है मेडिकल के प्रकार कॉलेज कोर्स एवं रोजगार 

कोचिंग क्लास ज्वाइन करें (Join Coaching classes) –

अगर हो सके तो कोचिंग क्लास (Coaching Class) जरूर ज्वाइन करें, क्योंकि वहाँ से आपको बहुत ज्यादा मदद मिलती है अपने सिलेबस को समझने में पढ़ने में और मेडिकल परीक्षा बहुत कठिन भी होती है इसलिए केसचिंग क्लास की मदद जरूर लें, कोचिंग क्लास में आपको वो शॉर्टकट्स बताये जाते हैं जिससे आप अपने प्रश्न पत्र के कठिन से कठिन प्रश्न को भी आसानी से और जल्दी हल कर सकते हैं और सबसे अहम बात यह हैं कि आप अपनी परीक्षा से सम्बन्धित किसी भी समस्या को अपने कोचिंग टीचर (Coaching Teacher) से पूछ सकते हैं या फिर आप अपने क्लास के किसी होशियार छात्र से भी अपनी समस्या के बारे में पूछ सकते हैं. कोअचिंह क्लास ज्वाइन करने से पहले एक बार अपने शहर के प्रमुख और अच्छे कोचिंग क्लास के बारे में पता करलें और ज्यादा से ज्यादा लोगो से सलाह लेकर ही अच्छी कोचिंग क्लास ज्वाइन करें.

अपनी कमजोरी को पहचानें (Identify your weakness) –

अक्सर ऐसा होता है कि कुछ विषय ऐसे होते हैं, जिनमे आप पढ़ने में कमजोर होते हैं और आप उन विषयो को नजरअंदाज करदेते हैं, पर ऐसा ना करें और उन विषयो पर ज्यादा मेहनत करें, अगर आप ऐसा सोचेंगे तो आप कभी भी मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं में सफलता प्राप्त नहीं कर सकते हैं. इसलिए अपनी कमजोरी को पहचानें और उस कमजोरी पर ज्यादा ध्यान दें क्योंकि आपकी वही कमजोरी आपकी परीक्षाओं में असफल होने का कारण बन सकती है. इसलिए सर्वप्रथम जिस विषय में आप कमजोर है उसमे ज्यादा मेहनत करें. 

Read Also – How to do best preparation for medical exams

डॉक्टर्स के आर्टिकल पढ़े (Read Doctor’s Article) –

अगर आप मेडिकल के क्षेत्र में अपना कैरिअर बनाना चाहते हैं, तो समाचार पत्रों, टीवी चेनलों और इन्टरनेट (Internet) में सफल डॉक्टर्स के आर्टिकल आते हैं जिनमे वे बताते हैं कि कैसे मेडिकल परीक्षाओं की तैयारी की जाती है, कैसे सफलता प्राप्त कर सकते हैं आदि, इसलिए डॉक्टर्स के उन आर्टिकल्स (Articals) को जरूर पढ़े. उनसे आपको बहुत मदद मिलती है परीक्षाओं की तैयारी करने में. उन आर्टिकल्स से आपको प्रेरणा मिलती है और आप और ज्यादा मेहनत करना शुरू करते हैं.

पुराने प्रश्नपत्रों को हल करें (Solve the Old Papers) –

पुराने प्रश्नपत्र को हल करने से आपको बहुत ज्यादा मदद मिलती है परीक्षा पैटर्न को समझने में, और कई बार ऐसा होता है कि कई प्रश्न ऐसे होते हैं जो उन्ही पुराने पेपर्स (Old Papers) में से आ जाते हैं. इन पेपर्स को कम से कम 2 या 3 बार अवश्य हल करें. इससे आपको अपनी कमजोरी का भी पता चलता है और आपको पता चल जायेगा कि आपकी तैयारी कितनी हो चुकी है.

