विदेश में पढ़ाई की तैयारी कैसे करें आसानी से How to prepare for study in abroad

विदेश में पढ़ाई करने के लिए कैसे करें तैयारी How to do preparation for study in Foreign

विदेश में पढ़ाई की तैयारी कैसे करें आसानी सेविदेश में पढ़ाई आजकल का युवा वर्ग महत्वकांशी के साथ-साथ जागरूक भी हैं, विदेश में पढ़ाई जा कर करना सपना लगभग -लगभग बहुत से छात्रों व छात्राओ का होता है. अपने उज्जवल भविष्य के लिए वे विदेश में जाकर पढ़ाई करना चाहते हैं. परंतु बहुत से विद्यार्थी अपनी कुछ कमियों के कारण विदेश में पढ़ाई जाकर करने से रुक जाते हैं.

यहाँ पर आपको बताया गया हैं की कैसे आप विदेश में पढ़ाई की तैयारी कर सकते हैं. क्या करना पड़ेगा आपको विदेश में पढ़ाई करने के लिए और कैसे आप विदेश में जाकर अपने भविष्य को उज्जवल बना सकते हैं.

कैसे करें मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी आसानी से
कैसे करें इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग परीक्षाओं की तैयारी

विदेश में पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों से बात करें (Talk to students studying abroad) –

आपके आस-पास या आपकी जान पहचान में कोई भी ऐसे व्यक्ति हो जो विदेश में पढ़ाई कर चुके हो या फिर कर रहें हो तो उनसे मिलकर बात करें और उनसे पूछे की उन्होंने कैसे तैयारी की थी और क्या-क्या किआ था विदेश में पढ़ाई करने के लिए. इससे आपको बहुत अंदाजा मिल सकता हैं विदेश में पढ़ाई करने के लिए उसके बाद ही आप अपनी पढ़ाई करने की शुरुवात करें. विदेश में पढ़ाई कर रहें बच्चो से जानकारी लेने से आपको उनके संघर्ष और सफलताओ का पता चलता है और आपको भी आसानी होती है समझने में.

खर्चो पर ध्यान दें (Focus on expenses) –

खर्चो पर ध्यान से मतलब यह है कि अगर आपका सपना है विदेश में जाकर पढ़ाई करने का तो अपने होने वाले खर्चो पर ध्यान रखें अर्थात फालतू के खर्चे ना करें क्योंकि विदेश में जाकर पढ़ाई करने के लिए बहुत पैसों की जरुरत होती है अगर आप पहले से ही अपने खर्चो को व्यवस्थित रखेंगे तो आपको बाद में परेशानी नहीं होगी. और इसके अलावा विदेश में पढ़ाई करने के लिए विद्यार्थियों को छात्रवती या लोन भी मिलता है जिसके लिए आप आवेदन कर सकते हैं.

विदेश जाने हेतु आवश्यक दस्तावेजो की तैयारी करलें (Preparation of documents necessary to make going abroad) –

अगर आपने तय करलिया है कि आपको विदेश में जाकर पढ़ाई करनी है तो आपको विदेश जाने हेतु आवश्यक दस्तावेजो को पहले से ही तैयार करलेना चाहिए. सर्वप्रथम आप जिस भी देश में पढ़ाई करने के लिए जाना चाहते हैं पहले उस देश का पासपोर्ट (Passport) आपके पास होना आवश्यक है. कई देश विद्यार्थी वीजा भी देते हैं अगर आप जिस देश में जा रहें हैं और वहाँ इसकी सुविधा हैं तो आपको बहुत पहले ही वीजा के लिए आवेदन करना होगा. और यह भी पता करलें कि आपका वीजा उतने समय तक है, जितने समय तक आपको वहाँ पढ़ाई करनी हैं, ये सभी बहुत महत्वपूर्ण बाते हैं जो आपको ध्यान में राखी जरुरी हैं.