खान पान का ध्यान रखें (Eat carefully) –

परीक्षाओं में खाने पीने से मतलब इस प्रकार है कि, अक्सर हम लोग अपने खान पान का ज्यादा ध्यान नहीं रखते हैं कभी भी कुछ भी खा लेते हैं, जो कि हमारे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है, जैसे जब आप पढ़ाई करने बैठते हैं उससे पहले ज्यादा खान पान का सेवन ना करें और ज्यादा तेल वाला कहना ना खाये, इससे आपको नींद आने लगती है और आप अपनी पढ़ाई सही प्रकार से नहीं कर पाते हैं. जब तक आपकी परीक्षा खत्म ना हो जाये तब तक बहार का खान बिलकुल छोड़ दें क्योंकि उससे आपकी तबीयत कभी भी खराब हो सकती है, इसलिए परीक्षाओं के समय में खान पान का ध्यान अवश्य रखे. अगर आप चाहते हैं कि आप अपनी मेडिकल प्रवेश परीक्षा में सफलता प्राप्त करें तो दिए गए सभी तरीको के अनुसार अपनी पढ़ाई शुरू करदे, आप अवश्य सफल होंगे क्योंकि सभी दिए गए तरीके आपको मेडिकल प्रवेश परीक्षा में सफलता प्राप्त करने में मदद करते हैं. 

मेडिकल प्रवेश परीक्षा से संबंधित प्रश्न –

प्रश्न – क्या है मेडिकल प्रवेश परीक्षा?

उतर – ऑल इंडिया प्री-मेडिकल टेस्ट / प्री-डेंटल एंट्रेंस टेस्ट (अब एनईईटी-यूजी द्वारा प्रतिस्थापित एआईपीएमटी) भारत में वार्षिक मेडिकल प्रवेश परीक्षा थी। यह परीक्षा केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई), दिल्ली में एमबीबीएस और बीडीएस पाठ्यक्रम में प्रवेश करने के लिए पूरे देश में कई मेडिकल कॉलेजों में आयोजित की जाती है.

Question – What is the minimum and maximum age limit for medical entrance exam?

Answer – The minimum and maximum age limit for medical entrance exam is between 17 – 25 years.

प्रश्न – न.इ.इ.टी क्या होता है?

उतर – न.इ.इ.टी जिसे नीट भी कहते हैं वो मेडिकल का मैं एंट्रेंस एग्जाम होता हैं जिसे पास करना आवश्यक होता हैं| इसको 2016 में हाई कोर्ट द्वारा लागू किया  गया था| इसको पास करना बहुत ही मेहनत का काम है|

Question – What are the best ways by which we can clear the NEET exam easily?

Answer – The best ways by which we can clear the NEET exam easily are –

  1. Make proper plans in a right way so that you can give equal time to all the subjects.
  2. As many famous and big doctors, their online articles are available and take tips from them.
  3. In which subject you are weak, give more time to that subject.
  4. Try to study with many old paper questions as possible.
  5. There are many good coaching classes in today’s time where preparations for better medical care are done.
  6. You can prepare any of those coaching and make a good medical entrance exam.

प्रश्न – मेडिकल कोर्स की तैयारी करने के लिए कौन से महत्वपूर्ण कोर्स होते है?

उतर – मेडिकल कोर्स की तैयारी करने के लिए तीन महत्वपूर्ण कोर्सेस होते हैं – ऍम.बी.बी.स, बी.एच.एम्.अस और बी.डी.अस.

Question – What is the full form of MBBS?

Answer – The full form of MBBS is Bachelor of Medicine, Bachelor of Surgery.

प्रश्न – एम.बी.बी.एस की फुल फॉर्म क्या होती है?

उतर – एम.बी.बी.एस की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ मेडीसिन, बैचलर ऑफ सर्जरी है.

Question – What is the full form of B.H.M.S?

Answer – The full form of B.H.M.S is Bachelor of Homoeopathic Medicine and Surgery.

प्रश्न – बी.एच.एम. एस की फुल फॉर्म क्या है?