Read Also – How to do preparation for doing study in abroad or foreign

अपने पहचान वालो से संपर्क करें (Contact with own identity) –

जब आपकी तैयारी हो जाये विदेश जाने कि तो, विदेश जाने से पहले सर्वप्रथम अपने रिश्तेदारों, आस-पड़ोस और अपने मित्रो को बता दें क्योंकि ऐसा हो सकता है कि उनके कोई पहचान वाले वहाँ रहते हो जहा आप पढ़ने जा रहें हैं इससे आपको और भी आसानी हो जाएगी और आपको ज्यादा घबराहट भी नहीं होगी नए जगह जाने से. क्योंकि आपको वहाँ अपने साथ के लोग मिल जायेंगे. और आप अंजान जगह पर उनसे कभी भी किसी भी प्रकार की मदद ले सकते हैं.

विदेश पढ़ने जाने से पहले कुछ ध्यान रखने योग्य बाते (Some things to keep in mind before going abroad) –

  1. विदेश जाने से पहले एक बार वहाँ के बैंको की जानकारी लेले क्योंकि हो सकता हैं आपके देश की बैंकिंग में और वहाँ की बैंकिंग में अंतर हो.
  2. आप विदेश में जिस जगह जा रहें हैं उस जगह के माहौल के बारे में जानकारी प्राप्त करलें, ताकि आपको बाद में वहाँ परेशानी ना हो.
  3. जिस देश में जा रहें हैं उस देश की भाषा को अच्छे से समझ लें, एक डिक्सनरी लेले.
  4. विदेश में जाकर अपने देश के संपर्क में हमेशा रहें

दिए गए सभी तरीको के अनुसार आप जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. कि कैसे आप विदेश में पढ़ाई करने की तैयारी कर सकते हैं. और दिए गए सभी तरीको को अपनाये और विदेश जाने से पहले सभी महत्वपूर्ण बातो का ध्यान दें.

विदेश में पढ़ाई से सम्बंधित प्रश्न –

प्रश्न – वीजा क्या है?

उत्तर – यह किसी देश द्वारा किसी व्यक्ति द्वारा अधिकृत रूप से यात्रा के देश से औपचारिक रूप से अनुमति के लिए पूछने वाला एक दस्तावेज है, एक निर्धारित समय के लिए एक विशिष्ट कारण के साथ। सभी देशों के पास अपने वीज़ा कानून हैं और यह देश पर निर्भर है कि एक यात्री को उसे अनुमति देने के लिए या नहीं। वीजा प्रवेश की गारंटी नहीं देता है, अनुमति मिलने के बाद व्यक्ति को भी अस्वीकार कर दिया जा सकता है।

Question – What is the full form of VISA?

Answer – The full form of VISA is Visitors International Stay Admission.

प्रश्न – वीसा का फुल फॉर्म क्या है?

उत्तर – वीसा का फुल फॉर्म विज़िटर इंटरनेशनल स्टे प्रवेश है.

Question – How many types of visa are there?

Answer – There are so many types of visa are there like –

  1. Tourist VISA – It is required when a person wants to visit a country for tourism such as recreation, sightseeing or to meet friends and relatives.
  2. Student VISA – It is required when a student wants to visit a country for higher education.
  3. Employment VISA – It is required when you want to work in a country.
  4. Business VISA – It is required when you want to do business in a country.
  5. Medical VISA – It is required when you are seeking medical treatment in a reputed hospital of a country.
  6. Emergency VISA – It is needed when there is an emergency such as death, accident or serious illness of parents, siblings and children or any other emergency situation.

प्रश्न – वीसा कितने प्रकार के हो सकते है?

उत्तर – एक वीज़ा कई प्रकार के हो सकते हैं जैसे अध्ययन, व्यवसाय या काम जैसे, यदि आप अमेरिका में पढाई करना चाहते हैं, तो आपको अमेरिका के एक अध्ययन वीसा की आवश्यकता होगी.

Question – What is MasterCard?

Answer – MasterCard is a mode of payment processing. Accepted in more countries and territories (210) than the UN recognizes (206), MasterCard technology powers payments all over the world. Everything that isn’t ‘priceless’ can be bought with MasterCard.

प्रश्न – वीज़ा या मास्टरकार्ड में से अधिक स्वीकार्य क्या है?

उत्तर – जहां तक अधिकांश उपभोक्ताओं का संबंध है, वहां मास्टरकार्ड और वीज़ा के बीच कोई वास्तविक अंतर नहीं है। वे दोनों व्यापक रूप से दो सौ देशों में स्वीकार किए जाते हैं और यह एक ऐसा स्थान ढूंढने के लिए बहुत दुर्लभ है जो एक को स्वीकार करेगा लेकिन दूसरे को नहीं। हालांकि, न तो वीज़ा और न ही मास्टरकार्ड वास्तव में कोई भी क्रेडिट कार्ड खुद ही जारी करते हैं.

Question – What do you understand by passport?

Answer – A passport is an easily recognized travel document that identifies you and authorizes you to travel.

प्रश्न – वीसा और पासपोर्ट में क्या अंतर होता है?

उत्तर – अंतर्राष्ट्रीय यात्रा और पहचान के लिए किसी देश के नागरिकों को पासपोर्ट जारी किया जाता है। एक पासपोर्ट का उपयोग किसी नागरिकता के देश को सत्यापित करने के लिए किया जाता है। यदि आपके देश से बाहर यात्रा हो रही है, तो यह आपके नागरिकता के देश में प्रवेश पाने के लिए उपयोग किया जाता है। जबकि वीज़ा एक पासपोर्ट के भीतर रखा गया है जो धारक को निर्दिष्ट अवधि के लिए किसी देश में प्रवेश करने, छोड़ने या रहने के लिए अधिकृत अनुमति देता है। कुछ देशों को एक वीज़ा के लिए आवेदन करने से पहले साक्षात्कार या चिकित्सा जांच की आवश्यकता होती है.

Question – To get out of India, a passport is required or a visa?

Answer – For U.S. citizens, some countries only require a passport for re-entry. Other countries may require a visa before entry. You should confirm if a country-specific visa is required before traveling.

प्रश्न – विदेशों में अध्ययन करते समय लाने के लिए क्या क्या चीजें होती है?

उत्तर – विदेशों में अध्ययन करते समय लाने के लिए बहुत सी चीज़े होती है जैसे की – सबसे पहले आप पासपोर्ट और वीज़ा के लिए आवेदन करें उसके बाद एक यात्रा चिकित्सक पर जाएं और यात्रा बीमा प्राप्त करें एक विमान टिकट खरीदें तथा अपने गंतव्य के स्थानीय कस्टम्स, संस्कृति और लोगों को अनुसंधान करें इसके साथ ही अपनी भाषा कौशल को ताज़ा करें और साथ ही पैसो का भी प्रबंध करे और फिर पैकिंग प्रारंभ करें सबसे जरुरी और महवत्पूर्ण चीज़ सेल फ़ोन लेना न भूले जिससे आप अपने परिवार के साथ संपर्क में रहेंगे अपने आप को मानसिक रूप से तैयार करें.

Question – For how many years passport will be valid?

Answer – Passport will usually be valid for 10 years.

प्रश्न – कौन से देश मुफ्त शिक्षा प्रदान करते हैं?

उत्तर – ऐसे बहुत से देश है जो मुफ्त शिक्षा प्रदान करते हैं जैसे –

  1. जर्मनी
  2. नॉर्वे, डेनमार्क, स्वीडन और फिनलैंड
  3. इटली
  4. ग्रीस
  5. फ्रांस
  6. बेल्जियम
  7. अर्जेंटीना

Question – Best tricks and tips things to keep in mind before going abroad?

Answer – Things to keep in mind before going abroad are-

  1. Once you have gone abroad, you can get information about the banks as there is a difference between banking in your country and banking in abroad.
  2. Get information about the environment in which you are going abroad, so that you will not have trouble later on.
  3. Understand the language of the country in which you are going, take a dictionary with you.
  4. While going abroad always stay in touch with your country.