उतर – बी.एच.एम. एस की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ़ होम्योपेटिक एंड सर्जरी है.

Question – What is the full form of BDS?

Answer – The full form of BDS is Bachelor of Dental Surgery.

प्रश्न – बीडीएस की फुल फॉर्म क्या है?

उतर – बीडीएस की फुल फॉर्म बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी है.

Question – What is the difference between MBBS, BHMS and BDS?

Answer – Those who give entrance exams in today’s time want to do MBBS course. This course is of 5 years. Whereas for BHMS the name of this course is Bachelor of Homeopathic and Surgery. It is also an under graduate course that is of 5 years old. This is the second most popular medical course. For BDS this medical course is the third most popular medical course. This means Bachelor of Dental Surgery. This is also an undergraduate course. This course is of 4 years. If you have a good rank in the entrance exam, then you can do this course.

प्रश्न – मेडिकल एग्जाम की तैयारी करने के लिए बेस्ट टिप्स?

उतर – मेडिकल एग्जाम की तैयारी करने के लिए सबसे पहले आप विषयो की योजना बनाएं अगर हो सके तो कोचिंग क्लास जरूर ज्वाइन करें, क्योंकि वहाँ से आपको बहुत ज्यादा मदद मिलती है अपनी कमजोरी को पहचानें और उस कमजोरी पर ज्यादा ध्यान दें क्योंकि आपकी वही कमजोरी आपकी परीक्षाओं में असफल होने का कारण बन सकती है. डॉक्टर्स के आर्टिकल पढ़े और पुराने प्रश्नपत्रों को हल करें इन सबके साथ ही खान पान का विशेष ध्यान रखें जब तक आपकी परीक्षा खत्म ना हो जाये तब तक बहार का खान बिलकुल छोड़ दें क्योंकि उससे आपकी तबीयत कभी भी खराब हो सकती है, इसलिए परीक्षाओं के समय में खान पान का ध्यान अवश्य रखे. 

Question – How to crack medical exam without coaching?

Answer – Here we provide you some best tips to crack medical exam without coaching –

  1. Give equal amount of time for each subject.
  2. Remember to keep the small breaks between studies.
  3. Always makes notes of important points.
  4. Try to find out the topics which are frequently asked and give more priority to them.
  5. Take your seniors advice who have attempted or cleared Medical exam
  6. Take a highlighter and mark the important points.
  7. Use the NCERT books for preparation.
  8. Self-evaluation is compulsory.
  9. Do not take stress.
  10. Try to solve the previous question paper.

प्रश्न – मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी करने के लिए किताबें कौनसी होती है?

उतर – मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी करने के लिए किताबें –

  1. जीव विज्ञान
  2. एनईईटी – रसायन
  3. 12 साल का सोल्यूड पेपर सीबीएसई एआईपीएमटी और एनईईटी
  4. एनईईटी गाइड बायोलॉजी 2018
  5. सेल्फ स्टडी गाइड एनईईटी

Question – Top 5 medical colleges in India?

Answer – The top 5 medical colleges in India are –

  1. All India Institute of Medical Sciences (AIIMS Delhi)
  2. Maulana Azad Medical College
  3. Armed Forces Medical College (AFMC), Pune
  4. All India Institute of Medical Sciences (AIIMS), Bhubaneswar
  5. KJ Somaiya Medical College & Research, Mumbai

प्रश्न – उत्तराखंड के टॉप 5 मेडिकल कॉलेज कौन से है?

उतर – उत्तराखंड के टॉप 5 मेडिकल कॉलेज –

  1. अखिल भारतीय चिकित्सा विज्ञान संस्थान, ऋषिकेश
  2. स्वामी राम हिमालय विश्वविद्यालय, देहरादून
  3. पतंजलि आयुर्वेद कॉलेज, हरिद्वार
  4. सरकारी मेडिकल कॉलेज, नैनीताल
  5. हिमालयन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस